एकता धर्मशास्त्र की अनिवार्यता

“पुस्तक "निम्नलिखित अंग्रेजी से हिंदी में अनुवाद किया गया। अनुवादक Google Talk के माध्यम से हम यह नहीं है कि एक पूर्ण क्षमा अनुवाद हिंदी में मौलिक पुस्तक को अंग्रेजी में”

 

 

एकता धर्मशास्त्र की अनिवार्यता

The Essentiality of Oneness Theology

 

 

Steven Ritchie

 

 

 

क्या यह चिंता का विषय है कि आप किस प्रकार की इसकापूरा मूल्योंके संवर्धन पढ़े गए BAPTIZED?

बाइबल स्पष्ट रूप से हमें सिखाता है कि केवल एक शाश्वत ईश्वर ने खुद को "ईश्वर पिता' के रूप में परिलक्षित सृष्टिकर्ता के पुत्र के रूप में हमारा शरीर, ईश् वर और ईश् वर के रूप में पवित्र आत्मा के रूप में सीढियां उतरकर की उपस्थिति में और कार्रवाई में संव र्धित हेतुदूरचिकित्सा पद्धति है। यद्यपि, हो सकता है कि महामहिम सम्राट की बहुलता है, स्पष्ट रूप से ईश्वर Yahweh और अनेक कार्यों को करने की क्षमता, बाद में हम यह पाते हैं स ९ वे बाइबल में कहीं भी trinitarian शब्दावली जिसमें ईश्वर को तीन अलग अलग अलग बांटती है और दिव्य व्यक्ति हैं।

 

 

यही कारण है कि शब्दावली का प्रयोग कभी बाइबल के बाद trinitarian शताब्दियों के रोमन कैथोलिक चर्च द्वारा विकसित किया गया। बाद में मूल चर्च की स् थापना कर चुका था जी-हजूरी करते फिरते न्यू टेस्टामेंट बाइबल में ९हीं भी हैं तो हमें शब्दों "ईश् वर के पुत्र' या 'पवित्र आत्मा'', "ईश्वर, बल्कि अपने पिता के रूप में प्रयोग करता है.'' क्यों बाइबल कभी trinitarian शब्दावली जैसे "ईश्वर के पुत्र' और 'ईश् वर का कहना है, ''कभी शास्त्र पवित्र आत्मा परमात्मा के पुत्र हैं?'' और ''भगवान के पवित्र आत्मा' है क्योंकि केवल एक ईश् वर, ''पिताजी' (1 की कॉरिनथियंस पॉलिस्टा टीमें भाग 8:6 में साफ कहा गया है कि "यह एक ईश्वर पिता"). यदि ईश् वर' शब्द के स्थान पर 'वॉल्यूंटरी' और 'पुत्र' शब्द के सामने पवित्र आत्मा' यह धारणा यह है कि इसमें तीन छोडने की बजाय एक ही सही, ईश्वर, व्यक्तिगत देवताओं का पिता

 

 

यदि trinitarian धर्मशास्त्र नहीं है तो वह ईश् वर के शब्द बोलने की बाईबल क्यों नहीं हैं-पिता, पुत्र और पवित्र आत्मा है? प्रश्न यह है कि इसका उत्तर में स्पष्ट रूप से पता चलता है कि स् वयं धर्मग्रंथों केवल एक ही नाम का प्रयोग करता है लेकिन वह ईश्वर Yahweh ने अपने कई विभिन्न प्रकार के कार्यों की बहुलता उपाधियों का वर्णन करने के लिए करते हैं. गुण

 

1. ईश् वर कहा जाता है, क्योंकि वह अपने पिता के सृजक हैं, ''हमने एक नहीं, पिता ने एक ईश्वर का सृजन नहीं कर सकते?''

 

2. 10:2 Malachi अमेरिका ईश् वर कहा जाता है क्योंकि एक पुत्र अपने पिता के पख्रपातपूर्णरवैये में स्वयं को बचाने के लिए मांस () : "। . . ईश् वर के प्रति न्यायोचित, मांस की भावना है। . 1" "16:3 टिमोथी अंतर्विष् ट, शुद्ध किया जाएगा और बच्चे के साथ एक पुत्र को वहन करेगा और उन्हें उनके नाम का अनुवाद किया जाता है, जो ईश् वर के आह्वान Immanuel हमारे साथ 1:23 में निवास करता है, ''ईसा' रोए सभी शारीरिक रूप में देवता की संपूर्णता।" 2:Colossians 8,9 नहीं थी, बल्कि सभी सेक ईश्वर के एक-तिहाई की संपूर्णता में विस्तार, ईसा के देवता की है। इसलिए दिव्य आत्मा परमात्मा की भावना को ही ईसा के पिता है।

 

3. ईश् वर के पवित्र आत्मा में उपस्थित हैं, ''संव र्धित उपयोगही कार्यवाहक और ईश् वर की भावना के चेहरे पर उपस्थित रहते हैं।'' की उत्पत्ति 1:2 "ईश् वर की भावना से कार्य किया है।' 'मुझे 33:4 और तत्काल भावना के बीहड़ में उनके" के रूप में चिह्नित 1:12, ''मैं के बीच इसराइल : मु३ो अपने Yahweh ईश्वर और दूसरा नहीं है....। खोजती आ जाएगी और इसे पारित करने के लिए कि मैं अपनी आत्मा को सांसारिक कामनाओं आयी।" जोएल 2:27,28 *सूचना कैसे ईश् वर पिता Yahweh का कहना है कि वे अपनी आत्मा वर्षा से सभी को खासा होता है. बाइबल कभी किसी तीसरे व्यक्ति की आत्मा के पवित्र कॉल्स Yahweh तीन व्यबक्त के भीतर दिव् य देवता है। चूंकि केवल एक दैवी आत्मा का उल्लेख बाइबल Yahweh फिर पवित्र आत्मा को स्पष्ट रूप से ईश्वर पिता की भावना है।

 

4. इसमें केवल तभी किया जा सकता है- "] [भगवान की भावना से एक YAHWEH एक निकाय है और एक भावना है | . . एक भगवान, एक आस्था, एक baptism; एक ईश् वर और पिता की है, जो सभी के माध्यम से ऊपर है और आप सभी है.''

 

 

कहते हैं कि ''एक ही बाइबल' की भावना का ईश् वर है। यदि ईश् वर की भावना को केवल एक भावना और फिर ईसा के पिता और पवित्र आत्मा को एक ही दिव्य आत्मा की Yahweh है।

 

 

सच्ची भावना उपयोगही एक से अधिक नहीं ईसाई दिव् य हैं। यदि यह सच है तो सभी में ईश्वर पिता संव र्धित पवित्र आत्मा को इसी भावना को ईश् वर के पिता है। प्रत्येक जीव को एक भावना है। पुण् य देवताओं, वहीन देवदूतों तथा प्रत्येक मनुष्य ने सिर्फ एक भावना है। चूंकि इस पुस्तिका के गुस्से में साफ कहा गया है कि मनुष् य और ईश् वर के बाद ही किया गया (देवताओं की छवि आध्यात्मिक उत्पत्ति 1:26,27) और यह स् पष् ट है कि सभी मनुष्यों और देवताओं का केवल एक व्यक्ति, प्रति व्यक्ति की भावना इतनी स् वयं ईश् वर की भावना को एक व्यक्ति के रूप में अवश्य ही एक है। यदि वास्तव में दैवी आत्मा परमात्मा के तीन त्रिमूर्ति था तब से प्रत्येक व्यक्ति को तीन अलग अलग भावना त्रिमूर्ति होगा और लोगों!

 

 

यदि एक व्यक्ति, जो दैवी पवित्र आत्मा और पिता भी दूसरे व्यक्ति एक दूसरे दैवी सहास्त्राब्दि के विभिन्न दिव् य व् यक्ति होगा तो तीन दैवी आत् माओं के Yahweh है। मुस्लिमों के पद्य भी नहीं है कि इस बात का खुलासा करने से गुस्से की भावना के एक से अधिक ईश्वर है। को धर्मग्रंथों साफ पता चलता है कि वह ईश्वर के पवित्र आत्मा परमात्मा की भावना है, वही Yahweh पिता और इसी भावना ईसा है।

 

 

"लेकिन आप नहीं हैं, लेकिन असल में मांस की भावना है, यदि आप में निवास करता है, ईश् वर की भावना अब यदि किसी के पास नहीं है, वह भी उनके ईसा की भावना है।''9:8 विविसंहिताएं अब भगवान की भावना है और जहां भगवान की भावना है।"

 

 

2. 3:17 स्वतंत्रता है, ''ईसा की कॉरिनथियंस पॉलिस्टा टीमें भाग है।'' 12:3 *नोटिस भगवान की कॉरिनथियंस पॉलिस्टा टीमें भाग 1:9 से 8 का प्रयोग करता है, ''की भावना को कैसे विविसंहिताएं" और "ईश् वर की भावना ईसा' शब्द को एक और इसी भावना है! 2. 3:17 स्पष्ट है कि हमारे फैसलों की कॉरिनथियंस पॉलिस्टा टीमें भाग तो ''भगवान की भावना है, तब हम 3:12 की कॉरिनथियंस पॉलिस्टा टीमें भाग 1 में हैं, ''भगवान है।" अत: ईसा ने बताया कि हम देखते हैं कि जब हम सभी के लिए योजनाएंविकसित स्पष्ट है कि ''९ ईसामसीह की भावना के साथ धर्मग्रंथों की भावना है.''

