बाइबिल के सुप्रीम होने के नाते

“निम्नलिखित किताब का अंग्रेजी से हिंदी में अनुवाद किया गया था । गूगल टॉक है कि हम हिंदी में मौलिक पुस्तकों के अंग्रेजी अनुवाद में एक पूर्ण क्षमा चाहता है के माध्यम से अनुवाद।”

 

 

बाइबिल के सुप्रीम होने के नाते

The Supreme Being of the Bible

 

 

समझने बाइबल के सर्वोच्च' के रूप में ईश् वर के रहस्योद्घाटन

पिता, पुत्र, पुत्री, पवित्र आत्मा

 

 

सत्य के बारे में जानने के लिए किस प्रकार से परिचय स्टीवन RITCHIE ईश्वर की जा

 

 

रही एक ईसाई कैसे किस प्रकार वर कर सकते हैं-

पिता, पुत्र और पवित्र आत्मा स्वयं को स्पष्ट करते हुए कहते हैं, ''यह अभी भी एक (30:12) Isaiah पवित्र?'' की घोषणा

5:39 के उत्तर में दिया था : "धर्म-ग्रंथों की तलाश में जॉन; उनके लिए आप सोचते हैं कि

वे जो शाश्वत हैं और वे मेरे जीवन की पुष्टिकरते हैं।'' की घोषणा नहीं की खोज

के बाहर धर्मग्रंथों में बताया कि ऐतिहासिक पंथों के ईसाई धर्म कोमानने से अनंत हैं।

कैथोलिक के धर्म-ग्रंथों में सैकडों वर्ष बाद लिखी गईं थीं और

उन्हें कभी भी कोई लिखित या उपदेशक पुरोधा विकसित

 

 

हमें इस बात को पढ़ने के लिए शब्द ईश्वर के आदेशों के कारण राज्य के धर्मग्रंथों

और पवित्र धर्मग्रंथ दिव्य सत्ता के शब्दों में मिलवट रहित सर्वशक्तिमान ईश्वर है!

इसलिए हमें कभी किसी प्राधिकारी को देखें, तो स्वयं ईश्वर परहमें

अपनी इच् छा या सैद्घांतिक शिक्षाओं है। फिर भी अधिकांश

ने ईसाई धर्म कोमानने से निराश शुद्ध की शिक्षाओं के धर्मशास्त्रों अटकलें लगाई जा रही हैं

कि विकसित शास्त्र के सैंकडों वर्षों के बाद न्यू टेस्टामेंट लिखा गया था।

इस पुस्तिका को समझाने के प्रयासों का क्या वह ईश् वर के

साथ निपटते धर्मग्रंथों के मूल्योंके संवर्धन बौद्धिक ईमानदारी और निष्ठा है।

 

 

उच्चतम रही बाइबल के ही नहीं बल्कि स्थिति में से एक त्रुटि हुई गलतियोंको Trinitarian Apostolic ईसाइयों के बीच कुछ आधुनिक Pentecostals] [हड़ताल करने वाले राज्य हैं

कि ईश् वर के पुत्र हैं।'' ''केवल यह है कि लेखक ने स्वीकार किया है कि दोनों में मांस enrobed Trinitarian हड़ताल करने और उन्हें अनेक श्रद्घालुओं ने सीपियां धर्मग्रंथों बनाने की कोशिश में फ़िट उनके presupposed

धर्मशास्त्रों कर दिया गया है। परिचितों को धर्मग्रंथों का दोषी पाया गया है Trinitarians

मनुष्य ईसा मसीह से निपटने की कोशिश है कि यह सिद्ध हो पाता सदा दूसरे दैवी

व्यक्ति है। अनेक उपाधियों unscriptural Trinitarians का भी प्रयोग के बेटे हैं, ''ऐसी शाश्वत

पुत्र, पुत्री को पुत्र के दूसरे दैवी व्यक्ति पूर्वजनित सदा" और "ईश्वर के पुत्र हैं।'' से कुछ

भी Pentecostals हड़ताल करने के दोषी व्यक्ति को ईसा

मसीह परिचितों धर्मग्रंथ से निपटने की कोशिश की थी कि ईश् वर की घोषणा मात्र एक enrobed बाह्य कवच मानव

शरीर हैं। इन दो पुख्ता राय ने ईश्वर के पुत्र के बारे में

हड़ताल करने और सार्वजनिक वाद-विवाद में अध्यापकों की देखभाल खराब Trinitarian दोनों एक-दूसरे के साथ तथा मुसलमान और

Jehovah साक्षियों का स्वागत किया।


 

हमारा ईश्वर पिता के लेखकों प्रार्थना: के नाम की घोषणा की है,

कृपया इस सरल प्रयोग आपके बच्चे की पवित्र पुस्तक को खोलने की आंखों के अनुयायी हैं;

वे निष्ठापूर्वक अपने समाधााननिकालने के बारे में सत्य है और कुछ नहीं बल्कि अपने दिव्य सत्य के बारे में

पता चला कि आपके पास होने का सार के लेखों में अपने कर्मचारियों और उपदेशकों की जी-हजूरी करते फिरते हैं।

 

 

इस पुस्तिका का प्रयोग करने के लिए, कृपया अपने पिता को तैयार है ताकि वह सचमुच जानते हैं कि आपको वधू

है और आप सचमुच जानते हैं कि उनके समख्र अपने शीघ्र वापसी। ईसा के लिए स्वयं

को सही कहा है कि चर्च के सच्चे (ईसा की बहू को यह जानना चाहिए जो वास्तव में अपने पति) है। ईसा

ने कहा, ''मैं जानता हूं, मैंने एक भेड़ से अपनी' (जॉन 10:14) ''उन्होंने

उसे सुनने के लिए कान, जिसने 11:15)" (रोए इस पुस्तक लिखी गई को बहाल करने के लिए

मूल चर्च के प्रथम शताब्दी ईसा मसीह रक्षा की शिक्षाओं से स्वच्छ जी-हजूरी करते फिरते हैं।


 

पांचवीं शताब्दी ईसवी Trinitarian Athanasian पंथ स्वयं खुले

में विश्वास नहीं मानते हैं कि तीन बार के प्रयोग द्वारा शाब्दिक दैवी व्यक्तियों के लिए" "उनके बहुल शब्द

"अपनी प्रतिष्ठा समान तीन कथित दैवी व्यक्तियों, महामहिम coeternal है।' 'सेगंभीरता

के तीन लोग हैं और एक-दूसरे के साथ हम अभी coeternal coequal'''''' शब्द को नहीं अपना referencing एक सच्चे ईश्वर बाइबल में है। अत:, '

बाईबल Trinitarian पंथ नहीं किया जा सका! मॅँ सभी को चुनौती खोज की समूची बाइबल और देखें.

कभी कभी तो आप पाते हैं कि वे ''के रूप में एक नये कामगारों, उनकी सही ईश्वर या उन्हें' और न ही

कभी कभी नये कामगारों को "ईश्वर के सच्चे दैवी तीन व्यक्तियों"

 

 

पांचवी शताब्दी ATHANASIAN पंथ

 

 

यदि तुमने को मानते हैं कि ईश्वर है तो आपके

Trinitarian पंथ के तीन व्यक्तियों को ही दिव्य त्रिमूर्ति आप कॉल्स के एक सदस्य को सार्वभौमिक कैथोलिक आस्था है। ज्यादातर

ईसाई नहीं समझते कि कैथलिक विशप्स के चौथे और पांचवे शताब् दियों में

मदद मिली, जो धर्म को विकसित करने की प्रार्थना की सर्वोच्चतासमाप्त प्रभावशाली में भी Trinitarian

मैरी के 'रानी मां को ''आकाश'' और"

"नामक पुस्तक ईश्वर की देख रहे हैं, जो मेरे ई Popes?'', ''मेरे ई देख लिया कैथोलिक पुस्तक 'निर्दोष' (

विश्व धर्मो Popes कैथोलिक हैं?''

की पूजा का गठनकिया गया था मैरी कैथोलिक चर्च द्वारा

430 ईस्वी में परिषद के Ephesus इस मात्र 21वीं शताब्दी के लिए होता है जब Trinitarian

Athanasian पंथ विकसित की गई।

 

 

"हूएवर पाटानहीं ATHANSIAN पंथ की इच्छा से बचाया जाना चाहिए और सभी बातों को सामान्य आस्था है।

 

 

कोई भी व्यक्ति जो उसे नहीं होगा। सदा अटूट और संपूर्ण निसन्देह यशोधा अब

यह विश्वास है कि हम एक देवता की पूजा में कैथलिक त्रिमूर्ति और

त्रिमूर्ति में एकता और न ही उनके अपने लोगों को विभाजित न मिश्रण के सार है।

 

 

पिता के व्यक्ति के लिए एक अलग व्यक्ति, व्यक्ति के पुत्र और एक

पवित्र आत्मा की भी है। लेकिन के देवत्व हैं-पिता, पुत्र और पवित्र आत्मा

है, उनकी प्रतिष्ठा समान, महामहिम COETERNAL है। पिता

बेटे शाश्वत है अनंत है, पवित्र आत्मा का अनंत है। और फिर तीन नहीं हैं;

लेकिन एक शाश्वत जा रहा है, वहां प्राणी शाश् वत ऐसा भी नहीं

है, लेकिन एक रिपोर्ट के अनुसार कुछ मौतेन तीन uncreated या प्राणियों के अनुसार कुछ मौतेन uncreated और

है। इस संबंध में कुछ नहीं है, कुछ ज् यादा त्रिमूर्ति पहले या बाद में; या छोटी सेगंभीरता

के तीन लोग हैं और एक-

दूसरे के साथ COEQUAL COETERNAL अत:, जो कुछ कहा गया सी विनड


 

हम कैसे विश्वास के चौथे और पांचवे शतक बिशप्स, जो

इस समय अपने धर्म विकसित हुआ भी कथित सभी

चार संबधियोन HERETICS विकासकर्ता ओं के बाद के वर्षों में 381 ईस्वी TRINITARIAN पंथ अनुसमर्थन किया था?

 

 

हम किस प्रकार स् वीकार करने के लिए इसका प्रयोग करने में असफल रहता है जब स्वयं बाइबल TRINITARIAN जात है?

हम कैसे स्वीकार करने के रूप में, एक पंथ का प्रयोग करता है, तो हो सकता है कि गैर-बाईबल शब्द

बाइबल अवधारणाएं है?

