पुत्र की महिमा

पुस्तक "निम्नलिखित अंग्रेजी से हिंदी में अनुवाद किया गया। अनुवादक Google Talk के माध्यम से हम यह नहीं है कि एक पूर्ण क्षमा अनुवाद हिंदी में मौलिक पुस्तक में अंग्रेजी'

पुत्र की महिमा

The Glory of the Son

अध्याय 1

के बेटे की शानदार शुरुआत

रहस्योद्घाटन 3:14 राज्यों के पुत्र' की शुरूआत की, ''1:1 जॉन ईश्वर है।" शब्द का प्रारंभ किया गया (रजिस्टर्ड) ….'' 1 जॉन 1:1 है, "जो शुरू से ही संबंधित ….'' शब्द ईश्वर से कहते हैं, ''41:4 Isaiah कहते हैं कि आगे की पीढ़ी के प्रारंभ से

निरर्थक है।" को विश्वास है कि ईश्वर के पुत्र के रूप में सदैव एक कालातीत अस्तित्व में नहीं लाया जा सका क्योंकि पुत्र के पुत्र हैं, ''भगवान के सृजन के बिना' की शुरूआत में एक वास्तविक शुरुआत है। ईसा के पुत्र कहलाती है, "ईश्वर के सृजन के प्रारंभ में ही अर्थ' जॉन 1:1 का कहना है, ''शब्द की शुरूआत में ग्रीक शब्द 'लोगो'' का अर्थ केवल 'व्यक्त विचारों' की रचना की, जो ईश् वर के आरंभ में बोले।

1 जॉन 1:1 है, जो कि "जीवन की शुरूआत से संबंधित थी।' शब्द … जैसे तरीके से अपना पहला पत्र लिखकर कहा, ''धर्मदूत जॉन खोला गया था जो कि जीवन की शुरूआत से संबंधित ….'' अत: शब्द ईश्वर चिंतन के लिए ''व्यक्त की थी, जो कि, "ईश् वर' की शुरूआत से ही थी.'' के बजाय वह जो शुरू से ही है।

इसलिए के पुत्र के रूप में विचार व्यक्त किया है (07) ईश् वर के बजाय निर्वैयक्तिक लोगो की व्यक्तिगत पुत्र' की शुरूआत 41:4 है।"Isaiah ईश्वर के सृजन का कहना है कि ईश्वर ने कहा, ''आगे की पीढ़ी के प्रारंभ से 41:4 है।"Isaiah साबित कर देता है कि देवता' कहते हैं, ''से आगे की पीढ़ी शुरू में मानव-इतिहास की सभी'' का सृजन। ठीक वैसा ही, जैसा कि वे वास्तव में विस्तृत रूप से पहले ही पैदा होती है और प्रथम वास्तुकार केप्रति एक भवन, ताकि मानव निर्मित पहला ईश्वर-पूर्व अवधि के समय-समय पर वास्तव में मानव-इतिहास से पहले सभी मानव शुरू हो गई।

अत: सभी मनुष्य और ईश्वर के पुत्र पीढ़ियों के बाद विश्व के इतिहास में पहले से ही predestined मस् तिष् क और ईश् वर की योजना को दुनिया के सामने था। वस्तुत: यह स्पष्टतया का अर्थ धर्मदूत जॉन ने लिखा था, "जब वे शब्द का अर्थ था। आरंभ में ''व्यक्त विचारों' (लोगो' में ईश् वर के जॉन 1:1 होता है। ईश्वर पिता से पुत्र को आगे कहते हैं कि ''के रूप में पहले से ही थी जो वास्तव में 07 व्यक्ति के पुत्र हैं।" मानव के लिए ईश्वर के पुत्र-पूर्व में विद्यमान लोगो'' (ईश्वर) का विचार व्यक्त किया कि ''के रूप में जो शुरू से ही' के बजाय वह जो शुरू से ही है क्योंकि बच्चे का जन्म होगा कि पुत्र और 9:6) दिया जाएगा। (Isaiah जीवित नहीं होने से पहले उनके पुत्र जन् म और व्यक्तिगत धारणा वास् तविक बेथलेहम में है।

"जीवन की उम्मीद है।' शुरू करने से पहले विश्व में शाश्वत वायदा किया गया था Titus 1:2"वह ईश् वर की छवि को अदृश्य, 1:15.'' का सृजन के सभी firstborn Colossians सिर्फ यह है कि मनुष् य के लिए एक निरर्थक वास्तुकार को शुरू करने के लिए एक विस्तृत योजना तैयार करने का निर्माण किए बिना सदन के पहले, ईश् वर प्रथम ने अपने विचार व्यक्त किए और उनके 'में विस्तृत योजना'' (पूर्व) लोगो/शब्द बनाने की शुरुआत दरासल शारीरिक रचना है। इस मायने में यह है कि एक पुत्र को पहले ही आरंभ होने से पहले एक begetting शाब्दिक अर्थ है और begetting बेथलेहम में शुरूआत हमारे लिए ईश्वर पिता ने पुत्र को लेकर ही सही, ''firstborn (1:15) के सृजन के सभी Colossians' के सामने आने वाली पीढियों के शेष सभी मनुष्य के लिए मास्टर प्लान में आगे कहा जाता था कि वे ईश्वर के युग में, ''मेरी पुस्तक (देखिए)।'' का सृजन के पुत्र हैं।

इससे पहले 'पहाड़ बसाए गए पहले, मॅँ लाए पहाड़ियों (देखिए-''शब्द का अर्थ है Colossians हिब्रू का जन्म 1:15); जबकि (पिता) ने अभी तक नहीं किया गया है और न ही पृथ् वी और खेतों में धूल विश्व की स्वास्थ्य कार्यकर्ता अक्सर पहले 8:25. पहाड़ियों और पहाड़ों से पहले ही पृथ्वी के बावजूद, ईश् वर प्रथम लाए उनके पुत्र को '07 के आरंभ में ईश् वर के सृजन में 3:14)'' और ''(रहस्योद्घाटन के सृजन के सभी firstborn Colossians (1:15)।"

अत:, ईश् वर के पुत्र के रूप में लाया गया था, "ईश्वर के सृजन की शुरुआत 3:14)'' और ''(रहस्योद्घाटन के सृजन के सभी firstborn Colossians (1:15)" "पहले अपने बेटे को निकल जाता है क्योंकि पहले देवता के