 

 

इसीलिए ईसा की भावना के धर्मदूत पीटर रूढि़यों बोलता है जो एक पवित्र उपदेशकों के कर लीजिए कि ईसा के कष्टों और गौरव है: "ईसा की भावना को जो एक कर लीजिए, पैगंबरों के कष्टों को ईसा..." "11:1 पीटर 1 एक निकाय है और एक भावना है | . . एक भगवान, एक आस्था, एक baptism, एक ईश् वर और पिता कौन है, और ऊपर के माध्यम से, आप सभी" "4-6 4:Ephesians, जब वे नीचे आ जाते हैं, तो उनके लिए प्रार्थना की कि उन्हें प्राप्त करने के लिए, अभी तक गिर गया है: (पवित्र आत्मा पर उनमें)" "15,16 8:अधिनियमों को, जिसे परमात्मा की धन-दौलत के नाम से जाना जाता है जो इस रहस्य के गौरव है जो आप के बीच Gentiles; और ईसा की उम्मीद है।'', "27. 1:Colossians हुलसना . . नहीं है, बल्कि यह आप जो बोले।" के रूप में चिह्नित करने के लिए ''11:13 पवित्र आत्मा नहीं है कि आप अपने पिता की बात है, लेकिन की भावना है, तो आप

 

 

बाद में 10:20 की घोषणा की है।' रोए राज्यों में उन्होंने अपने शिष्यों को ईसाई भीतर रहते हैं, ''मैं आपको देंगे जो अपने विरोधियों और बुद्धिमता वाग्मिता नहीं कर पाएंगे.'' का खंडन या विरोध ल्यूक 21:14,15 है। रूढि़यों कहते हैं, ''तब की घोषणा। . 'सत् य' की भावना भी . . में होगा। मॅँ आपको अनुमति नहीं होगी।" मॅँ comfortless जॉन 14:18 के ऊपर धर्मग्रंथों की भावना है कि ''पुख्ता सबूत देने" की सच्चाई की भावना है.'' ''पिताजी, जो ''आप की उम्मीद है।' गौरव ईसा में

 

 

यद्यपि पवित्र आत्मा है, ईश् वर और ईश् वर के पुत्र' शब्द का प्रयोग कभी बाइबल के बाद किए गए मांस Trinitiarian शब्दावली जिसमें कॉल्स" "ईश्वर की घोषणा के पुत्र और पवित्र आत्मा "ईश्वर के पवित्र आत्मा' की भावना सिखाता है कि ईश्वर का केवल एक स्पष्ट बाइबल की जा रही है और दिव्य आत्मा व्यक्ति अथवा व्यक्तियों या दो या तीन न प्राणियों के साथ अलग-अलग अलग मानस और इच्छाआंॊ है। देवता और ईसा की पवित्र आत्मा हैं कि ईश्वर का सार रूप में दैवी selfsame पिता है। रूढि़यों सिखाता है कि तीनों बाइबल साधनों की ईश्वर आध्यात्मिक सार एक selfsame दिव्य आत्मा है, या व्यक्ति है। ईसा ने कहा, ''मैं और मेरे पिताजी हैं।' 'मुझे देखा है कि / देखा है, ''मैं अपने पिता के पहले अब्राहम''', "सत्य की भावना भी /....। मॅँ आपको अनुमति नहीं है तो आप को 14:18 होगा मैं COMFORTLESS जॉन

 

 

यूनानी विद्वान GALATIANS 3:20 राज्यों को स्वीकार किया है कि कोई व्यक्ति है कि ईश्वर शब्द चित्रों के Wuest व्यक्ति की मात्रा के बारे में जानकारी पान क्रमांक 1, 107 यूनानी न्यू टेस्टामेंट, ''अब एक मध्यस्थ नहीं है, बल्कि एक व्यक्ति के हितों का प्रतिनिधित्व करने के बीच जाते है।' एक ईश्वर के अनूसार Brachter Galatians 3:20 निम्नानुसार है:- ''किसी एक व्यक्ति के बीच जाने की आवश्यकता नहीं है, ईश् वर और एक व्यक्ति को अत् यधिक प्रवर्धित हो जाती है.'' भी बाइबिल में लाने का अर्थ यूनानी मूल इस आयत : "अब जाकर intermediator करना और अर्थ है और बीच में एक से अधिक है। सिर्फ एक व्यक्ति के साथ मध्यस्थता नहीं किया जा सकता है।' एक व्यक्ति, ईश् वर

 

 

इतने कैसे कर सकते हैं जो राज्य या ईसाई सम्राट गिरजों कॉल हरेक heretics से इनकार करते हैं कि ईश्वर के तीन व्यबक्तयों की भावना है जब बाइबल ही दिव्य त्रिमूर्ति का प्रयोग कभी ऐसी शब्दावली trinitarian? एक दूसरी खोजने का प्रयास व्यर्थ बाइबल की खोज कर सकते है।' कीशब्दावली Trinitarian एक दूसरे दैवी व्यक्ति क्राइसट कॉल्स कभी बाइबल और न ही कभी एक पवित्र आत्मा को कॉल बाइबल तीसरे दैवी व्यक्ति है। एक खोज लेंगे बाइबल व्यर्थ का प्रयत्न करने के बाद trinitarian शब्दकोष जैसे 'त्रिमूर्ति शाश्वत पुत्र, पुत्री को पुत्र के पुत्र और ईश् वर सदा पूर्वजनित पवित्र आत्मा' तो वास्तव में ईश् वर को तीन दैवी लोगों के लिए यह आवश्यक है कि क्यों इस भाषा का प्रयोग करने के लिए Trinitarians unscriptural ऐसी धारणा है?

 

 

ईसाई धर्मशास्त्र में विश्वासकरना हड़ताल करने पर जोर देते हैं और बाद के बजाय अपने ग्रंथों का प्रयोग करते हुए परिषदों के रोमन कैथोलिक चर्च का वर्णन करते अनिर्वचनीय प्रकृति के सच्चे ईश्वर है। बाइबल में "ईश्वर का कहना है कि सिर्फ ईसा'', "ईश्वर'' ''में 3:16), (1) मांस टिमोथी' शब्द का विस्तार किया गया (जॉन 1:1-14) में निवास करता है, उसे] [ईसा'' तथा" "सभी शारीरिक रूप में देवता की संपूर्णता Colossians (2:8)" का प्रयोग करने के बजाय बाद trinitarian शब्दावली के रोमन कैथोलिक चर्च द्वारा विकसित किया गया है कि पुस्तक के रहस्योद्घाटन] [वेश्या सच्चे ईसाई धर्म-ग्रंथों का प्रयोग किया जाना चाहिए।वे स्वयं ईश्वर का वर्णन करने के लिए ईसा मसीह को बुरा-भला Yahweh है।

 

 

को धर्मग्रंथों क्यों नहीं किया गया था, जो एक शाश्वत पुत्र की बात स्पष्ट सशरीर? इस प्रश्न का उत्तर में स्पष्ट रूप से यह पता चला है। पुत्र को जन्म से पहले ड़ुंड़ी की परिकल्पना की गयी है, और इस संसार के बेटे हैं, ''हमें एक बच्चे का जन्म गींतों में अस्तित्व में हमें एक पुत्र को दिया गया है।''6:9 Isaiah संपूर्णता का समय आ गया है, लेकिन जब उनके पुत्र ने एक महिला के सामने खुदा Galatians 4:4 के लिए..." "देवताओं की का कहना है कि उन्होंने कभी भी आप मेरे बेटे, आज मैं पूर्वजनित? और पुन: मॅँ उनके पिता होगा, और वह होगा।' 1:5 मेरे पुत्र Hebrews

 

 

यहां हम देख सकते हैं कि ईश्वर के पुत्र को धर्मग्रंथों साबित करने के लिए बनाया गया है। एक महिला की 1:5 Hebrews प्रमाणहै कि पिता और पुत्र संबंध नहीं था बल्कि गुजरे जमाने की अनंतता में भविष्य में : "मैं उसके पिता से होगा, और वह होगा।' एक पुत्र Wherefore, मेरे पिता और पुत्र तक शुरू नहीं किया गया था। क्राइसट वास्तव में संबंधों का जन्म हुआ।

 

 

सभी पाठांशों कि बोलने के पुत्र हैं। प्रकृति के इब्रानी धर्मग्रंथ खिलौना क्राइसट कहा जाता है "विश्व के आधार पर मेमना धरों से 13:8) प्रकटीकरण' (हालांकि वह वास्तव में नहीं करते, तब तक वे मर गया. Pilate Pontius के अंतर्गत सूली कॉल प्रतीक्षा में खिलौना जैसा नहीं होगा जो 'ईश् वर (4:17) वे विविसंहिताएं' कहा है : "Isaiah Yahweh क्यों की भावना से प्रेरित' के बजाय 'हमें एक बच्चे का जन्म गींतों में हमें एक बच्चे का जन्म होगा।" अत:, यह यंत्रों के संदर्भ में ईश्वर के पुत्र का उल्लेख न तो किसी भावी खिलौना ओल्ड टेस्टामेंट वास्तविक अस्तित्व के पूर्व के अवतार के रूप में ''शब्द ने मांस।"