 

1. सूचना का बार-बार प्रयोग के लिए अपने' शब्द "त्रिमूर्ति व्यक्तियों की! अभी तक

एक भी नहीं है कि ''शब्द का उपयोग अपनी कविताओं में बाइबल REFERENCING ईश्वर है।''

 

2. न केवल एक आयत बाइबल में कि ''शब्द का उपयोग करने वाले व्यक्तियों'

का वर्णन एक सच्चे ईश्वर है।

 

3. आजअमरीका बाइबल के कारण

ईश्वर के तीन त्रिमूर्ति का केवल एक पवित्र व्यक्तियों बाइबल कॉल्स दैवी व्यबक्त:

 

 

''... क्राइसट Hebrews 1:3 पर कॉल का अपने पितरों के देवता की चमक [Setup]

[व्यक्ति अपनी छवि एक्सप्रेस और गौरव ईश्वर के व्यक्ति]"

 

 

2. 3:20): बाइबल Galatians परिवर्तित रूप में "... नहीं किया जा सकता है, लेकिन किसी व्यक्ति से सिर्फ एक मध् यस् थ ईश् वर

एक व्यक्ति को

 

 

यह कहना चाहता हूं कि ईश् वर है।" Trinitarians दैवी तीन व्यक्तियों का केवल एक पवित्र हो रहा है।

इन्हीं शब्दों की व्याख्या की जा रही है और व्यक्ति अभी भी अर्थ है!

वस्तुत:- ''शब्द की परिभाषा है।' 'एक व्यक्ति को, चाहे मानव एक व्यक्ति, एक महिला, या किसी बच्चे"

शब्द का शाब्दिक अर्थ है।' 'एक मनुष्य

की परिभाषा : वस्तुत: ''शब्द की जा रही है।' 'मनुष्य किसी व्यक्ति को

इस तथ्य के शब्दों में किया जा रहा है;'' और व्यक्ति वही हैं!

 

 

निष्कर्ष

 

 

नहीं है और न ही यह तर्कसंगत TRINITARIAN कैथलिक धर्म बाईबल!

 

 

अध्याय 1

 

 

में एक आस्था का मूल जी-हजूरी करते फिरते

हैं तो हमें ईश्वर ने खुद को समुचित रूप से कैसे परिलक्षित हैं-पिता,

पुत्र और पवित्र आत्मा हमें ९र्मठ जप से 21वीं शताब्दी के लेखन के लिए

स्वयं को जी-हजूरी करते फिरते खोज देखें कि वे किस चीज सिखाया जाता है। पहली शताब्दी के मूल ईसाई, जो जी-हजूरी करते फिरते पूरी तरह पालन आधुनिक ईसाई शिक्षाओं को "

धर्म" (चूक Apostolic ईसाइयों] का प्रयोग नहीं करते हैं और बाद के सामान्य सिद्धांतों के

रोमन कैथोलिक चर्च द्वारा विकसित किए गए थे, चौथे और पांचवे शताब् दियों में 1021 (लगभग 400 वर्ष बाद

न्यू टेस्टामेंट धर्मग्रंथ ही थे क्योंकि उनके पास एक दृढ विडवास है कि

कुछ लिखित) भाषा और धर्म

के पवित्र आजअमरीका के भीतर शब्दावली कैथोलिक अध्यापन और उपदेशकों जी-हजूरी करते फिरते बाइबल के हैं।

 

 

मेरा विश्वास है कि सभी सच्चे अनुयायी ईसाई धर्म Apostolic ईसा मसीह रक्षा नहीं करनी चाहिए

कि शिक्षाओं से जोड़ने या उनकानैतिक पतन के लिएकिया जा चुके सादे बाइबिल में

22:18,19) पवित्र रिट (रहस्योद्घाटन ईसाई धर्म Apostolic प्रयास किए जाने

"ईश्वर के प्रति वफादार रहें और allegiant किसकी परस्परविरोधी विचार था कि एक बार आस्था के लिए प्रेरित किया

कि चूंकि' (4) जूड़ संतों 'ए' (आस् था.'' ''4:5) Ephesians केवल संतों को

पहली शताब् दी ईसा की जी-हजूरी करते फिरते हैं, इससे कोई भावना से बाहर जाना पड़ता है कि

एक बार फिर आस्था बाइबल की तलाश में कैथलिक धर्म है।

 

 

जब उन्होने अपने शिष्यों को 'सावधान के क्राइसट सदभावना के Pharisees

सदभावना और 8:15)" के रूप में चिह्नित (Herod नहीं था, लेकिन इस सिद्धांत के बारे में बोल, ''की रोजी-रोटी और

प्रथाओं की Pharisees और राजा Herod' है। इस

विशिष्ट आरोह-अवरोह के निर्माण के लिए प्रसिद्ध थीं Pharisees "ईश्वर का कोई असर उनकी (गैर-बाईबल) (

6) 15:रोए परंपरा का पता था कि सम्राट Herod" का प्रयोग करने की शक्ति को नियंत्रित करने के लिए रोमन साम्राज्य

के मुख्य पुरोहित द्वारा नियुक्त Sanhedrin गोलीबारी और वह दृढ़संकल्प वाली है। अत:,

उनके अनुयायियों को चेतावनी देने की घोषणा की थी (बाहर दोनों सावधान मानव निर्मित परंपराओं के धर्मग्रंथों

और धर्म निरपेक्ष सरकारों की गडबडी की चर्च

 

 

ईसाई धर्म के इतिहास में यह सिद्ध हो जाता है स ९ चौथे और पांचवे शतक रोमन साम्राज्य

था और विकास में प्रभावशाली कार्यान्वयन Trinitarian Athanasian पंथ

, जो बाद में ईसाई बहुमत द्वारा अपनाया हे पीढ़ियों

इससे सिद्ध होता है कि चर्च के इतिहास का एक सिद्धांत शामिल

है जो मनुष्य की परम्पराओं और त्रिमूर्ति दार्शनिक कल्पनांए अधिकांश ईसाई सम्राट के नेतृत्व में

विश्वास का अशुद्ध (गैर-बाईबल) केअतिरिक्त संकल्पनावारिता ईश्वर के तीन दैवी आत्मा व्यक्तियों

के एक कथित त्रिमूर्ति धारणा है कि ईश्वर की बजाय एक व्यक्ति की आत्मा बाईबल कोई अगुआ थे

या उपदेशक बाइबल के बारे में कुछ लिखा कभी ईश्वर सदा ही विद्यमान है

और दिव्य आत्मा coeternal coequal तीन व्यक्तियों की तीन व्यबक्त देवता है। हम कैसे विश्वास

है कि एक सिद्धांत बाइबल के बाहर है?

 

 

के धर्मदूत पॉल ने हमें एक खिलौना चेतावनी (2:Colossians 8-12)

पुरुषों तथा परंपराओं के मूल तत् वों का धोखा कोमानने से ईसाई को जानने

की:

 

 

''किसी व् यक् ति सच गास्पेल सहास्त्राब्दि के माध्यम से आप को धोखा लेवी सावधान दर्शन या व् यर्थ छल के बाद

, पुरुषों की परंपराओं के बाद दुनिया के मूल तत् वों और ईसा के बाद नहीं है। उनके लिए (ईसा

की संपूर्णता में निवास करता है, सभी) शारीरिक रूप है। आप किसके साथ में भी

हाथ में खतना किया जाता हे बिना circumcision वर्षोंपर के शरीर के पापों का मांस द्वारा

circumcision ईसा की है। उनके साथ दफनाया Baptism) के नाम की घोषणा (जिसमें

आप उनके साथ baptism भी बढ रहा है..." Colossians 2:8-12

 

 

दुर्योग से ज्यादातर ईसाई सम्राट को ठगा जा रहा है क्योंकि

उनकी धारणा सही मोक्ष तीन त्रिमूर्ति में दैवी व्यक्तियों को छला से प्राप्त की जा सकती है

कि असली circumcision हमेसा टालता के शरीर के पापों का मांस द्वारा circumcision ईसा की है।

'' है और बिना circumcision हाथ में पानी का नाम ईसा मसीह रक्षा baptism है।

ईसाई देवी को उनके साथ दफनाया (baptized) ''उन्हें नहीं' (जिसमें

वे भी बढ रहे हैं।'') उनके साथ है।' इस का अर्थ यह है कि हमें पानी में दबा (baptized) के

नाम से ईसा मसीह रक्षा के लिए "वर्षोंपर के शरीर के पापों का मांस के लिए"

"उनके साथ [Setup]।" उदीयमान ईसा हिंदुंस् तान कैसे कर सकते हैं यदि वे वास् तव में बढोत्तरी से ईसा के ईसाई

नहीं दफनाया गया में उनके साथ baptism के वर्षोंपर के शरीर के पापों का

मांस खाते हैं?

 

 

हो सकता है कि अन्य कोई सच् चे फाउंडेशन की नींव

रखी जा चुका था और उपदेशकों के लिएकिया ईश्वर के पवित्र ग्रंथ में जी-हजूरी करते फिरते (2:20 / 1

की कॉरिनथियंस पॉलिस्टा टीमें भाग 3:Ephesians 10,11)। 'हमें ईश्वर का पालन Apostolic सतायागया कि ईसाई धर्म की अपेक्षा

पुरुष' द्वारा निम्नलिखित केवल 21वीं शताब्दी में मिलवट रहित की शिक्षाओं का जी-हजूरी करते फिरते

(4:19); यदि अधिनियमों को ईसा इस कारण से हमें 'ओपन कास्ट' नाम की खातिर 66:5(Isaiah)

के बहुमत से संव र्धित ईसाई सम्राट हैं।


 

यह भी कहा गया है उसके लिए स्वधर्मभ्रष्ट पॉल पुरोधा के प्रति वफादारी ईश्वर है।

"... बाद का मार्ग है जिसे वे ईश् वर को कॉल करें, ताकि मैं मेरे पिता की पूजा विधर्म भूरि सभी

बातें हैं जो लिखित में कानून और उपदेशकों के 24:14

जी-हजूरी करते फिरते हैं।" अधिनियमों को चेतावनी दी है कि ईश्वर समस्त कोमानने वाले सभी'' ''श्राप ईसाई

pervert गास्पेल को जोड़कर अथवा शुद्धता का प्रथम शताब्दी से detracting गास्पेल संदेश:

''...। लेकिन कुछ खराबी है और आप pervert ईसा के २ाान केसंदेश का है। लेकिन

, हमें उपदेश देते हैं या किसी अन्य गास्पेल एंजेल आकाश से, जो कि हमें

उपदेश से आप को प्रेरित किया है, तो आप उसे accursed(Galatians 1:8,9 है.''