 

 

''शब्दों का trinitarian शाश्वत पुत्र' या 'स्व' के पुत्र पूर्वजनित सदा परस्पर विरोधी हैं। एक शाश्वत ईश्वर के पुत्र पुत्र कैसे कर सकते हैं जब शब्द 'पुत्र'' के रूप में परिभाषित किया गया है,''' और "उक्ति संतान उत्तराधिकारी?'' से ईश्वर पिता ने कहा, ''मैं खुद उनके पुत्र] [क्राइसट होगा और वह मेरे पिता का 'पुत्र'', यह स्पष्ट है कि ईश्वर के पुत्र कभी शाश्वत पुत्र। यह सच है कि जबकि देवता का दिव्य आत्मा की Yahweh ईसा मसीह हमेशा एक शाश्वत था परंतु देवता 'पुत्र'' ''व्यक्ति की एक महिला ने कानून के अन्तर्गत 4:4.'' (Galatians Wherefore, बच्चे का जन्म हुआ था और उनके पुत्र दिया गया कि दोनों मानव अपनी मां से अनंत भावना से दैवी और मैरी Yahweh ईश्वर पिता की है। यही कारण है कि वे ''मुज्हो क्राइसट कह सकते है (14) अध्याय में देखा है कि पिता है।'

 

 

'शब्दों जॉन trinitarian' या 'पुत्र' के पुत्र पूर्वजनित सदा शाश् वत आत्म विरोधाभासी है। एक शाश्वत ईश्वर के पुत्र पुत्र कैसे कर सकते हैं जब शब्द 'पुत्र'' के रूप में परिभाषित किया गया है,''' और "उक्ति संतान उत्तराधिकारी?'' से ईश्वर पिता ने कहा, ''मैं खुद उनके पुत्र] [क्राइसट होगा और वह मेरे पिता का 'पुत्र'', यह स्पष्ट है कि ईश्वर के पुत्र कभी शाश्वत पुत्र। यह सच है कि जबकि देवता का दिव्य आत्मा की Yahweh ईसा मसीह हमेशा एक शाश्वत था परंतु देवता 'पुत्र'' ''व्यक्ति की एक महिला ने कानून के अन्तर्गत 4:4.'' (Galatians Wherefore, बच्चे का जन्म हुआ था और उनके पुत्र दिया गया कि दोनों मानव अपनी मां से अनंत भावना से दैवी और मैरी Yahweh ईश्वर पिता की है। यही कारण है कि वे ''कह सकते है कि ईसा मुझे देखा देखा गया है।'' 14) अध्याय (जॉन पिता

 

 

बाइबल में साफ कहा गया है कि पवित्र आत्मा तपाई मैरी मां बच्चे को ईसा मसीह की कल् पना यदि सही है तो ऐसा लगता है कि यह एक त्रिमूर्ति सिद्धांत का कहना है कि एक दूसरे दैवी व्यक्ति 'वर' के पुत्र होगा। ईसा में स्वयं को मैरी दब सशरीर माया माना जाता था मुस्लिमों के पवित्र आत्मा में साफ कहा गया है कि अभी तक घुस मैरी है। कैसे त्रिमूर्ति सिद्धांत का सही समय पर गलत दैवी व्यक्ति आया मैरी? दूसरे, सभी जगह के अनुसार धर्मशास्त्र Trinitarian दैवी व्यक्ति को गर्भाशय के बाहर नहीं, दैवी तीसरे व्यक्ति मैरी! ईसा मसीह तो सभी जगह थी तो एक शाश्वत पुत्र में स्पष्ट रूप से यह बात क्यों नहीं हो रही हैं?हमारे लिए धर्मग्रंथों और यदि लोग किसी सिद्धांत का त्रिमूर्ति को तीन दिव्य सत्य है तो हम क्यों जाना चाहिए कि इस सिद्धांत के रोमन कैथोलिक चर्च पर निर्भर शताब्दियों के बाद मौलिक जी-हजूरी करते फिरते विकसित है? ईश्वर की अनुमति होगी और क्यों के रोमन कैथोलिक चर्च की प्रेरणा के लिए यदि वह एक कथित सच बताना सिद्धांत पर बैठता है, जो प्राचीन काल में सात महिला hilled शहर का दोषी रहा है जो रोम के लाखों लोगों का खून बहाने संतों और शहीदों मसीह?

 

 

"और मैं 1554 महिला के खून के नशे में धुत तीनों संतों और खून के शहीदों ईसा की है। . . यहां यह बात है जो ज्ञान है। 7 शीर्षों के सात पर्वत है, जिस पर बैठता है, स्त्री। चूंकि यह रहस्योद्घाटन।'' 17:6-9 वेटिकन सिटी पर बैठता है, प्राचीन रोम के सात hilled वह बोली की पुस्तक में महिला वेश्या होना चाहिए। अवतरणों के यदि यह सच नहीं है तो क्या है?व् याख् या क् या अन्य संस्था का दोषी रहा है और पृथ् वी के राजाओं के साथ आध्यात्मिक जारज संतान अपने मूर्तिपूजक व्यवहार है? लेकिन जो के रोमन कैथोलिक चर्च का दोषी रहा है।खून के शहीदों के लिए मसीह?

 

 

कैथोलिक चर्च पर एथलीटों की यातना का दोषी है और 50 मिलियन लोगों को अपने सिद्धांतों का अनुसरण करने के लिए बाध्य है। हमारा मानना है कि कैथोलिक चर्च पर क्यों किसी सिद्धांत विकसित सदियों से यदि इस प्रकार के अपराध का दोषी है? अत्याचार चर्च ईसा से कहा, ''आप अपने पिता के कारनामों Pharisees [Setup] शैतान'' नामक एक झूठा और स्पष्ट रूप से शैतान क्राइसट हत्यारा है। चूंकि वह अपने पिता के कारनामों कैथोलिक चर्च स ९या था।उन्होंने] [शैतान को सही नहीं किया जा सकता. क्राइस्ट चर्च इसलिए उन्होंने होना चाहिए कि पुस्तक के रहस्योद्घाटन के बारे में भविष्यवाणी वेश्या चर्च के लगभग 2000 वर्ष पूर्व

 

 

ईसाइयों क्यों पर निर्भर करता है कि जब वे सिद्धांत का प्रतिपादन रोमन कैथोलिक त्रिमूर्ति को 'संत के लाखों लोगों की हत्या कर दी।'' और ''के शहीदों को 17:6) की घोषणा (रहस्योद्घाटन वर्ष में 385 ईस्वी?' के रोमन कैथोलिक चर्च की शक्ति का प्रयोग शुरू करने वाले ईसाई धर्म-निरपेख्र सरकार को निष्पादित trinitarian baptism अस्वीकार. ईसवी सन् 385 के माध्यम से मध्यकाल में लाखों लोगों की मौत के लिए आरोपित heresies ईसाई प्रताडित कियागया और उनके लिए Anabaptism Rebaptism] [ईसा मसीह रक्षा के नाम से एक प्रतिमाओं को।

 

 

यदि यह सच था तब क्यों नहीं Trinitarianism छंद शास्त्र के रहस्योद्घाटन के गुस्से से दूसरे दैवी आत्मा के एक कथित साबित करने के लिए व्यक्ति को 'ईश् वर मनुष् य में सभी जगह थी।'' के पुत्र ईसा मसीह? को धर्मग्रंथों साफ है कि ईश्वर पिता का प्रयोग अपने पवित्र आत्मा को मालसूची स्वयं ईसा है। जॉन 1:1,14 है कि ईश्वर पिता] [मांस बनाया गया है! ईश्वर की जा सकती है? स्वयं व्यक्ति को एक पृथक दिव्य शब्द एक दूसरे के बारे में उल्लेख नहीं किया गया है और दिव्य coeternal coequal व्यक्ति 'ईश् वर के पुत्र' जो मांस बनाया गया है!

 

 

यदि किसी त्रिमूर्ति का सिद्धांत वास्तव में सच है तो यह आवश्यक है कि इतनी प्रयोग करने के लिए क्यों trinitarians unscriptural भाषा को समझाने के लिए शिक्षण? बाइबल के पवित्र आत्मा के तीसरे व्यक्ति की कभी कॉल्स दिव् य तीन व्यबक्त त्रिमूर्ति है। को धर्मग्रंथों स्पष्ट है कि पवित्र आत्मा परमात्मा की भावना है। 4. 4:Ephesians स्पष्ट है कि वहां केवल एक "ईश्वर की भावना है.'' हमें सूचित किया गया है कि ''पिताजी मसीह को बार-बार' (जॉन 14:14:10) में है। 'में लिखा है कि उन्हें ईसा के धर्मदूत पॉल] [निवास करता है, सभी सेक देवता' (2:9) ईश् वर पिता Colossians

 

 

को धर्मग्रंथों रूढि़यों सिखाने के पुत्र क्योंकि ईश् वर की तरह पवित्र आत्मा अपने पिता के विस्तार है। वह ईश्वर पिता की भावना को जो फूलने में स्वयं को खासा होता है. ईसा मसीह पूर्णत: पुरुष मनुष्य अपनी माता के माध्यम से ईश्वर और पूरी तरह मैरी अंडे दैवी बीज उत् पन् न की पवित्र आत्मा है।

 

 

श्रवणों हड़ताल करने का मानना है कि ईश्वर की भावना selfsame पवित्र आत्मा है, क्योंकि इसे बाईबिल के पिता दिव्य बताता है कि केवल एक ही लार्ड और एक आत्मा'' और ''एक ईश् वर और पिता से ऊपर के सभी में और आप सभी' (4-6) 4:Ephesians यदि हम यह कहें कि ईश् वर को विभाजित किया जा सकता है, तो सचमुच एक भावना को दो या तीन दैवी आत्मा व्यक्तियों के साथ अलग-अलग और दिमाग इच्छाआंॊ है। चूंकि व् यक् ति के बाद एक ही ईश्वर और मनुष्य की छवि आध्यात्मिक भावना है, इसलिए भी केवल एक ईश् वर की भावना है।

 

 

[Trinitarianism बाइबल साफ नहीं, तीन दैवी भावना सिखाता धर्मशास्त्र मूल्योंके संवर्धन, या (Arianism Arianism सिखाता है।] व्यक्तियों की घोषणा नहीं की है ईश् वर)। चर्च के इतिहास का इतिहास अधिक से साबित होता है कि अधिकतर को पहले दो शताब्दियों के अंदर रहने वाले ईसाई शीघ्रातिशीघ्र चर्च में विश् वास धर्मशास्त्र और हड़ताल करने के नाम पर एक द्वारा baptism प्रतिमाओं को ईसा मसीह रक्षा है। दोनों को धर्मग्रंथों और लेखों के शीघ्र बिशप्स जो तुरंत सफल सिद्ध ९रना हो ाा स ९ े९वल धर्मशास्त्र हड़ताल करने के मूल जी-हजूरी करते फिरते scripturally सटीक स्थिति को रोका जा सकता है तो हमें विश्वास है कि हम एक ही सत्य के देवता अब्राहम तथा जेकब, Isaac और उपदेशकों जी-हजूरी करते फिरते हैं।

 

 

सच होगा कि जो वास्तव में अपने पति की बहू ईसा मसीह रक्षा है और वे जानते हैं कि उनके नाम और उसके सही पहचान करें! क्राइसट स्पष्ट रूप से कहा, ''मैं जानता हूं, मैंने एक भेड़ से 10:14) अपनी (जॉन अत: सही सही पहचान ईसा का पता होना चाहिए और ईसा की बहू बहू को कानूनी रूप से ताल्लुक रखते हैं क्योंकि वे अपने प्राप्त है और ईसा सहास्त्राब्दि पवित्र नाम.

 

 

"मेरे लिए यह कहना होगा कि में कई दिन भगवान, लार्ड, हमने अपने नाम के बाहर फेंक न भविष् यवाणी राक्षस में अपना नाम, और आपके नाम में बहुत आश्चर्य होता है? और तब आप जानते थे, मॅँने कभी उन्हें घोषित करेंगे, जो आपको मेरे, अराजकता की परिपाटी से रवाना!" "चोर और लुटेरों के कानूनी नहीं जानते हैं जो ईसा', जो अवैध रूप में प्रवेश करने का प्रयास करेंगे। वास्तव में उन सभी नहीं जानता. baptism प्राप्त करने से मना कर अपने पवित्र जल का नाम ''मैं जानता हूं, मैंने एक भेड़ से 10:14) अपनी (जॉन ईसा की लड़की का सच्चा होगा कि वह वास्तव में पति और उसके नाम में प्राप्त करने के लिए शर्म नहीं होगा। baptism पतियों

 

 

क्या है? आस्था केथोलिक विश्वास है कि कैथलिक धर्म ATHANASIAN TRINITARIAN

"हूएवर सहेजा जाएगा; इन सभी बातों से पहले यह आवश्यक है कि वह सार्वलौकिक विश्वास रखें हर एक को छोड़कर जो विश्वास करते हैं; वे नष्ट किए बिना शक undefiled रखने तथा उनके अख़बार निरंतर विश्वास है कि हमें इस प्रकार की है और एक देवता की पूजा कैथोलिक त्रिमूर्ति में और त्रिमूर्ति में एकता है। न तो confounding: लोगों को विभाजित न पदार्थ है। एक व्यक्ति के लिए यह एक दूसरे के पुत्र पिता की पवित्र आत्मा है। . . और यह भी है, या कोई अन् य के बाद त्रिमूर्ति वहसंसद कम या ज्यादा से ज्यादा है: है। लेकिन पूरे तीन व्यक्तियों के साथ सहयोग और coequal अनंत है। इसलिए कि इन सभी बातों में कहा गया है कि वहसंसद त्रिमूर्ति में एकता और त्रिमूर्ति में एकता को पूजा की जाती थी। इसलिए है कि इस प्रकार के विचार करना चाहिए : त्रिमूर्ति सहेजे जाएंगे.

 

 

चूंकि उपर्युक्त trinitarian भाषा का प्रयोग कभी अपने जी-हजूरी करते फिरते हैं फिर भी के रोमन कैथोलिक चर्च द्वारा शाप दिया। ईसाइयों के प्रथम दो शताब्दियों में ईसाई इतिहास का वर्णन इस प्रकार का सिद्धांत या कभी यदि इस बारे में कुछ भी पता नहीं चर्च के प्रथम शताब्दी जी-हजूरी करते फिरते एक त्रिमूर्ति को तीन दैवी व्यक्तियों को फिर से कैसे कर सकते हैं और उनकी पुत्रियों वाले प्रत्येक शाप प्रोटेस्टैन्ट कैथोलिक चर्च में विश्वास नहीं ऐसी सिद्धांत है?

 

 

अधिकांश लोग खुद को नहीं बल्कि केथोलिकों में विश्वास करते हैं कि वे यह महसूस करने में असफल त्रिमूर्ति unscriptural सिद्धांत को दबा कर रखें. अपनी मां के शिक्षण केंद्र कैथोलिक चर्च पर भी उन्हें स्वयं कॉलों में कैथलिक धर्म की Vult Quicumque है। यह कहा गया है कि "यह एक सार्वभौमिक Trinitarian Quicumque Vult यद्यपि हो सकता है कि वह प्रकाश करना एक प्रोटेस्टैन्ट।"

 

 

अत:, प्रोटेस्टैन्ट गिरजों जैसे मैथोडिस्ट, लुथेरान, गिरजाघर सम्बन्धी, Wesleyan, Presbretyrian और यहां तक कि बैपटिस्ट और Pentecostal समूहों, जो दावे को छोड़ दिया है कि वे नहीं जानते कि कैथोलिक चर्च में संलिप्त रहा है क्योंकि उनकी मां के समान आध्यात्मिक जारज संतान ज्यादातर ईसाई सम्राट वहदेखता है [Setup] वेश्या में विश्वासकरना ३ाूठे वधू के सिद्धांत को अस्वीकार करने से इनकार कर ३ाूठी के साथ Trinitarian उपाधियों की बजाय Baptism त्रिमूर्ति को बचाने का नाम है और ईसा मसीह

 

 

४ अक्टूबर को 100 मिलियन अमेरिकी टेलीविजन पर देखा है, 1965 के रूप में भीड़ में स्वागत VI पॉल पोप ने ''हम सबसे सुखद Yankee स्टेड़ियम पर बधाई उसी समय के साथ आदर एवं सत्यनिष्ठा, जो क्रिश्चियन भाई यहां मौजूद हैं, फिर भी हमें अमरीका के साथ हमारे baptism से अलग है। . हम सभी को हमारे दिलों में ही रखना है हमारी प्रार्थना' है ,

 

 

तो आपको आपके द्वारा संयुक्त को कैथोलिक चर्च baptism को कथित तौर पर तीन व्यक्तियों को बचत करने की बजाय त्रिमूर्ति का नाम का सही से अनर्ह कर रहे हैं, आप तब ईसा मसीह वधू के रूप में की गई है, क्योंकि आपने सहास्त्राब्दि वहदेखता बनने की बेटी के रोमन कैथोलिक चर्च है। बहू को सही तरह से बाहर आ ो ईसा की शिक्षाओं का गलत वेश्या चर्च रोम

 

 

इस पुस्तिका के रहस्योद्घाटन कॉल्स को असत्य वधू के ईसा'' की मां Harlots माताओं को हमेशा पुत्रियों अपात्र होगा। क्या आप सचमुच एक कानूनी बेटी के राजा राजा अथवा आपको वेश्या चर्च की बेटी की रोम?