 

1. 4:6 के धर्मदूत जॉन ने सभी कोमानने जॉन ने ईसाई कैसे कर सकते हैं

या नहीं यह जानना चाहती है कि क्या वे पैदल या सच्चाई

जानता है कि वह 'त्रुटि: की भावना के अनुरूप हम सुनते ईश् वर का जी-हजूरी करते फिरते बैठते हैं [Setup], वह ईश् वर की नहीं है, हम नहीं सुनता

है।] [बैठते हैं वे ईश्वर के जी-हजूरी करते फिरते नहीं तुम जानते हैं कि हम सत् य की आत् मा की भावना और

ईसाई धर्म Apostolic त्रुटि.'' शब्द को जोड़ने के लिए, ईश् वर की आवश्यकता नहीं है।गैर-बाइबिल

की भाषा का प्रयोग करके Trinitarian कैथलिक धर्म ईश् वर का सार को परिभाषित किया जा रहा है क्योंकि

हम मान लेना कि ईश्वर की पवित्र जी-हजूरी करते फिरते और उपदेशकों के पहले के

ईसाई धर्म की नींव के रूप में निर्धारित है।

 

 

(ईश् वर की आस्था Apostolic श्रवणों में विश्वासकरना चूक को "मूल्योंके संवर्धन" नीतिशास्त्र) सतायागया कि शास्त्र के

बारे में स्वयं को साफ और सही घोषित सत्य पर


 

उनका उपयोग करने से मना कर दें जो कि सरकारपश्चिम Trinitarians गैर-बाईबल पंथीय भाषा

heretics है। फिर भी, बाद में कभी प्रयुक्त शब्दावली Trinitarian जी-हजूरी करते फिरते और उपदेशकों

के द्वारा विकसित किया गया है कि चर्च के चौथे और पांचवे शताब् दियों में 1021

में अपने पढ़ने वाले किसी व् यर्थ शब् दावली का पता लगाने के लिए खोज लेंगे बाइबल Trinitarian जैसे 'पुत्र'' की शाश्वत त्रिमूर्ति

को सदा पूर्वजनित पुत्र'' और "ईश्वर में तीन दैवी व्यक्तियों' कहा जाता है, जो

एक-दूसरे के साथ coeternal' और "coequal ऐसी

शब्दावली का प्रयोग न करनाकि ईसाई धर्मशास्त्र में हड़ताल करने के लिए ईश्वर के कारण ईश्वर शब्द का प्रयोग कभी ऐसी भाषा है। ईश्वर की जी-हजूरी करते फिरते

और उपदेशकों दे चुके चर्च के "ईश्वर के वकील पूरे' (20:27) अधिनियम

में निर्धारित है, जो ईश् वरीय कृपा के शब्द का एकमात्र शासन के विश्वास को चुनने के लिए ईश्वर के

20:32 अधिनियमों (ईश्वर किंगडम के हिस्साबच्चों)।


 

यदि कोई व्यक्ति थे तो वास्तव में सही दैवी तीन त्रिमूर्ति क्यों नहीं

? शब्दावली का प्रयोग कभी Trinitarian बाइबल यदि ऐसा था तो वास्तव में सही Trinitarian शब्दावली और इस

कथित Trinitarian सत्य को हमेशा सच्चे ईसाई के प्रारंभ से ही अभी तक

मूल जी-हजूरी करते फिरते और उनके उत्तराधिकारियों के बारे में कुछ भी नहीं लिखी है और दिव्य आत्मा के तीन coequal coeternal त्रिमूर्ति का आरोप लगाया है। एक कैसे कर सकते हैं यदि सही लोगों के तीन दिव्य त्रिमूर्ति ईसाइयों के पहले तीन शताब्दियों में कभी भी सिखाया जाता है? यह सच होने के लिए एक त्रिमूर्ति हमेशा सही है। यह संभव नहीं है कि एक त्रिमूर्ति में तीन व्यबक्तयों को अचानक हो सत्य, दैवी चौथे और पांचवे शताब्दियों के बिना भी सत्य के पहले तीन शताब्दियों के ईसाई युग! अत: पहली शताब्दी के पहले अवश्य जी-हजूरी करते फिरते थे पूरी सच्चाई Trinitarian धर्मशास्त्र विकसित की गई।


 

ईसाई धर्म Apostolic में विश्वास रखने वाले मूल धर्मशास्त्र का प्रथम शताब्दी जी-हजूरी करते फिरते नहीं

मानता कि यदिसेना के संबंध में कोई आवश्यक सत्य शीघ्र ईसाई सार और भगवान की पहचान। हो सकता है कि अन्य कोई विकल्प नहीं था जो एक बार से अधिक विश्वास आस्था के संतों के प्रथम शताब्दी (4) जूड़ यदि हम कह सकते हैं कि वे ईश्वर के बारे में जानकारी की कमी थी, ईसाई शीघ्र आवश्यक देवता हैं तो हमें वास्तव में यह कहते हुए जी-हजूरी करते फिरते धोना पूरे वकील ईश्वर के चर्च की पहली शताब् दी ईसवी तथापि 20:27 अधिनियमों में घोषित पॉल थे कि वह ईश्वर के रूप में घोषित "सारा परिषद' को पहली शताब्दी के चर्च सभी आवश्यक २ाान का अभाव था, जो जी-हजूरी करते फिरते का दावा है कि संपूर्ण वकील या धोना, ईश्वर की वास्तव में यह कहते हुए कि उन्हें एक अलग गास्पेल का उपदेश संदेश से मूल जी-हजूरी करते फिरते हैं। अमेरिका को चेतावनी दी है कि यदि हम अभी तक स्पष्ट बाइबल के मूल संदेश को जी-हजूरी करते फिरते हैं और न ही किसी भी प्रकार से हम ईश्वर का अभिशाप है।


 

''मॅँहैरान हूँ कि आप जल्दी हो सके, जो आप को एक अभित्यजन में रहते हैं

और ईसा की कृपा से भिन्न गास्पेल की ओर मुड रहे हैं - जो वास्तव में कोई सिद्धांत है। कुछ लोग भ्रम और आप को ताक पर स् पष् ट करने का प्रयास कर रहे हैं।pervert गास्पेल का ईसा है। लेकिन यदि हम एक या अन्य गास्पेल का उपदेश देना चाहिए आकाश से एंजेल से हमें उपदेश आप उन्हें ईश्वर के अधीन अभिशाप है!

 

 

जैसा कि हमने पहले कहा है, अब मॅँ कहता हूँ कि यदि कोई व्यक्ति को पुन: आप को एक दूसरे से क्या उपदेश गास्पेल(पहली शताब् दी ईसवी) को स्वीकार किया जाना चाहिए कि वे ईश्वर के तहत अभिशाप!"

को चालू करने के लिए, 1:Galatians 6-9 एनआइवी ईसाई धर्मशास्त्र के रोमन कैथोलिक चौथे और पांचवे शताब् दियों में वास्तव में

एक भिन्न स्वीकार किया गया और अन्य गास्पेल का प्रथम शताब्दी ईसवी में स्वीकार किया था, जो अधिक परिवर्तित स्वीकार नहीं किया गया है कि मूल संदेश को दुहराकर गास्पेल जी-हजूरी करते फिरते हैं प्राप्त होने के खतरे में जहरीली संस्करण का कोई 'गास्पेल गास्पेल बन है।" में परिवर्तित नहीं है क्योंकि सभी गास्पेल गास्पेल विकृत गास्पेल नहीं छोडेंगे। इसे स्वीकारने के लोग


 

"मैं जानता हूं कि मेरे ठसाठस [Pauls' में प्रवेश करेगा, आप में दारुण भेड़ियों की मृत्यु]

रेवड़ (खोने नहीं बरत मोक्ष)। चेतन और अचेतन दिमाग में अपने को भी बोल उठे, पुरुष करेगा [Setup] इसे बदलने के द्वारा गास्पेल ारहपू बातों को विकृत करने के बाद उनके शिष्यों को दूर करने का ड्रॉ 20:ईसाई की जरूरत नहीं है.'' अधिनियमों को जोड़ने या विद्यमानराज्य भी 29-30 के शब्दों में ईश् वर को हासिल करने के लिए सही धर्मशास्त्र है। क्या यहसच ईसाई धर्मशास्त्र का बाइबल रूढि़यों राज्यों से किया जाना चाहिए। स्पष्ट है कि ''उन्हें 2:Colossians 11-12] [ईसा में निवास करता है, सभी फू

 

 

11:17 अधिनियमों को अवगत कराया कि 'अच्छा' के लिए ईमानदारी के साथ-साथ ढूंढने गए Berean यहूदी ग्रंथों का पता लगाने के लिए प्रतिदिन ईश्वर के सत्य की खोज करते हुए शब्द नहीं है धर्मग्रंथों की ईमानदारी से यहूदियों Thessalonian इस पुस् तक की जांच करने के लिए हर चुनौती देता हूं, जिन्होंने यह यंत्रों के सभी डेटा पढ़ा एक उन्मुक्त एवं ईमानदार हृदय से यदि आप पाते हैं कि आपको विश्वास करना सिखाया जाता था कि गैर-शिख्रण बाईबल कभी ईश्वर के द्वारा पढाया जाना चाहिए तो आप को सुनने के लिए जी-हजूरी करते फिरते और उपदेशकों की पवित्र अपने विवेक और अपने चुनावी दिलाने की बजाय कष् टों के द्वारा निश्चित शब्दों को ही ईश्वर के शब् दों में 5:29) अधिनियम (पुरुष यह निश्चित रूप से ईश्वर का पालन करने के लिए बहुत अच्छा है, तो इसका अर्थ यह हमारानैतिक पीड़ित पुरुषों की अपेक्षा के बाहर शिविर के बहुमत से अपनी चाल, ईसाई सम्राट (13:13) Hebrews पछतावे


 

क्राइसट बार-बार चेतावनी दी थी, जो कि अधिकांश

सम्राट के बारे में सोच निम्नलिखित अपनी शिक्षाओं ईसाई नहीं होगा-

"ईश्वर किंगडम के हिस्साबच्चों प्रयास करना; बहुत संकरा द्वारा दर्ज करने का प्रयास करेगा [प्रवेश द्वार किंगडम के देवता], और (13:24) में सक्षम नहीं होंगे।''' के लिए सीधी ल्यूक है और संकीर्ण रास्ता है कि इससे गेट, जीवन और कुछ भी हो सकता है कि यह 7:14)।" (रोए

क्राइसट भी चेतावनी दी कि वह अपने शिष्यों को सावधान मांगने के आसान रास्ते से बचने के लिए कष्ट या लाभ प्राप्त करने के लिए

कि क्या कोई मनुष् य लाभ सांसारिक : "यदि वह अपनी आत्मा और सारी दुनिया के लाभों को गंवाया या फिर क्या मनुष्य के लिए अपनी आत् मा (16:26 का आदान-प्रदान किया जा रहा है)?"

"हूएवर रोए बनना चाहते हैं और अपनी स्वयं अपने शिष्य को मना मुझे और दैनिक पार ल्यूक 9:23 पासहैं।


 

यह मानव प्रकृति को स्वीकार करना चाहते हैं कि हमारे देश के अधिकांश दोस्त है। फिर भी हमें तो क्या इसका लाभ

केवल ३ाूठी गले के सिद्धांत को स्वीकार करें, लेकिन हम theend ईसाई सम्राट के बहुमत खो अपनी आत्मा है? क्या इसका लाभ हमारे परिवारों और मित्रों को, और जब वे हमें उन प्रियजनों की बढ़त दिलाई मगर वे न्यास का सही रास्ता अपनाया क्योंकि वे हमारे disobedient आत्माओं खोने अंत उदाहरण है? क्या आप वाकई अपने बच्चों को देख सकते हैं कि उनकी आंखों पर निर्णय दिन बाद उन्हें एक चर्च के नेतृत्व में हे हैं, जहां वे झूठे सिद्धांतों को लाने से अपेक्षा है कि शैतान रोप दिया जहां एक चर्च के पवित्र शिक्षाओं के शब्द ईश्वर सिखाया जाता है? हो सकता है कि आप यह अनुभव के लिए आप कल्पना अड़तालीस सभी जानते हैं कि आप अपने परिवार के नेतृत्व में, अनंतता चर्च या देसकते हैं कि ईश्वर के उपदेश नहीं पढ़ा और पूरी सच्चाई के शब्द हैं?

 

 

जब हम ईमानदारी के लिए ईश्वर के सिवा और कुछ नहीं चाहते हैं तो हमें इस सच्चाई और सच् चाई को भयभीत नहीं होगा कि सत्य के लिए खडे होने का अर्थ है तो भी हमारे मित्रों और परिवार के सदस्यों द्वारा अस्वीकार कर दिया तथा पुर्वी जब हम यह महसूस करते हैं कि हमें ईमानदार घिसट कर रहे हैं।जब तक हम अपने प्रियजनों की मदद नहीं लेने को तैयार हैं, उन सभी के लिए विशुद्ध धर्म ईश् वर की पहली शताब्दी Apostolic चर्च

यदि हम प्रति सच्ची श्रद्धा का पता लगाने के लिए मूल जी-हजूरी करते फिरते हैं तो पहले

की अपेक्षा पुरुषों का पालन करने के लिए चुन ईश्वर का कोई मामला क्या परिणाम रहे हैं कि आलिंगन करने के लिए सत्य है। हमें अपने विस्तार के लिए पालन करने का इच्छुक हो भी तो इसका अर्थ यह है कि हम प्रादर्भाव और ईसा की खिल्ली उड़ाते अधिकांश ईसाई धर्म कोमानने है। यदि आप चाहते हैं कि आप ईघवर सरकारईमानदारीपूर्वक यह विश्वास करने के लिए 'सकेगीकि बार डिलीवर संतों।" (4)

 

 

अध्याय 2

 

 

से साक्ष्य जूड़ चर्च के इतिहास

 

 

, जो जी-हजूरी करते फिरते उत्तराधिकारियों के मूल है?

बाइबल का कहना है कि प्रथम शताब्दी आस्था का मूल जी-हजूरी करते फिरते [Setup] आस्था ही सच है कि आस्था Apostolic ईसा के अनुयायी अवश्य में विश्वास का पालन करें। न्यू टेस्टामेंट-ग्रंथों का कहना है कि बार-बार आगाह किया है कि चर्च के जी-हजूरी करते फिरते मूल ईसा मसीह रक्षा की स्थापना करने के लिए वे झूठे सावधान शिक्षाओं (2:Colossians 8-12)। ''खत्म नहीं.'' से चेतावनी के धर्मदूत पॉल ईसाइयों के आरंभिक दिन और रात "आंसू' है कि चर्च के प्रवेश को नष्ट कर ३ाूठी शिख्रकों होगा। के शब्दों में, 'नहीं' को स्पष्ट रूप से यह साबित होता है कि रेवड़ परन्तुसत्ताजढ क्या आपको विश्वास है!

 

 

''मैं जानता हूं कि मेरे लिए अव ९ाश ारह ा में प्रवेश करेंगे, तो आप के बीच भेड़ियों रेवड़ नहीं बरत रहा है ...

अत:, यह याद रखे और अंतरिक्ष में तीन वर्ष के लिए मॅँ हर रात को नहीं रोक दें और दिवस' (29-31):20 अधिनियमों के आंसू

 

 

चूंकि अगली पीढी के ईसाई धर्म के खिलाफ चेतावनी सदस्यहोने इतना गलत शिक्षाएं, यह संदेहास्पद है कि अधिकांश ईसाइयों की दूसरी सदी डब्ल्यू.

 

 

इनमें अधिकांश आधुनिक ईसाई उन तीन त्रिमूर्ति धारणा espouse coequal coeternal दैवी

व्यक्तियों और तीन सरल नहीं जानते कि ऐतिहासिक तथ् यों की उत्पत्ति के संबंध में उनकी Trinitarian धर्मशास्त्र है।

 

 

वास्तव में 1: अधिकांश शीघ्रातिशीघ्र ईसाइयों में रहने वाले दूसरे और तीसरे प्रारंभ शताब्दियों

में विश् वास हड़ताल करने के बजाय धर्मशास्त्र Trinitarian या एरियन धर्मशास्त्र (जैसे Jehovah गवाह को नकारा Arianism पूर्ण देवता की ईसा मसीह रक्षा)।

 

 

वस्तुत: 2: अधिकांश कथित Trinitarians की दूसरी और तीसरी शताब्दी के प्रारंभ में थे, जो

उस समय नहीं लगता कि अल्पसंख्यक) का पुत्र था और ईश् वर के साथ पूरी तरह coequal coeternal ईश्वर पिता है। इन आरंभिक तथाकथित Trinitarians Jehovah गवाह, जैसे कि सिखाया जाता था, जो खुद को हाशिए क्राइसट प्राधिकार के अधीन बनाया जा रहा है कि ईश्वर सदा पिता से पहले वह (पूर्व निर्मित अवतार)।


 

वस्तुत: 3: पूर्ण Trinitarian Athanasian पंथीय भाषा अनभिज्ञ थे। पहली 300 वर्षों के ईसाई इतिहास है।

 

1. ईसाई धर्मशास्त्र हड़ताल करने में विश्वास की अधिकांश आंरभिक

 

तीसरी शताब्दी के प्रारंभ में, Tertullian Carthage (205-225 1021 - जो दिया जाता है। बिशप का श्रेय पहले

coining शब्द "त्रिमूर्ति") साबित कर दिया है कि अधिकांश दूसरे और तीसरे दशक के प्रारंभ में रहने वाले ईसाई ईसवी सदी में विश्वास नहीं है जब वह व्यक्ति जो दैवी तीन त्रिमूर्ति ने लिखा था--

 

 

"सरल, वास्तव में उन् हें नहीं होगा (i), जो हमेशा देनाबुद्धिमत्तापूर्ण या मिली हैं, का अधिकांश कीसीमा में चौंकाया के तीन में से एक [त्रिमूर्ति], जमीन पर अपनी आस्था के शासन में बहुत से देवताओं की बहुलता को विश्व के पीछे हट रहा है ... वे कहते हैं कि हमारे खिलाफ लगातार फेंकने के प्रचारकों के दो और देवताओं के खिलाफ तीन देवताओं..." नामक अध्याय 3 Praxas Tertullian उन दूसरी शताब्दी ईसाई हैं जो हमेशा गठित की अधिकांश Monarchians''Modalistic, क्योंकि वे खुद को सिखाया कि ईश्वर फूलने यातायात के विभिन्न साधनों की प्रचालन [Modalism], वह हमेशा बनी एक शासक Monarchianism [Setup]. चूंकि एक बहुत पहले कोमानने Trinitarians ने स्वीकार किया कि अधिकांश ईसाई धर्मशास्त्र मूल्योंके संवर्धन की दूसरी सदी के भीतर रह रहे संव र्धित सिखाया Trinitarian धर्मशास्त्र, हमने संतोषजनक नहीं है ----- इस बात के साक्ष्य हैं कि शीघ्र ही ईसाई धर्मशास्त्र में विश्वासकरना मूल्योंके संवर्धन, जो उस समय बहुमत से संव र्धित गठित हमेशा) संभवत: यह सच नहीं है तो उसके उत्तराधिकारियों के मूल जी-हजूरी करते फिरते Trinitarians

 

 

धर्मशास् त्र के ईसाई बहुमत के भीतर प्रथम तीन शताब्दियों

 

 

से बिशप क्लेमेंट रोम (58-101) 1398 - क्लेमेंट भाइयों ने लिखा था, "हम ऐसा होना चाहिए कि ईसा मसीह रक्षा, ईश् वर के जज के त्वरित और मृत।" 2. 1:1 क्लेमेंट दूसरे क्लेमेंट एक अनजान लिखी थी, लेकिन जल्दी ही लडा है। इस तरह (लेखक) चर्च के इतिहास में पहली शताब्दी के इस पुस्तक 3355 बिशप रोम के हैं। के धर्मदूत पॉल सूचियां क्लेमेंट Philippians में 4:3 के रूप में सहायता प्रदान की जाए ताकि उन्हें मंत्रालय में यह है कि उसके धर्मशास्त्र से सीधे प्राप्त संभाव्य क्लेमेंट जी-हजूरी करते फिरते हैं।


 

ईश्वर के बारे में सोचा क्लेमेंट ईसा मसीह रक्षा करता है जो न् यायाधीश और रहन-सहन की मौत हो गई है। यह सूचना किसी व्यक्ति के रूप में उल्लेख नहीं क्लेमेंट क्राइसट दूसरे दैवी देवता की तीन व्यबक्त हैं।