 

 

यदि आप अमरीका के साथ आप कॉल्स बाइबल के तत्कालीन baptism में कैथोलिक चर्च की बेटी की मां और धरती के Abominations Harlots कैथोलिक चर्च पर स्पष्ट रूप से इस बात की पुस्तक की गलतफहमी है वेश्या बाइबल बताता है कि वेश्या पीटती को सही समय पर बैठे हुए दुल्हन की सहास्त्राब्दि शहर के सात पहाड़ियों

 

 

यह कोई संयोग है कि वेटिकन रोम में स्थित है। रोम के लिए जाना जाता है।'' के रूप में शहर के सात शताब्दियों से पहाडियों रहस्योद्घाटन 17:1-9 तक अंक हों.''मैं आपको वेश्या महान पहचानता दिखाई देगा, जो अनेक महान का निर्णय वेश्या जल के साथ जिन्हें राजा पृथ्वी के प्रति प्रतिबद्ध है। जारज संतान . . माथे पर उनके नाम लिखा था और रहस्य, बेबीलोन के महान जननी है और धरती के abominations Harlots मैंने देखा कि महिला, शराब के खून के शहीदों के संतों और ईसा की| . . यहां यह बात है जो ज्ञान है। 7 शीर्षों के सात पर्वत है, जिस पर बैठता है।'

 

 

'रोम नामक महिला प्राचीन रोमन सिक्कों शहर के सात पहाडियों पर बैठकर शाब्दिक न हो।' वेटिकन इन सात हिल्स किंतु यह तथ्य कि वेटिकन सिटी में ही यह सिद्ध हो जाता है कि वह अपनी मां की रोम Harlots है। जो अन्य संस्थानों के साथ आध्यात्मिक जारज संतान पृथ्वी के राजाओं ने प्रतिबद्ध है और दोषी व्यक्तियों का रक्तबहा रही संतों और शहीदों मसीह? इतिहास का प्रमाण है कि हत्या के रोमन कैथोलिक चर्च पर तथा 50 मिलियन लोग हैं। इसलिए वह जो होना चाहिए।यही दिखाता है कि उसे अपनी पत्नी मेमनों है।

 

 

शैतान ने स्पष्ट किया कि कैथोलिक चर्च के भ्रष्ट ईसाई धर्म के आराधक विचारों से प्राचीन बेबीलोन मंेसंभावित परिवर्तनों है। की संकल्पना को तीन दैवी व्यक्तियों की जा रही एक देवता के रूप में पूजा से आया था, न कि प्राचीन बेबीलोन बाईबिल (देखिए) त्रिमूर्ति का उद्भव

 

 

कैथलिक धर्म क्या है? विश्वास है कि कैथलिक धर्म ATHANASIAN TRINITARIAN "हूएवर सहेजा जाएगा; इन सभी बातों से पहले यह आवश्यक है कि वह सार्वलौकिक विश्वास रखें हर एक को छोड़कर जो विश्वास करते हैं; वे नष्ट किए बिना शक undefiled रखने तथा उनके अख़बार निरंतर है। कैथोलिक और आस्था है वह यह है : हम एक देवता की पूजा करते हैं और त्रिमूर्ति में त्रिमूर्ति में एकता न तो confounding: लोगों को विभाजित न पदार्थ है। एक व्यक्ति के लिए यह एक दूसरे के पुत्र पिता की पवित्र आत्मा है।

 

 

. . और यह भी है, या कोई अन् य के बाद त्रिमूर्ति वहसंसद कम या ज्यादा से ज्यादा है: है। लेकिन पूरे तीन व्यक्तियों के साथ सहयोग और coequal अनंत है। इसलिए कि इन सभी बातों में कहा गया है कि वहसंसद त्रिमूर्ति में एकता और त्रिमूर्ति में एकता को पूजा की जाती थी। इसलिए है कि इस प्रकार के विचार करना चाहिए :- सहेजे जाएंगे. त्रिमूर्ति . ..''

 

 

धर्मशास्त्र में हड़ताल करने तथा अंतर्विरोध TRINITARIAN Athanasian कैथोलिक चर्च के इतिहास में यदि यह सच है कि जी-हजूरी करते फिरते संप्रदाय क्यों नहीं की? हमारे लिए यह बताना ग्राफिक रूप पहली शताब्दी इसलिए हम के रोमन कैथोलिक चर्च पर निर्भर होना चाहिए।पांचवी शताब्दी ईसवी के दौर के लिए अमेरिका के बजाय पहली शताब्दी ईसा की जी-हजूरी करते फिरते हैं? और यदि सच्चे थे, पंथ की अटकलों Athanasian क्यों शुरू Trinitarian निर्माताओं के दूसरे और तीसरे शताब्दियों के सभी व्यक्तियों को सिखाने के कथित त्रिमूर्ति में तीन और coequal coeternal नहीं है? एक भी नहीं है जो पहले तीन शताब्दियों में ईसाई लेखक का रिकार्ड में दर्ज है कि विद्यमान चर्च में विश्वास और सहयोग के कथित eternality coequality तीन व्यबक्तयों की त्रिमूर्ति है।

 

 

एक अभिलेख पर होने वाले स्वयंस्फूर्त उत्परिवर्तनों के शीघ्र Trinitarian जस्टिन शहीद हो गया था। दूसरी शताब् दी के मध् य में (1398) में लगभग 408 : तीसरी पंक्ति ने लिखा था-- "Justin Jones" ईसा मसीह . . हमें युक्तिसंगत उसकी पूजा, विद्वान के पुत्र और स् वयं ईश् वर का सही ठहराते हुए उनकी में दूसरे स्थान पर है और वे भविष्यसूचक भावना में तीसरे स्थान पर है| . . "(उद्धृत जबस्टन का पहला ख्रमा याचना) जबस्टन आगे लिखते हैं, "ईश्वर पिता के बाद दूसरे स्थान पर है।"

 

 

हम यहां ईसा मसीह रक्षा की दृष्टि से काफी विरोधाभास की शिक्षाओं के प्रारंभिक Trinitarian धर्मशास्त्र और Trinitarian धर्मशास्त्र के पांचवे शतक है। दूसरी है, जो ईश् वर के जस्टिन मसीह, दूसरे स्थान पर है। (क) और पिता के बाद की स्थिति अधीनस्थ कम शक्तिशाली पवित्र आत्मा तीसरे स्थान पर है (एक बेटे की स्थिति के बाद) अधीनस्थ कम शक्तिशाली सभी इस बात से सहमत है कि वह शीघ्र से शीघ्र Trinitarian लेखकों जस्टिन वे एक दूसरे दैवी व्यक्ति था कि ईसा मसीह रक्षा सिखाया जाता था और उनके साथ पिता से हीन न coequal दूसरी शताब्दी के उत्तरार्ध में लिखते हैं, "Tertullian पिता और पुत्र का एक-दूसरे से भिन् न हैं।'' में उपाय

 

 

था। तीसरी शताब्दी के शिक्षक Trinitarian Origen सिखाया कि ''एक दूसरा ईसा मसीह रक्षा Origen देवता की एक अन्य सामान या पिता से सार' ने लिखा है कि "यह सबसे प्राचीन और Origen क्राइसट सभी प्राणियों का स्पष्ट है कि सिखाया था।' Origen बनाया गया था, जो ईश् वर की घोषणा की है। बाद के रूप में नहीं है और coequal coeternal Trinitarian शिख्रण की पांचवी शताब्दी बाद शताब्दियों के पास सिखाया जाता है।

 

 

अनेक स् पष् ट अंतर्विरोधों के बीच पांचवी शताब्दी और पंथ Athansian की शिक्षाओं के आरंभिक शिक्षा के हर एक ईसाई लेखक के पहले तीन शताब्दियों में चर्च की? इससे भी अधिक आश्चर्यजनक तथ्य यह है कि सभी को जल्द से जल्द पद पर रहते थे, जो क्रिश्चियन apostolic लेखकों के रिकार्ड को जी-हजूरी करते फिरते लगभगतत्कालीन अवधि में ही नहीं, नहीं सिखाएंगे कि ईश् वर के तीन व्यक्तियों, लेकिन वे वास् तव में पढाया दिव्य त्रिमूर्ति धर्मशास्त्र है जो आधुनिक सहमत मूल्योंके संवर्धन Pentecostal धर्मशास्त्र

 

 

बिशप क्लेमेंट रोम के (90-100 फीसदी) 1398 में लिखा था - जो पॉल Philippians 4:3:1 के अनुपात में 14 ------ 5. 2 में पढाया क्लेमेंट कि ईसा की पवित्र आत्मा है। '' यदि हम यह कहें कि | . . की भावना है, तब वह हिंसा ईसा चर्च के पास हिंसा से ईसा है। ऐसे व्यक्ति, जो भावना में हिस्सा नहीं होगा। क्राइस्ट इस मांस प्राप्त करने में सक्षम हो सके क्योंकि अमरत्व जीवन और एक महान पवित्र आत्मा को बारीकी से शामिल है। .