पै.गंबर Hermas, 1398 ----- (60-105 रोम में 16:14 सूचीबद्ध है Hermas पॉल विविसंहिताएं, ऐसा प्रतीत होता है कि व्यक्तिगत रूप से जानते हैं। पॉल पुरोधा Hermas रोम में एक बिशप के रूप में सूचीबद्ध भी Hermas क्लेमेंट भेजा जिसने अपनी पुस्तक "नामक की प्रतियां देशभर में'' के नाम से जाना जाता है। विश्व के Hermas गल्लाबान कैथोलिक विद्वानों ने दावा करने की कोशिश की कि गल्लाबान ofHermas लिखा गया था क्योंकि दूसरी शताब्दी के अंत में वे नहीं चाहते कि चर्च के शीघ्र मानता हूं कि रोमन पहली शताब्दी ईसा की स् थापना में स्वयं को जी-हजूरी करते फिरते baptized (6:1-7) और ऐसा माना जाता है कि विविसंहिताएं नाम की भावना के पुत्र के देवता के पवित्र आत्मा (8:9) विविसंहिताएं

 

 

चूंकि गड़ेरिए के Hermas ने कहा - 'शास्त्र के शीघ्र चर्च पिताओं (जिसमें Tertullian बहुमत के रूप में स्वीकार किया गया और शास्त्र, ईसाईयों की दूसरी शताब्दी के प्रथम विश् वयुद्ध के दौरान गड़ेरिए Hermas अवश्य हुआ शताब्दी ईसवी के लिए क्यों की दूसरी सदी के रूप में स्वीकार नहीं किया गया तो यह ईसाई धर्म ग्रन्थविवाह पहली शताब्दी के दौरान लिखी है? कृष् णमणी Hermas के लिए बाध्य थी कि से न्यू टेस्टामेंट में कोडेक्स Sinaiticus और कोडेक्स Claromontanus लेकिन चौथी सदी कैथोलिक चर्च द्वारा अस्वीकारकर दिया गया।

 

 

देवता के बारे में लिखा, ''Hermas ईसा की पूर्व-स् वातंत्र्य पवित्र आत्मा जो ईश्वर ने सभी चीजें उत्पन्न करने के पासविशेषाधिकार के शरीर में स्वयं को चुना।" गल्लाबान मांस 5:6

यदि Hermas Hermas की आत्मा जैसा चहती है और 21वीं शताब्दी में विश् वास त्रिमूर्ति Hermas रोमन चर्च 5:6 को

'प्री-स् वातंत्र्य उनके पुत्र ने कहा है कि ईश्वर को मांस का एक निकाय में लैंगिक प्रजनन की घोषणा करता है कि ईश्वर की पवित्र आत्मा' अभी Hermas सभी जगह स्वयं एक निकाय में ''खुद को चुना है।" Hermas मांस का मानना है कि यह स्पष्ट है कि ईसा के देवता की पवित्र आत्मा!

'मेरे पास आए और उन्होंने लौंग के को अपने किए पर मुझसे कहा है, मॅँ यह दिखाना चाहते हैं तो आप क्या आप के साथ बातचीत की है जो पवित्र आत्मा के रूप में दिखाया गया है कि चर्च के लिए आप ईश्वर की भावना के पुत्र हैं।''(3:8:9 / 2 की कॉरिनथियंस पॉलिस्टा टीमें भाग देखिए विविसंहिताएं Ephesians 4:6. 17 /

 

 

चूंस ९ तथामहत्वपू ाव चर्च का इतिहास साबित करने के लिए [Setup] का व्यापक रूप से प्राप्त किया गया था

तथा चरवाहा Hermas एंजेल ने स्वीकार शीघ्र रोमन ईसाई, यह स्पष्ट है कि ये रोमन ईसाई भी माना जा रहा है कि ईश्वर की पवित्र आत्मा परमात्मा की भावना है कि स् वयं incarnating शिशु के पुत्र बना। जिसस द्वारा अत:, जो कुछ करते रहते थे, ईसाई शीघ्रातिशीघ्र लेखकों (जी-हजूरी करते फिरते थे) अभी भी जीवित है, ईश् वर की पवित्र आत्मा की घोषणा का मानना है कि सभी जगह एक निकाय की अपेक्षा एक दूसरे दैवी व्यक्ति 'ईश् वर का आरोप लगाया जाता है कि रोम में चर्च की

भावना है कि ईश्वर के पुत्र और पवित्र आत्मा शरीर द्वारा संचालित किया जाना चाहिए baptism पानी में गोता पूरा नाम के पुत्र का ईश् वर है।] [क्राइसट यह वास्तव में आधुनिक Apostolic ईसाई धर्म का मानना है कि यद्यपि वे heretics की भर्त्सना की थी।

 

 

की शिक्षा के बहुमत द्वारा स्वीकार किया गया है कि Hermas संव र्धित में पहली और दूसरी शताब् दियों में स्पष्ट रूप से harmonizes आदेशों के न्यू टेस्टामेंट शास्त्र है। नई संव र्धित किया जाता है और इस नाम के पश्चाताप खातिब baptized ईसा मसीह रक्षा के लिए अपने र९फॊगियों 2:38) अधिनियम (गुनाहों चूंकि गड़ेरिए के प्रथम शताब्दी के अंत में मिली Hermas रोमन चर्च के साथ चर्च के अधिकांश पूरे रोमन साम्राज्य के बहुमत से शीघ्र ईसाई धर्मशास्त्र और पानी की बाहों में अवश्य हड़ताल करने के नाम पर इसकापूरा baptism ईश्वर के पुत्र हैं।

 

 

आन्तरिक तथा बाहरी साक्ष्य से सिद्ध होता है कि गल्लाबान का व्यापक रूप से प्राप्त किया गया है और सार्वजनिक Hermas द्वारा पढे गए अधिकांश ईसाई देश भर में पहली और दूसरी शताब्दी रोमन साम्राज्य (गड़रिए को स्पष्ट रूप से दर्शाया जाता है और धर्मशास्त्र Hermas baptism में हड़ताल करने के नाम की घोषणा के बाद स् वयं Tertullian); और (एक प्रतिद्वंद्वी माना कि अधिकांश शीघ्र मूल्योंके संवर्धन धर्मशास्त्र) तीसरी शताब्दी ईसवी) (205-225 हड़ताल करने में अभी भी ईसाई, यह स्पष्ट है कि इनमें से अधिकांश पहली और दूसरी शताब्दी ईसाई थे उनके विश्वास में Monarchian Modalistic [इसी अध्यापन के आधुनिक मूल्योंके संवर्धन धर्मशास्त्र)।

 

 

इन कहां से 21वीं शताब्दी के ईसाई धर्मशास्त्र मूल्योंके संवर्धन मिल है? चूंकि ये दोनों रहते हैं जबकि कुछ जी-हजूरी करते फिरते ईसाई शीघ्र अभी भी जीवित है या उनके जीवनकाल के दौरान, यह स् पष् ट है कि वे उसके उत्तराधिकारियों को प्राप्त होने से पहले ही.जी-हजूरी करते फिरते शताब्दी धर्मशास्त्र मूल्योंके संवर्धन Ignatius बिशप का Antioch एशिया में मामूली (1021 69-117) - Ignatius बिशप का Antioch द्वारा नियुक्त किया गया था और बाद में स्वयं जॉन पुरोधा पहली शताब् दी है।

 

 

बिना किसी को जोड़ने का पूर्ण सिखाया Ignatius ईसा के बाद की देवता की शब्दावली Trinitarian है।

"... देवता प्रकट हुआ तो वैसी ही में मनुष् य के जीवन के नयेपन ने स्वीकारा शाघवत।" 19:3 Ephesians Ignatius को केवल एक चिकित्सक, मांस तथा है।"की भावना पैदा करना, [Setup] [Setup], ईश् वर और ingenerate uncreated बनाया, मनुष्य में सत्य जीवन में मृत्यु के पुत्र और ईश् वर के पुत्र मैरी पहले passible [Setup] [impassible सक्षम या अक्षम की भावना को कष्ट और तब हमारे प्रभु ईसा मसीह रक्षा], दर्द हो रहा है.'' 7:2 के Ignatius Ephesians

 

 

[Setup] पैदा हुई थी कि सिखाया Ignatius के पुत्र के रूप में ईश् वर है। यदि वह शाश्वत है।इसका कारण यह है कि पुत्र कैसे सृजित की गई है? यह भी पता चला Ignatius की पहचान करते हुए कहा कि ईश् वर के रूप में बने जो मांस द्वारा भी वह भी ingenerate] [uncreated को प्री-स् वातंत्र्य की भावना भर देती है, जो ईश् वर और आकाश धरती है। बाद में पुत्र बनाया गया एक महिला ने () वह पहले passible [Setup] किंतु बाद में दर्द पीडित सक्षम संभावितबहाली वे लौटे मूल impassible कष्ट उठा पाने में असमर्थ है।] [राज्य का दर्द सिखाया जाता था और mentored Ignatius द्वारा किए जाने की संभावना है ताकि स्वयं जॉन पुरोधा

 

 

ईसा मसीह रक्षा Melito ने लिखा है कि दोनों के पिता और पुत्र

जन् म पुत्र के रूप में 8 : ", तथा मेमने के नेतृत्व में, और एक व् यक् ति के रूप में, और वह दबा धरों भेड़ों से बढ़कर ईश् वर की प्रकृति द्वारा किया जा रहा है, जैसा कि मृतकों में और

वह सभी बातों के लिए 9." "परिशष्ट- क्योंकि वह न्यायाधीशों, विधि; क् योंकि वह सिखाता है; क् योंकि वे शब्द की बचत होती है; क् योंकि वे लावण्य, क् योंकि वह पूर्वजनित कनपटी, पिता और पुत्र; क् योंकि वह पीडित है; क् योंकि वह दबा होता है, आदमी, भेड; क् योंकि वह ईश्वर को उठाया है।'

 

 

'10 है, जिसे ईसा मसीह को हमेशा के लिए गौरव जाना सुविधाएं हैं।'' (पृ. 5, 7. स्टुअर्ट जॉर्ज कक्ष आक्सफोर्ड शीघ्र ईसाई ग्रंथों / Clarendon प्रेस 1979) के साथ ही Quasten सरकारीनौकरों patristic विद्वान, परजोर patristic आकलनों के विद्वानों यह कक्ष और Bonner Melito Sardis की संभावना में विश् वास Modalistic Monarchianism (मूल्योंके संवर्धन धर्मशास्त्र)। निम्नलिखित शब्दों में से 1 के खंड (3), खंड में अपना प्रसिद्ध Patrology Bonner के अंग्रेजी अनुवाद का उपबंध किया गया है कि उपर्युक्त के पारित होने के साथ-साथ कुछ अपनी पैअा नहींहोता है। "शीर्षक "पिता के लिए एक असाधारण ईसा है। यह एक महत्वपूर्ण अंश का वर्णन विभिन्न कार्यों के लिए ईसा के रूप में पैदा हुआ और पुत्र बलि का बकरा के रूप में, एक भेड़ से दबा एक मनुष्य के रूप में, वे ईश् वर से बढ़कर मृतकों में ईश् वर और मनुष् य की प्रकृति द्वारा किया जा रहा है।

 

 

जो सभी बातों में वह न्यायाधीशों, कानून में वह सिखाता है कि वह इस शब्द की बचत होती है कि वह कनपटी, शालीनता, में, पिता, कि वह पूर्वजनित, पुत्र, पुत्री, कि उन्होंने पीडित हैं, बलि भेड़ों में दबा दिया जाता है कि वह मनुष् य में वह ईश्वर उठता है,। यह किसके लिए गौरव के वंशज ईसा मसीह रक्षा की आयु के आयु (8-10 Bonner)" में भी अत्यधिक सम्मानित patristic विद्वान, साथ ही Quasten विडवासदर्शाया है, जब वह Sardis Melito Monarchianism के स् पष् ट Modalistic ने लिखा था-- "इस पूरी की पहचान की जा सकती [Setup] देवता के साथ करोगे और ईसा की व्याख्या के पख्र में monarchian modalism....। यदि यह स्थिति है और अंतत: उपेक्षा की व्याख्या की हानि के साथ ही, Quasten Melito।" (1, 1986, पृ. 244, वॉल्यूम Patrology reprint आगे लिखा कि "मातृभाषा के Melito) लार्ड उनकी पवित्र आत्मा (8)

 

 

चूंकि' Ante-Nicene निर्माताओं की मात्रा को पवित्र आत्मा को देता Melito मातृभाषा में भगवान का मानना है कि उन्हें फिर पवित्र आत्मा है, वही दैवी व्यक्ति को ईश् वर के पिता है। वह ईश् वर के लिए एक पृथक व्यक्ति को जीभ से कैसे कर सकते हैं? स्वयं इसके अतिरिक्त Melito ने लिखा है कि "यह पवित्र आत्मा के लिए अपनी अंगुली को भगवान" - "league कानून की ओर पलायन कर रहे हैं, जिसका संचालन को लिखा है।'' (8) में खंड 1:34 पलायन निर्माताओं Nicene यथापूर्व स्थिति का पता चलता है कि ''Yahweh मूसा ने" - "मैं इन पर लिखना होगा कि शब्दों की गोलियों की पहली फॉलिक' नामक Trinitarian विद्वानों ने ''धर्मशास्त्र का Melito Modalism उससेयह अपेक्षा करना मूर्खता है।

 

 

" Trinitarian विद्वान स्टीवर्ट

साइक्स लॉ ९ॉलेज बताने का प्रयास किया और शीघ्र ही क्यों Melito ईसाई धर्मशास्त्र Trinitarian द्वारा बाद में विश्वास नहीं करते हुए कहा, ''हमें यह समझना चाहिए कि Melito साक्षी सत्य के रूप में यह समझा जाता है कि रूढ़िवादी विश् वास है और दिन में धीरे-धीरे का पता चला है।'' (Melito Sardis OnPascha की है। 3. 7. 1. सेंट व्लादिमीर का धर्म प्रशिक्षणालय, 2001, पृष्ठ 29) दबाएँ, Crestwood एवंराजसहायता

बनाने के लिए और अधिक अर्थ यह नहीं है कि वह शीघ्र से शीघ्र ईसाइयों ने मूल सिद्धांत को जी-हजूरी करते फिरते की सच्चाई की अपेक्षा है कि बाद के तथाकथित Trinitarian रूढ़िवादी विश् वास करने की आवश्यकता है?'' ''धीरे धीरे बाद में पता चला। विद्वान मानते हैं कि सभी विद्वानों के चर्च के नेताओं के शीघ्र ईसाई धर्मशास्त्र के इतिहास का समर्थन नहीं करता है. आधुनिक Trinitarian धर्मशास्त्र

 

 

एक दूसरी शताब्दी में देरी Praxas एशिया से यात्रा करने वाले छुटपुट ministered शिक्षक के रूप में अफ्रीका, एशिया, रोम में है। उनके द्वारा प्राप्त शिक्षण Monarchian Modalistic ईसाई बहुमत सहित, दूसरी शती में ईसाईयों शहर में रोम कैथोलिक चर्च के बाद उनकी रचनाओं को जला दिया जाना चाहिए, ताकि हम 'कार्य' के खिलाफ पर भरोसा Tertullian Praxas अपने धर्मशास्त्र को जानना उनका कहना है, ''लिखा Tertuallian केवल भगवान, भगवान सृजनकर्ता, संसार की रुचि … उनका कहना है कि खुद अपने पिता को जन्म घटकर, बंजर पड़ा, वास् तव में खुद को अपने स्वयं के


 

अध्याय 1 Praxas ईसा मसीह रक्षा …'

 

 

(230 ईस्वी) एशिया और रोम के Noetus गौण - "मैं एक आवश्यकता है, ईश् वर के तहत स्वीकार किया है।इस विषय पर एक ९ा सामना ९रना पड रहा है। ईसा के लिए ईश्वर और अमेरिका के कारण क्षति bein

 

 

इस प्रमुख कैसे सूचना शीघ्र ईसाई शिक्षक रोम में पढाया जाता है कि 'लोगो'

शब्द 'अनुवाद ग्रीक शब्द ''(जॉन 1:1. प्रारंभ में, जो "ईश्वर के साथ किया गया था।" (ईश् वर की गुणवत्ता पर एक निर्वैयक्तिक एक दूसरे दैवी व्यक्ति नहीं है जो बाद में मनुष्य को ईसा मसीह indwelt) और पवित्र आत्मा नहीं था बल्कि ईश्वरत्व की अभिव्यक्ति मात्र "व्यक्तिगत सत्ता का पिता है।"

 

 

यह एक ऐतिहासिक तथ्य है कि सभी को जल्द से जल्द रोमन कैथोलिक (अब उन् हें Popes बिशप्स) समझा जाता है।जब तक गुटीय विभाजित हुई धर्मशास्त्र मूल्योंके संवर्धन रोमन चर्च (उभरते एरियन सोचा) के समय (ईसवी सन् 199-217) रोमन बिशप्स Zephyrinus (ईसवी सन् 217-223) Callixtus बिशप Callixtus बिशप कौन है जिसे वेदांत के मूल्योंके संवर्धन में विश् वास पोप के रोमन कैथोलिक चर्च है। अत: सभी तथाकथित Popes चर्च में विश् वास के बजाय Trinitarian मूल्योंके संवर्धन धर्मशास्त्र रोमन शीघ्रातिशीघ्र धर्मशास्त्र

 

 

अभियुक्त के रोमन बिशप Callixtus Hippolytus (एक रोमन शिख्रक शिख्रण) के साथ एक छोटे से पृथक निम्नलिखित दो देवताओं पर आस्था सत्य के बजाय] [ditheism हरमों [एक ईश्वर के प्रति विश्वास पैदा करते हैं कि ईश्वर की घोषणा के रूप में पढाया।] क्योंकि Hippolytus मानव-पूर्व दूसरे दैवी जा रहा था, जो ईश्वर) कम (ईश् वर के प्राधिकार के पिता है। ऐतिहासिक साक्ष्य के बहुमत सिद्ध होता है कि वह शीघ्र से शीघ्र रोमन ईसाई धर्मशास्त्र में हड़ताल करने के बजाय एरियन या Trinitarian थे। हमारे अपने निजी मान्यताओं के बावजूद, हम मानते हैं कि अधिकांश शीघ्रातिशीघ्र ईसाई धर्मशास्त्र के प्रथम दो शताब्दियों में हड़ताल करने में विश्वास नहीं था कि सत्य की बजाय Trinitarian धर्मशास्त्र और जीवन के पहले तीन शताब्दियों में ईसाई Trinitarians इतिहास है। सबसे पहली तीन शताब्दियों के कथित Trinitarians समझा जाता है कि वास्तव में इतिहास ईसा मसीह पैदा हो रहा था-देवताओं के मेहराब (जैसे एक पूर्ण किया जा रहा है) के बजाय ईडवर वर

 

 

अत: इस ऐतिहासिक प्रमाण इतिहास के बारे में निम्नलिखित तथ्यों को साबित किया :- (

 

 

क) की आरंभिक ईसाई धर्मशास्त्र Trinitarian चौथी शताब्दी के समान नहीं था कैथोलिक चर्च द्वारा आयोजित धर्मशास्त्र और पोस्ट Apostolic Apostolic ईसाइयों के पहले कुछ शताब्दी की है।

 

 

(ख) उसी धर्मशास्त्र Modalistic Monarchian ईसाई (जैसा कि हमेशा से अधिकांश'' का गठन संव र्धित) हड़ताल करने के शुरू के दिनों में ईसाई

 

 

(ग) के पूर्व के विकास का एक त्रिमूर्ति Modalistic बहुसंख्यक थे जो कि ईश् वर के बच् चों को पूरी तरह पढ़ाई ईसा मसीह रक्षा तडफडाती हैं।

 

 

2. अधिकांश कथित TRINITARIANS की दूसरी और तीसरी शताब्दी के प्रारंभ

 

 

नहीं मानते हैं कि ईश्वर की घोषणा की थी कि शाश् वत

 

 

इनमें अधिकांश आधुनिक Trinitarians नहीं जानता है कि अधिकांश तथाकथित Trinitarians की दूसरी और तीसरी शताब्दी के प्रारंभ में सभी Trinitarians वास्तव में नहीं थे।वे वास्तव में इस बात का खंडन किया कि जो Arians पुत्र अपने पिता के समान ही शक्तिशाली ईश्वर है। न ही ये आरंभिक तथाकथित Trinitarians का मानना है कि विगत 07 अनंतकाल से हमेशा क्राइसट वास्तव में, वे सिखाया कि पुत्र Jehovah साक्षियों की तरह ''क'' के रूप में नहीं किया जा सका, लेकिन वे ईश् वर के पिता जैसा सर्वशक्तिमान उनका पुत्र और अधीनस्थ घटिया सिखाया गया शासन करने का प्राधिकार के अधीन ईश्वर पिता है।