 

 

*"" "ईसा की भावना कॉल्स क्लेमेंट कैसे सूचना और फिर इस भावना को पहचानता है।' 'पवित्र आत्मा क्लेमेंट के शिख्रण के साथ सामंजस् य स् थापित अध्यापन ईसा है। क्राइसट cleary ने कहा कि उन्हें इस बात की भावना के साथ ही था कि सत् य शिष् यों में होगा लेकिन शिष्यों Pentecost है। क्राइसट स्पष्ट रूप से कहते हैं, ''है। . 'सत् य' की भावना भी . . में होगा। मॅँ आपको अनुमति नहीं होगी।" मॅँ comfortless जॉन 14:18

 

 

Hermas पैगंबर, रोम में (करीब 100 ईसवी) का उल्लेख किया गया था - जो में 16:14 के अगुआ थे- भी सिखाया जाता है कि पॉल विविसंहिताएं की भावना के पुत्र और पवित्र आत्मा, एक ही है: "मेरे पास आए और उन्होंने को अपने किए पर के एंजेल ने कहा - 'मेरे लिए यह दिखाना चाहता हूं कि आप क्या आप के साथ बातचीत की है जो पवित्र आत्मा चर्च के रूप में दिखाया गया है , उस भावना के पुत्र ईश्वर है।"

 

 

(क) Trinitarian जैक एन चिंगारियों से अपने अभिलेख को ''आप Hermas की जटिलताएं गड़ैरिया Hermas सुस्पष्ट नहीं कह धर्मवेत्ता है। उसकी शब्दावली में बोलने का पुत्र और ऐसा प्रतीत होता है कि वे इतना उलज्हऊ है जिससे पवित्र आत्मा की पहचान करने के लिए एक ही व्यक्ति के रूप में दो।'

 

 

इसके अलावा, जिसे वेदांत' Hermas द्वारा मान्यता प्राप्त है और 21वीं शताब्दी के प्रारंभ में देरी और दूसरी शताब्दी रोमन बिशप का क्लेमेंट Grapte के सुझाव से सहमत है कि यह आवश्यक है कि यह यंत्रों Pentecostal विश्वास मूल्योंके संवर्धन को पानी में प्रवेश करने के लिए ईसा मसीह रक्षा के नाम पर baptized किंगडम ईश्वर की: ''क्यों है? पानी पर निर्मित टावर जैसा कि मैंने कहा जाने से पहले आपको, आपके एक चालक प्रोफेसरों और आप चाहते हैं।

 

 

९र्मठ जप से संबंधित एक धर्मग्रंथों साथ ही, यदि आप चाहते हैं , तो आप पायेंगे कि सत्य है। सुनने के लिए क्यों टावर पर निर्मित की गई है और अपने जीवन के कारण पानी : पानी के जरिए बचाया जाएगा।" अध्याय 11:5 Hermas/भरतीयों के चरवाहा था, ''आप देखेंगे कि जिन पत्थरों के माध्यम से प्रवेश ड्यौढ़ी के ढांचे में रखा गया प्रतीकात्मक प्रयोग किया जा रहा है) के लिए (लाट टॉवर, लेकिन ऐसा नहीं है कि चर्च के बच् चों को लौटा दिए गए अपने स् थान दर्ज करें? . .

 

 

जब तक वह ईश्वर का कोई में प्रवेश करेंगे पवित्र करता है। यदि आप चाहते हैं कि एक शहर में घुसने के लिए विशेष रूप से स् पष् ट किया गया है और इसके आस-पास शहर में प्रवेश कर सकते हैं, तो आप उस शहर में प्रवेश दिलाने के सिवाय गेटवे द्वारा है? तो फिर आप शहर में प्रवेश नहीं कर सकता है, अत:, किसी व्यक्ति को छोडकर गेटवे के माध्यम से ईश्वर से इतर द्वारा दर्ज कर सकता किंगडम के पुत्र का नाम . . [ड्यौढ़ी प्रवेश द्वार को ईश् वर के पुत्र]; यह केवल प्रवेश लार्ड है। . . उनका नाम दर्ज नहीं कर सकते जो भी प्राप्त नहीं होती।" ईश्वर किंगडम के रूप में उद्धृत गड़ैरिया Hermas के अध्याय 89:वजन 3-8

 

 

, ''उन्हें जरूरत आने के माध्यम से पानी के लिए किया जा सकता है, अन्यथा वे जीवित नहीं दर्ज करें, जब तक कि वे ईश्वर को अपने पूर्व जीवन का हंता हो जाने पर अपास्त अत:, वे भी प्राप्त विनाशलीला 6.8प्रतिशत की मुहर के पुत्र और ईश् वर के प्रवेश का साम्राज्य है। पहले वे मजे के लिए ईश्वर के पुत्र का नाम है, आदमी और जब कभी वह उसे अपास्त कर सील प्राप्त करता है और उसे जीवन हंता हो जाने अत: पानी की मुहर लगा दी है। अत:, उन्हें कम पानी में मारे गए हैं और वे जीवित हैं।'' 93 अध्याय उद्धृत गड़ेरिए के Hermas:2-4

 

 

नोट: Hermas था जो व्यक्तिगत रूप से जानते हैं।प्रथम शताब्दी ईसाई 16:14) के धर्मदूत पाल (विविसंहिताएं चूंस ९ तथामहत्वपू ाव इतिहास के चर्च से प्राप्त किया गया है और पढ़ने में Hermas गल्लाबान साबित करने के लिए सार्वजनिक रूप से 21वीं शताब्दी के प्रारंभ में यह स्पष्ट है कि चर्च के ईसाई रोमन दूसरी शताब्दी के मूल रोमन चर्च का मानना है कि सभी सही संव र्धित किया जाना चाहिए कि ईश् वर के पुत्र के नाम पर baptized आवश्यक सील करने में प्रवेश पाने का ईश् वर है। की शिक्षाओं के बहुमत द्वारा प्राप्त किये गये Hermas ईसाई, जो जी-हजूरी करते फिरते शताब्दी के प्रथम सफल.

 

 

तत्काल चूंकि अधिकांश शीघ्रातिशीघ्र ईसाई, जो जी-हजूरी करते फिरते तुरंत सफल मूल baptism विश् वास के नाम के पुत्र के रूप में प्रवेश पाने के लिए ईश् वर किंगडम के तो यह तर्कसंगत विश् वास था कि यह यकीन करना सिखाया जाता था कि वे मूल जी-हजूरी करते फिरते हैं। अत:, जो जी-हजूरी करते फिरते और ईसाई यथाशीघ्र मूल उन्हें तुरंत सफल नहीं बल्कि लोगों को एक कथित त्रिमूर्ति baptize तीन दिव् य को अकेले नाम के पुत्र का ईश् वर है।

 

 

बिशप का दूसरा Antioch द्वारा नियुक्त किया गया Ignatius धर्मदूत जॉन है। मॅँइस बात से सहमत हूं कि इतिहासकार Ignatius' शब्द का प्रयोग किया जाता था - Monarchian Modalistic धर्मशास्त्र विद्वत्तापूर्णतथा हड़ताल करने के लिए धर्मशास्त्र है। "" को लिखा: Polycarp Ignatius . उन्हें उम्मीद है और ऊपर है, जो उस समय हमारे लिए अदृश्य शाश्वत है, यद्यपि sakes दिखाई गई है और अभी भी हमारे लिए impalpable: अभेद्य, सभी प्रकार के तौर-तरीकों के कष्टों को झेल; हमारे मोक्ष'

 

 

ने लिखा, ''यदि एक बार इतिहासकार वर्जीनिया Corwin बताने के लिए चुना जाना चाहिए, विचारों की प्रवृत्ति को monarchian Ignatius कहा जाना चाहिए।" नोट: यदि Ignatius Modalistic Monarchian था, तब Polycarp] [धर्मशास्त्र में हड़ताल करने के अनुसार धर्मशास्त्र और जल्दी ही मामूली एशिया के ईसाई हैं।

 

 

गिरजे के साथ घनिष्ठ साहचर्य Ignatius में एशिया और गौण पत्र को इन चचोश तथा Smyrna Polycarp बिशप का है। ये चचोश एशिया में मामूली है कि सिर्फ कुछ दशक पहले स्वयं को जी-हजूरी करते फिरते थे की स् थापना की। यदि Ignatius Antioch द्वारा नियुक्त किया गया था, को उन बिशप जान पुरोधा स्वयं में विश् वास नहीं जानते थे और धर्मशास्त्र हड़ताल करने के सिद्धांत का यह एक बहुत ही फिर व्यक्तियों के तीन दिव्य त्रिमूर्ति मजबूत तर्क यह है कि चचोश तथा शेष Ignatius एशिया के गौण होनी चाहिए, जो जी-हजूरी करते फिरते मूल से प्राप्त धर्मशास्त्र हड़ताल करने की स् थापना इन संपन्न है।

 

 

संविधान निर्माताओं ने उनके जीवन की मूल जी-हजूरी करते फिरते छिड़कना रक्त की स्थापना और सच्चे ईसाई गिरजाघरों के सच्चे ईसाई सिद्धांत है। , इस बात पर विश्वास करना मुश्किल है कि चर्च के बहुमत से रवाना तत्काल सभी होनें मूल जी-हजूरी करते फिरते apostasy में आस्था ही मूल जी-हजूरी करते फिरते की मृत्यु हो गई।

 

 

इतिहास का प्रमाण है कि चर्च के बहुमत से पारित श्रद्धापूर्वक संव र्धित ईसाई शीघ्र सच्चाई का प्रकाश है; लेकिन संव र्धित अगली पीढी के रूप में अधिक से अधिक झूठी शिक्षाओं पारित हर पीढ़ी में जोड़ा गया था कि संस्थान के रोमन कैथोलिक चर्च के रूप में विकसित हुई है। इसलिए हम यह देखें कि किस प्रकार की ऐतिहासिक कैथोलिक चर्च पर स्पष्ट रूप से विकसित करना होगा कि सदियों से प्रस्थान में अपनी मूल apostolic मशाल को सत् य है।

 

 

क्राइसट खुद को स्पष्ट रूप से कहा गया है कि अनेक झूठे अध्यापक के रूप में प्रवेश करेंगे। कपडे की भेड़ों में ईसाई धर्म कोमानने भेड़ियों निर्बाध क्षेत्रों में अनेक craftiness भेड़ियों को शिकार के माध्यम से लोगों को विश्वास है कि गलत मंत्रियों असंदेही वहदेखता सच हैं क्योंकि वे केवल पुरुषों को सही शिक्षार्थीयों के प्रकट होने तक बाह्यतः ईसा है।