 

 

Tertullian और अन्य तथाकथित शीघ्र Trinitarian लेखकों के पहले कुछ सदियों से ईसाई धर्मशास्त्र का युग में विश्वास नहीं है और यही Trinitarian प्रोटेस्टेंट रखें। आज केथोलिकों विद्यावली कैथोलिक भी मानते हैं कि शब्द के लिए जमा (Tertulian coining त्रिमूर्ति) का खंडन किया कि जब वह पुत्र की कथित eternality ने लिखा था, "एक समय था जब कोई पुत्र को पुन: ''कुछ क्षेत्रों में कैथलिक विद्यावली कबूल नहीं, Tertullian धर्मशास्त्र का विचार हैं, पूरी तरह स्वीकार्य नहीं है। इस प्रकार, उदाहरण के लिए, अपनी शिक्षा को पता चलता है कि पिता से पुत्र की अधीनता त्रिमूर्ति बाद स्थूल रूप में पूरी तरह से इनकार Arianism Arianism (ईसा की देवता) चर्च ने खारिज कर दिया क्योंकि यहां अनेक उदाहरण हैं।" heretical दिखानेवाला जो कथित Trinitarians की दूसरी और तीसरी शताब् दियों में वास्तव में माना जाता है।

 

 

जबस्टन (138-165 ईसा पूर्व) : "ईश्वर begat सभी प्राणियों का आरंभ, जो कुछ कहा जाता है, जो तर्कसंगत ऊर्जा से खुद को पवित्र आत्मा … गौरव को भगवान, पुत्र, पुत्री, फिर एक बार फिर बुद्धिमत्ता, ईश् वर और उसके बाद, लौंग लार्ड और लोगो' के साथ बातचीत Tryphoch है। 61

"... है और कहा जाता है कि, एक ईश् वर और भगवान के अध्यधीन है जो किसी भी कहते हैं, इन सभी बातों के निर्माता

 

 

यद्यपि क्लेमेंट सिकंदरिया ही नहीं की व्यक्ति को रोम में क्लेमेंट) ने लिखा कि शाश् वत पुत्र (Trinitarians उपयोग इन अंशः साबित करने के लिए वह सच Trinitarian), फिर भी आरोप लगाया कि पुत्र ने एक बार जब वह सब के सृजन से बनाया गया था। अत: उनका मानना था कि स् पष् टतया सिकंदरिया में क्लेमेंट किए जाने की घोषणा की गई थी कि वह शाश् वत (07), लेकिन कभी अनंतता से जीवन में शाश्वत है।

 

 

सूचना का आरोप है कि कैसे क्लेमेंट पुत्र तथा पवित्र आत्मा को "पहली संतान शक्तियों'' ''पहले बनाया गया है कि कैसे कर सकते है और दिव्य coeternal coequal तथाकथित दो व्यक्तियों की त्रिमूर्ति कहा "पहली संतान पैदा कर सकते हैं?'''' और ''पहले अर्थात् सर्वशक्तिमान ईश्वर का सृजन किया जाना है और अभी भी अर्थात् सर्वशक्तिमान ईश्वर है? सिकंदरिया में उद्धृत है जो Trinitarians क्लेमेंट साबित करने के लिए कुछ प्रारंभिक ईसाइयों में विश्वास नहीं होता कि आपको बता दूं त्रिमूर्ति क्लेमेंट भी अपनाया है कि शिख्रण की ओर से कम-से-कम Gnostic क्राइसट केवल को नुकसान हुआ "सेवियर के संबंध में करते हैं....। उन् होंने, शरीर की खातिर नहीं था, जो अपना अस्तित्वबनाए रखने से एक पवित्र शक्ति है....। वह कोई सामान्य निरावेगी है और उन्हें क्या सुख भावना का आंदोलन। इसऐने

 

 

(190-235 ई.) या दर्द।" Hippolytus रोम: अभियुक् तों के रोमन बिशप्स Zephyrinus Calixtus Modalistic Monarchian [Setup] हड़ताल करने के और धर्मशास्त्र और अपनी अलग चर्च रोम में शुरू ईश् वर ने लिखा है कि "यह एक ईश्वर Hippolytus की पहली और एकमात्र, विधाता'', जो ''भगवान और कुछ नहीं था, लेकिन वह एक समान आयु के साथ … अकेले स्वयं यह कहा जाता है, तैयार किया जा रहा है, जो पहले ही नहीं था में पूर्व मानव निर्मित [क्राइसट].''

 

 

ये तथाकथित Trinitarian निर्माताओं को वास्तव में एरियन पिताओं (जैसे कि सिखाया Jehovah गवाह), क्योंकि वे ईश् वर को एक और व्यबक्त की घोषणा का सृजनकिया गया था (पूर्व) की तरह ही मानव जीवन को देवताओं ९ा सृजन स ९या ाया। तथापि, 11:43 Isaiah साबित होता है कि ईश्वर के बाद गठित किया जा सकता था।ईश् वर पिता है : 'मेरे सामने नहीं बनाया जाएगा, न हो जाने के बाद, मॅँ भी मुझे मेरे पास कोई मसीहा माना जाता हूं और YAHWEH।" अत: यदि हम चाहते हैं कि हमारे प्रभु ईसा मसीह रक्षा को समझने के लिए है, तो हमें यह समझना चाहिए कि वे "सेवियर ईश्वर से हमें एक व् यक् ति'' का एक अंग है :--- ''खुद का भंडाफोड Yahweh

 

 

सिकंदरिया (203-254) के साथ ही इतिहासकार चर्च Origen : प्रथम Origen Quasten उद्धृत किया है कि ''सिखाने के लेखक को स्पष्ट रूप से ईसाई कभी भी नहीं था।'' (पुत्र) का पुत्र जब Hebr है। मॅँ, (3)। तब यह स्वीकार किया कि ''Origen Quasten के सिद्धांत का प्रतिनिधित्व करती है... एक उल्लेखनीय प्रगति के विकास में एक दूरगामी प्रभाव पड़ा और धर्मशास् त्र Patrology खंड 2, पृष्ठ 78) (शिख्रण अधीनकार्यरत गिरजे।" अत: Quasten ने स्वीकार किया कि ''के विकास की इच् छा Origen शाश्वत पुत्र को चर्चन्यायालयों से प्रभावित' के सिद्धांत का विकास त्रिमूर्ति है। यद्यपि पहली Ante-Nicene Origen प्रतीत होता है कि यह एक पुत्र पिता को शिक्षित व्यक्ति (समान शाश् वत क्लेमेंट सिकंदरिया) अपने गुरु, उन्होंने इस बात से इनकार किया कि उनके पुत्र को सबसे अधिक स् वयं ईश् वर है।

 

 

"कुछ व्यक्तियों के बीच हो सकती है कि अनुदान समाधााननिकालने के साथ सहमत नहीं हैं जो पूरे संव र्धित अमेरिका, जो सबसे अधिक सरासर incautiously रक्षक देवता है; हालांकि हम उनके साथ नहीं, बल्कि उनका विश्वास है कि जब वे कहते हैं, ''मेरे पिता कौन भेज दिया गया है। 1. 8:14 से ज्यादा...'' वैषम् Celsus अधीन करना औरकमजोरों नहीं है, लेकिन पिता से पुत्र को नीचा उसे Contras Celsus 8:15"से आसानी से किया जा सकता है और ऐसे ही पाठांशों का आरोप है. subordinationism Origen क्यों समझते

 

 

यह बिल्कुल स्पष्ट है कि वे एक पूर्वकल्पना सोपानिक और त्रिमूर्ति में व्यवस्था के संबंध में भी नीचे पदस्थ पवित्र आत्मा के पुत्र हैं।'' के साथ ही Quasten Patrology खंड 2, पृष्ठ 79. दर्ज किया गया है क्योंकि यह बताने के लिए Origen Monarchian हैं कि ''दो Heraclides बिशप) मूल्योंके संवर्धन (देवी-देवताओं के बारे में जानकारी पान क्रमांक 64.'' (Patrology खंड 2, अत:, जैसे कि सिखाया Origen गवाह को आधुनिक Jehovah मसीह को कम ईश्वर के पिता का सबसे ऊंचा स् वयं ईश् वर है।

 

 

बार-बार इस बात का खंडन किया कि ईसा के लगभग बराबर ही था क्योंकि शक्तिशाली Origen देवता उनके ब्रांड के कथित Trinitarianism का भी खंडन किया कि ईश् वर के देवता भगवान ईसा मसीह रक्षा पूर्ण है। इसके अतिरिक्त, शास्त्र के ऐतिहासिक परिशुद्धता से वंचित Origen ofsome जिसस ने इस बात का खंडन किया कि एक भौतिक शरीर में उठाया गया है और अंतत: सिखाया कि सभी लोगों को बचाया जाए।

 

 

जो कथित रूप से उद्धृत Trinitarians Trinitarian लेखकों क

 

 

3. TRINITARIAN ATHANASIAN पंथ के 400 वर्ष पहले अज्ञात था चर्च का

इतिहास है। विश् व-विख् यात विद्वानों और ईसाई धर्मशास्त्र का मानना है कि यह पूरी तरह विकसित Trinitarian पांचवी शताब्दी में बनाया गया था कि रोमन कैथोलिक चर्च द्वारा स्थापित नहीं ९रनाचाहिए। तीन शताब्दियों के पहले के ईसाई विश्वकोश का रिकार्ड आचार और धर्म के पहले के ईसाई धर्म नहीं था : "Trinitarian....। यह किसी भी आयु के apostolic और उप-apostolic में न्यू टेस्टामेंट और अन्य आरंभिक रचनाओं से ईसाई


 

हैं, ''नई उदार विद्यावली'' एक ईश्वर में तीन व्यबक्तयों को तैयार नहीं था।''

की स्थापना, निश्चित रूप से पूरी तरह समावेश नहीं ९रनाचाहिए और उसके जीवन में ईसाई धर्म के व्यवसाय के पूर्व theend चौथी शताब् दी है....।

 

 