 

 

अनेक पंथों ईसाई सम्राट को शह और उनके सिद्धांतों और ईसा की सच्ची रेवड़ के समान नहीं होते हैं, यह सच है कि मूल ईसा के रेवड़ जी-हजूरी करते फिरते होनें ईसा मसीह रक्षा के लिएवास्तविक ईसाई प्राप्त करेंगे और शुद्ध में मिलवट रहित गास्पेल सही रूप से सत्य को जोड़ने या बिना detracting शब्द भेड़ के धर्मदूत पॉल ने आगे कहा है कि ये भेड़ियों की कपड़ा नहीं छोडेंगे ईसा के रेवड़ से है। दूसरे शब्दों में प्रवेश के माध्यम से लोगों को धोखा दे ाी शिख्रकों को गलत ३ाूठे सिद्धांतों का स्पष्ट रूप से जानते हैं और उनकी सही गास्पेल योजना की घोषणा की है|

 

 

यह क्यों आवश्यक हड़ताल करने में विश्वास है

कि इससे कुछ धमोश कापालन ईसाई धर्मशास्त्र कई विभिन्न प्रभाग का विरोध कर रहे हैं और पंथों ईसाई गिरजाघरों है। अमेरिका को चेतावनी दी है कि ''नहीं है कि प्रत्येक क्राइसट अभी तक का कहना है कि मुझे, लार्ड, लार्ड होगी, लेकिन उन्होंने आकाश किंगडम के में प्रवेश करता है कि मेरे पिता की है जो 7:21) रोए।" (आकाश में

 

 

बाइबल रूढि़यों सिखाता है कि अधिकांश हीला करना होगा जो ईसा के अंतिम दिनों में नहीं बचा है। ईसा के बाद कहा, ''में प्रवेश द्वार के लिए व्यापक है और द्वार स्ट्रेट चौड़ा होता है, इससे विनाश, जो वहां पर कई हो जाने के कारण, द्वार है और संकीर्ण का मार्ग संकीर्ण, जिसके कारण कुछ भी हो सकता है कि यह पता लगाने और जीवन में स्वीकारा है।'' (7:13,14)

 

 

क्या हमें रोए विचार करना चाहते हैं कि सिखाने के धर्मग्रंथों में अधिकांश संव र्धित ईसाई सम्राट नहीं होगा। जीवन में शाश्वत में घुसे ईश् वर के शब्द भी चेतावनी दी गई सभी प्रोफेसरों ईसाई धर्म को सावधान झूठे वायदे को प्राप्त करने वाले शिख्रकों की पवित्र आत्मा और तक वजूद में उनका नाम लोगों को 'iniquity कर्मकारों के समय ईश् वर की धोखा दिया है.'' की घोषणा की थी, जब उन्होंने चेतावनी दी कि हम सावधान नहीं पर अड़ असत्य है। शैतान का एक मास्टर deceiver ने सफलतापूर्वक छला अधिकांश कोमानने ईसाई हैं। इसलिए यह जरूरी है कि हम जुड़े उतारते जूड़ श्लोक 3 :

 

 

"जब मॅँ आप सभी को लिखने के लिए सब सम्यक् तत्परता बरती ने आम आदमी के लिए आवश्यक था, क् योंकि मोक्ष लिखने को आप और आप उपदेश देना चाहिए कि आपको किसकी फैक्टधळ के विश्वास था जो एक बार डिलीवर गींतों में कभी सोचा भी नहीं था।'

 

 

आपने संतों के कितने लोगों का विश्वास है कि] के लिए लड़ रहे है [परस्परविरोधी विचार सचमुच? इतना ही पॉल पुरोधा के प्रवेश के आने से कितनों को गलत है कि वह राती रात और दिन में अध्यापन चर्च के लिए ''मैं जानता हूं कि इस अश्रुओं के साथ विदा हो जाने के बाद, आप मेरे साधार ा में प्रवेश नहीं बरत रेवड़ भेड़ियों के बीच है| . . अत:, यह याद रखे और अंतरिक्ष में तीन वर्ष के लिए मॅँ हर रात को नहीं रोक दें और दिवस' (29-31):20 अधिनियमों के साथ निकलता

 

 

है कि प्रवेश के गलत सूचना *शिख्रण को ईसाई बनाने के कारण हर रात और दिन 'पॉल पुरोधा चेतावनी आंसू! यदि यह बात नहीं है तो आप यह मानते हैं कि इस सिद्धांत पर हाहाकार क्यों? शिख्रण ३ाूठे पॉल

 

 

पॉल ने लिखा है कि इन नकली प्रेरणा की भावना के शिक्षकों द्वारा किया जाएगा, ''भेड़ियों साधार ा नहीं बरत रेवड़' ईसा है। दूसरे शब्दों में प्रवेश के झूठे शिख्रण कारण होगा और ईसा की तरह नष्ट करने के रेवड़ को छला निर्बाध क्षेत्रों भेड़ियों भेड़ असंदेही पॉल आगे की भविष्यवाणी का मुख्य स्रोत: यह मूर्ति के माध्यम से इस गलत अध्यापन दर्शन, जो कि, ''में निवास करता है, सभी शिख्रण pervert सहास्त्राब्दि के देवता की संपूर्णता।''(Coloss है। 2:8)

 

 

पहले व्यक्ति शब्द का प्रयोग त्रिमूर्ति ने लिखा है कि अधिकांश संव र्धित की दूसरी शताब्दी के अंत में, जिसमें व्यक्तियों की संकल्पना को अस्वीकार कर दिया है।देवता के तीन दैवीय यह दूसरी सदी के बहुमत ने Tertullian Monarchians" "ईसाई Modalistic Tertullian प्रमाणहै कि ऐतिहासिक प्रमाण मिलते हैं और कई अन्य द्वारा उपयोग में भारी घुसपैठ deceiver ईसाई धर्म के सिद्धांत को गलत त्रिमूर्ति है। के धर्मदूत पॉल ने कहा कि जो शैतान का शिकार की युक्तियों को बख्शा नहीं जाएगा!

 

 

शैतान को सही नहीं किया जा सका क्योंकि हार के चर्च ईसा मसीह रक्षा खुलकर किया का प्रयोग करके इसाई घुसपैठ राक्षस असत्य शिख्रकों को बिगाडने के लिए मूल संदेश को स्वच्छ की पहली शताब्दी जी-हजूरी करते फिरते हैं। मूल रूप से जानते हैं कि यह गलत उपयोग की भावना को जी-हजूरी करते फिरते शैतान मंत्रियों को घुसाना ईसाई धर्म के लोगों और उनके द्वारा दिया गया है जो मोक्ष का सही से लूटने की मूल ईसा मसीह रक्षा की जी-हजूरी करते फिरते हैं।

 

 

''आप या दर्शन से कोई लेवी सावधान रहने के बाद छल कपट करना व् यर्थ पुरुषों की परंपराओं के बाद दुनिया के मूल तत् वों और ईसा के बाद नहीं है। उनके लिए में निवास करता है, सभी सेक] [सहास्त्राब्दि के देवता की शारीरिक रूप में" "मैं जानता हूं यह 2:Colossians 8-12 कि बाद में प्रवेश करेगा, आप में मेरी अव ९ाश ारह ा भेड़ियों नहीं बरत रेवड़'

 

 

क्या है? MONARCHIANISM MODALISTIC 20-31 अधिनियमों ईसाई धर्म के समन्वय ईसाई कैसे हरमों के अस्तित्व का पिता, पुत्र और पवित्र आत्मा है? 01 और 93 वीं शताब्दी के रूप में बड़े बहुमत में पढाया जाता है और ईसाई Modalistic Monarchianism है।

 

 

शब्द "Modalistic'', ''शब्द की जड से मोड' का अर्थ है | . एक विशेष रूप से अथवा अंतर्निहित कोई लीला के सार है।' 'हमारी 16 राज्यों में 3:1 टिमोथी ईश्वर है।" अत: Modalistic मांस में शिख्रण सुनता है कि ईश्वर का विश् वास का केवल एक ''1923'' (hypostasis या) जो आवश् यकताएं स् वयं अस्तित्व में यातायात के विभिन्न साधनों की अभी भी जारी है। एक राजा के रूप में मौजूद सदा

 

 

अधीश्वर शब्द का अर्थ है, दो मूल शब्दों से लिया जाता है; मोनोकल्चर मेहराब, अर्थ है; और एक शासक था। अत: उनका मानना है जो ईश् वर में एक Modalistic Monarchian, जो एकमात्र शासक या दैवी व्यक्तियों की अपेक्षा बहुत तीन त्रिमूर्ति है।

 

 

यह एक बहुत ही परिलक्षित है जबकि शेष प्रचालन में यातायात के विभिन्न साधनों की एक अंतर्निहित आत्मा या पदार्थ है। इस प्रकार हमारे स्वर्गीय माता पिता के रूप में मौजूद modally Jehovah (ईश् वर), ईश्वर पिता ने पुत्र (शाश्वत शरीर के रूप में हमारी सीढियां उतरकर) और पवित्र आत्मा (ईश् वर की भावना और की गई कार्रवाई में अपने पिता के प्रसर्जन हेतु अपेक्षाओं)।

 

 

जाहिर है उन्हें कहते हैं क्योंकि वे Monarchian Tertullian मित्रराष्ट्रों के लिए सख्त विश्वास में एक राज्य द्वारा आयोजित की जा रही है, राजा या सम्राट का केवल एक पवित्र, बजाय तीन दैवी व्यक्तियों या मनुष्य यह स्वीकार करने के लिए मजबूर किया गया था कि अधिकांश संव र्धित Tertullian की दूसरी सदी ईसवी थे और Monarchian संव र्धित Trinitarian नहीं:

 

 

''नहीं, लोगों को विश्वास है कि उनके लिए सादे, जिनमें से अधिकांश भाग अज्ञानी और आम --------- क्योंकि शासन के 19-23संव र्धित हमेशा से बहुत से देवताओं पर अडिग विश्वास का एक और सच को विश्व] [काफिर, ईश् वर से गड़ अर्थव्यवस्था में (त्रिमूर्ति) | . . उन्होंने आरोप लगाया कि हमें उपदेश फेंकने से लगातार दो देवताओं तथा तीन देवताओं की| . . हम कहते हैं कि राजतंत्र'

 

 

ध्वनियां परिचित है! आज की हड़ताल करने वालों का उपदेश नहीं ईसाई तीन दिव् य व् यक्तियों की कथित हितैषी में विश्वास का प्रचार कर रहे हैं?देवी-देवताओं के दो और तीन त्रिमूर्ति चूंकि Trinitarian लेखक के शब्द "त्रिमूर्ति" स्वयं स्वीकार किया है कि अधिकांश ईसाई धर्मशास्त्र में हड़ताल करने (Monarchian संव र्धित थे) द्वितीय शताब्दी के अंत में, हम दुष्ठ सरासर Trinitarians में अल्पसंख्यक समुदाय के भीतर 150 वर्षों की मौत के बाद पहली शताब् दी ईसा की जी-हजूरी करते फिरते हैं। यद्यपि मूल्योंके संवर्धन श्रवणों नहीं मानता कि चर्च के इतिहास में यह साबित करने के लिए इस्तेमाल किया जाना चाहिए, यह स्थिति में हड़ताल करने के बारे में जानना हमारे लिए नहीं टिकता अधिकांश 150 वर्षों के भीतर ही रहने वाले ईसाई संव र्धित की मृत्यु के बाद में उसी तरह के मूल जी-हजूरी करते फिरते विश् वास है कि हम आज प्रिय बहुमूल्य आस्था

 

 

चूंकि यह स्पष्ट है कि शिख्रण की पहली शताब्दी धर्मशास्त्र मूल्योंके संवर्धन जी-हजूरी करते फिरते स्वयं युक्तियुक्त है कि अधिकांश शीघ्र ईसाई नहीं स्वचालित रूप से रवाना होने के तत्काल बाद पहली शताब्दी apostolic आस् था, अपने जीवन से vigilantly जी-हजूरी करते फिरते रक्त में चर्च वे स्वयं आधारित है।

 

 

पॉल का लगातार चेतावनियों के बारे में झूठी शिख्रकों के प्रवेश करने और उसकी पुनरावृत्ति आदेशों के बहुमत से सतर्क होना चाहिए सिद्धांत ध्वनि को नसीहत देने के बाद, जो जी-हजूरी करते फिरते शताब्दी के प्रथम सफल. apostolic बिशप्स इसलिए यह उचित है कि अधिकांश शीघ्रातिशीघ्र ईसाई, जो जी-हजूरी करते फिरते मूल सफल रहीं रहेः पहली दो शताब्दियों में जी-हजूरी करते फिरते सिद्धांत के ईसाई इतिहास है।

 

 

दूसरी शताब्दी के प्रारंभ में POLYCARP की शहादत के प्रारंभिक ईसाई, जो जी-हजूरी करते फिरते तुरंत सफल नहीं हुए कई तरह के ईसाई सम्राट के मूल में आज जो ईश्वर का कोई समझौता या उत्पीड़न से बचने के लिए लाभ का फायदा उठाते हैं।

 

 

वह ईश् वर के सच्चे ईसाई किया जाना चाहिए तो वह भी शब्द का पालन करने के लिए तैयार और मृत्यु के उत्पीडन के परिणाम आप को सशक्त बनाना होगा ईसा मसीह रक्षा के प्रति सच्ची श्रद्धा से बाहर आते हैं, ''दुनिया से अलग किया जा सकता है और यह बात साफ-सुथरी नहीं छू'' और" को शुद्ध वधू के सिद्धांत के प्रति वफादार अपने सच्चे ईसा मसीह रक्षा की जाएगी से अलग करके शुद्ध के प्रति निष्ठावान और शेष सभी गन्दा शब्द ईश्वर की शिक्षाओं से ही यह निर्धारित करने के लिए अमेरिका से मूल जी-हजूरी करते फिरते सौंप दिया गया है!

 

 

इससे सिद्ध होता है कि चर्च के इतिहास के इतिहास की अधिकांश बिशप्स जो तुरंत सफल रहीं श्रद्धापूर्वक जी-हजूरी करते फिरते की धारणा के अनुसार परिवर्तित आनवंशिकता को सही गास्पेल का उपदेश देना ही है। जी-हजूरी करते फिरते से प्राप्त था। जीवित लेखन, जो जी-हजूरी करते फिरते Apostolic निर्माताओं को तुरंत सफल मूल की छाया से सिद्ध होता है कि वे एक संदेह नहीं है और धर्मशास्त्र में हड़ताल करने Trinitarian


 

अधिकांश संव र्धित दूसरी शती में खारिज शीघ्र TRINITARIANISM

Tertullian ने लिखा था-- "को विश्वास है कि उनकी सादे लोगों को कॉल करें, जिनमें से अधिकांश भाग अज्ञानी और आम --------- क्योंकि शासन के 19-23संव र्धित हमेशा से बहुत से देवताओं पर अडिग विश्वास का एक और सच को विश्व काफिर, ईश् वर से गड़ अर्थव्यवस्था में (त्रिमूर्ति) | . . उन्होंने आरोप लगाया कि हमें उपदेश फेंकने से लगातार दो देवताओं तथा तीन देवताओं की| . . हम मानते हैं, वे कहते हैं,

 

 

अत:, अधिकांश यथाशीघ्र राजतंत्र' कहलाते थे क्योंकि वे''Monarchians ईसाई को विश्वास है कि ईश्वर की बजाय एक अविभाज्य राजा का विश् वास है कि ईश् वर (तीन) Monarchs दैवी तीन व्यक्तियों को विद्वान इतिहासकारों और अक्सर 'आज के मूल्योंके संवर्धन कॉल ईसाई हैं क्योंकि वे मानते हैं कि ईश्वर है।"

 

 

Monarchians Modalistic भी कर सकता है जो विभिन्न साधनों में से एक दैवी भूपाल कार्य या अस् तित् व सभी उसी समय, जबकि केवल एक दैवी आत्मा या राजा अभी बाकी है। प् लान, मूलवंश Trinitarian श्रवणों में विश्वास ९ी भावना से तीन व्यक्तियों को एक साथ मिलकर शासनकाल में दैवी coequal है। लेकिन यदि वास्तव में दैवी आत्मा के तीन व्यक्तियों को फिर तीन दिव् य राजाओं राजाओं द्वारा जो तीन हैं और यदि है तो वास्तव में एक साथ मिलकर शासनकाल में ईश् वर नहीं है लेकिन तीन देवताओं

 

 

उन बीईएल

 

 

वधू उनकी जान ईसा की सही सही पहचान नहीं होगा कि वह ईश्वर को छला विश्वासकरना और तीन भावना के तीन प्रमुख व्यक्तियों और तीन शव है। इतिहास का प्रमाण है कि बहुत-सी कायल थे कि trinities predated ईसाई धर्म है। ईसा की लड़की को सही नहीं होगा (ईश्वर के बारे में विश्वासकरना वहदेखता शैतान का निहित Yahweh पति)।

 

 

चर्च में baptized सही होगा। नाम पतियों 4:12 राज्यों के अधिनियमों में कोई अन्य नाम की घोषणा की है, लेकिन है| 3:17 आदेशों को सही चर्च Colossians baptized के नाम ९ ईसामसीह नहीं, उपाधियां हैं-पिता, पुत्र और पवित्र आत्मा है। इन उपाधियों नाम नहीं हैं क्योंकि बाइबल कॉल्स शैतान'' ''पिताजी स्वयं एक' और 'मनुष्य का आह्वान दुष्ट बाइबल के बेटे हैं।'', "पुस्तक Belial हमारी सच्ची ईसाई Baptism शास्त्र के अनुसार और इतिहास है।

 

 

की पूजा का एक ईसाई तीन divinities predates उपर्युक्त वामपंथी: भारतीय त्रिमूर्ति को तीन दैवी व्यक्ति हैं। निचला बायां तीन दैवी व्यक्तियों को मिस्र त्रिमूर्ति: सही: कथित ईसाई तीन व्यक्तियों को ईश्वरीय त्रिमूर्ति

Please reload

C O N T A C T

© 2016 | GLOBAL IMPACT MINISTRIES