संविधान निर्माताओं ने Apostolic में तनिक भी कुछ ऐसी मानसिकता को प्रारंभकरने के परिप्रेक्ष्य या लेखकों के पहले तीन शताब्दियों में कथित रूप से अधिकांश Trinitarian' नहीं लगता कि पुत्र को सहयोग और सह-अस्तित्व ईश्वर के साथ अपने पिता के समान सदा अनंतता भर है।

 

 

गवाह को यथाशीघ्र जैसे Jehovah तथाकथित Trinitarians माना जा रहा है कि जैसे ही बनाया गया पुत्र को देवताओं का सृजन करने से पहले बनाया गया था। अत: यह Modalistic Monarchians हड़ताल करने के समान (धर्मशास्त्र), जो कि ईसा से पूरा विश् वास था कि ''देवता के गठन के बहुमत से संव र्धित सदैव दूसरे और तीसरे प्रारंभ शताब्दियों में' के बजाय कथित Trinitarians है।

 

 

यह माना जाता है कि ईश्वर को पूरी तरह ईसा मसीह रक्षा Modalistic Monarchians ईडवर किंतु अधिकांश

तथाकथित दूसरी और तीसरी शताब्दी में वास्तव में Trinitarians Arians [Setup] क्योंकि उनमें से अधिकांश जैसे Jehovah गवाह कम होने की घोषणा की कि ईश् वर के पिता को सदा अपने अधीनस्थ अत: हम इस निष्कर्ष निकाला जा सकता है कि चौथी शताब्दी Trinitarians (कैथोलिकों) जो बाद में विश् वास था कि उधार के पुत्र और सह-coequality eternality के शब्दों ''त्रिमूर्ति' और 'तीन व्यबक्तयों की दूसरी और तीसरी शताब्दी Arians' से इनकार जो पूर्ण रूप से ईसा मसीह रक्षा देवता भगवान ईश्वर है।

 

 

'Tertullian अधिकांश ईसाइयों में रहने वाले अपने दिन 'Modalistic [Setup] [Monarchians साधनों में बहुवचन प्रचालन ईश् वर एक राजा अथवा शासक]" रखा, क्योंकि वे परम एकैश्वरवादात्मक शिक्षाओं के इब्रानी और यूनानी पारायण करते समय में विश्वासकरना पूर्ण देवता के पुत्र और पवित्र साधनों के रूप में भावना है कि ईश्वर पिता या साधनों की एक सही [Setup]. इसी के समान होता है कि शिख्रण Modalistic Monarchianism आधुनिक Apostolic आंदोलन को दबा कर रखें] [मूल्योंके संवर्धन Pentecostals आस्था है।


 

जबकि यह प्रमाण नहीं है, यह सिद्ध करने का कोई अर्थ मूल्योंके संवर्धन धर्मशास्त्र का मानना है कि ज्यादातर ईसाई शीघ्र ही रहने वाले को समय पर आयोजित की मूल शिक्षाओं के पवित्र जी-हजूरी करते फिरते हैं। जी-हजूरी करते फिरते पहली शताब्दी इसी विश् वास था कि एक बार डिलीवर हो सकती है (4) प्रमुख बने जूड़ गींतों में संतों के दौरान कुछ सदियों से ईसाई इतिहास है।

 

 

अध्याय - 3

 

 

के सिद्धांत की

 

 

'बाईबल त्रिमूर्ति नहीं है, वरना उन्होंने बैशाली नहीं जोड़, तुम अपने शब्दों की शाबाशी तुझे, और तुम हो पाया।" 30:6. स्वास्थ्य कार्यकर्ता अक्सर पहले एक मिथ्यावादी अधिकांश लोगों का कहना है कि वे ईश् वर का मानना है कि यह एक त्रिमूर्ति को तीन दैवी व्यक्तियों को इस सिद्धांत को कभी भी नहीं समझते है कि किसी भी सिखाया हिब्रू धर्मदूत या उपदेशक बाइबल के हैं।

 

 

इस सिद्धांत को पूरी तरह से

विकसित किया गया है और न ही पांच शताब्दियों तक ईसा के बाद की मौत। ''शब्द का प्रयोग करने के लिए, पहले व्यक्ति थे जिन्होंने Carthage ministered Tertullian त्रिमूर्ति' के भीतर एक सौ साल की मौत के बाद मौलिक जी-हजूरी करते फिरते हैं। यह माना गया था, जो खुद अपनी रचनाओं में Tertullian है कि ''उन्हें हमेशा गठन के बहुमत से संव र्धित ठुकराया त्रिमूर्ति है.''

 

 

इससे सिद्ध होता है कि चर्च के इतिहास में पहली बार दो शताब्दियों में रहने के दौरान ईसाई बहुमत और

तीसरी शताब्दी की शुरुआत में विश् वास था, उसी अवधि के विद्वानों Modalistic Monarchianism अध्यापन के आधुनिक युग की हड़ताल करने के अनुसार धर्मशास्त्र Apostolic आस्था मूवमेंट (भी कहा जाता है) के मूल्योंके संवर्धन Pentecostal ब्रह्मविग्यान अधिकांश Trinitarians धमोश कापालन नहीं जानता है कि अधिकांश शीघ्र से शीघ्र ईसाई खारिज की संकल्पना को तीन दैवी व्यक्तियों त्रिमूर्ति शीघ्र ही, दैवी तीन व्यक्तियों का सिद्धांत Trinitarian था क्योंकि इन सिद्धांतों के अनुरूप Jehovah गवाह कथित Trinitarians नहीं लगता कि पुत्र था और coequal coeternal से

 

 

ईसाई बहुमत से संव र्धित Tertullian कहते हैं जो अपने त्रिमूर्ति को अस्वीकार कर दिया, ''दिन Modalistic Monarchians' है क्योंकि ये आरंभिक ईसाइयों ने कहा है कि वे ईश्वर के व्यबक्त के तीन अलग-अलग तरीकों में प्रचालित किया जा रहा है या अपने अस्तित्व के साधनों की एक राजा था जबकि शेष है।] [राजा अथवा शासक यह है कि 'Modalistic Monarchianism Tertullian सरल शिक्षा' द्वारा अपनाया गया था, जो क्रिश्चियन अधिकांश ईसवी सदी का दूसरा के भीतर श्रद्घालुओं ने जहां इन आरंभिक ईसाइयों ने अपने उपदेशों? चूंकि इन शीघ्रातिशीघ्र ईसाई रहते हैं ताकि बंद करने के समय इस बात की पूरी संभावना है कि वह अपने मूल शिक्षाओं से प्राप्त जी-हजूरी करते फिरते को जी-हजूरी करते फिरते हैं।

 

 

ऐतिहासिक साक्ष्य को साबित करता है कि वह शीघ्र से शीघ्र प्राप्त करने वाले ईसाई धर्म Apostolic

न्यू टेस्टामेंट धर्मग्रंथों और उनके उत्तराधिकारियों के फौरन बाद Apostolic Trinitarian:

सचित्र शब्दकोश बाइबल नहीं थे :--- ''शब्द त्रिमूर्ति रिकार्ड में नहीं पाया जाता, कुरानऔर बाइबल है....। यह स्थान नहीं मिल पाता।औपचारिक धर्मशास्त्र का

नया कैथोलिक चर्च पर चौथी शताब्दी तक है।' 'त्रिमूर्ति विद्यावली स्वीकार किया है कि ईश्वर और तत्काल सीधे...नहीं है।'

 

 

'पहली आचार और धर्म के विश्वकोश रिकॉर्ड्स ईसाई धर्म नहीं था.... Trinitarian यह किसी भी आयु के apostolic और उप-apostolic में न्यू टेस्टामेंट और अन्य आरंभिक रचनाओं से ईसाई"एल. L भद्र पुरुष तथ प्रोफेसर के अधीनकार्यरत गिरजे इतिहास माना गया है: "ओल्ड टेस्टामेंट का कडाई से एकैश्वरवादात्मक है। ईश् वर एक निजी जा रहा है। एक विचार यह है कि वहां त्रिमूर्ति पाया गया है....।"

 

 

विद्यावली धर्म की नींव है क् वांटम के बिना स्वीकार करते हैं, ''आज धर्मवेत्ताओं से सहमत हैं कि हिब्रू बाइबल शामिल नहीं है।' के सिद्धांत की नई उदार विद्यावली त्रिमूर्ति का सिद्धांत भी हैं, ''के पवित्र त्रिमूर्ति नहीं पढाया जाता है।' 'ओल्ड टेस्टामेंट में ने अपनी पुस्तक में लिखा, Triune Jesuit एडमंड Fortman ईश्वर: ''... इस बात का कोई प्रमाण नहीं है कि किसी भी संदेह के घेरे में पवित्र लेखक के अस्तित्व के भीतर त्रिमूर्ति धारणा है....। करोगे यह भी सु३ााव या foreshadowing या पूर्ववतीऩ में ओल्ड टेस्टामेंट' का चिह्न iled त्रिमूर्ति व्यक्तियों से आगे है, शब् दों और पवित्र लेखकों का इरादा है।"


 

के विश्वकोश का धर्म का कहना है, ''इस बात से सहमत हूं कि ब्रह्मविग्यानियों न्यू टेस्टामेंट भी शामिल नहीं है।'' के सिद्धांत का एक सुस्पष्ट त्रिमूर्ति का नया विद्यावली इस निष्कर्ष पर पहुंचे कि यह यथार्थतया प्रतिवेदनों को ''शब्द न त्रिमूर्ति न केवलनागालॅँड सिद्धांत में प्रकट होता है।"का नया अन्तर्राष्ट्रीय शब्दकोश में न्यू टेस्टामेंट न्यू टेस्टामेंट धर्मशास्त्र की पुष्टि करता है :--- ''न्यू टेस्टामेंट शामिल नहीं है।"Jesuit Fortman त्रिमूर्ति का सिद्धांत विकसित राज्यों को इसी प्रकार है :--- ''हम कोई औपचारिक या न्यू टेस्टामेंट लेखकों का सिद्धांत प्रतिपादित...त्रिमूर्ति में कोई सुस्पष्ट शिख्रण कि ईश् वर में एक तीन व्यक्तियों के समान ही, दैवी ... हम देखते हैं कि किसी Trinitarian कहीं नहीं सिद्धांत की तीन अलग-अलग विषयों में दैवी जीवन तथा गतिविधियों में ही करोगे।"

 

 

Yale Washburn हापकिन्स विश्वविद्यालय की प्रोफेसर के संशोधित प्राक्कलन में एकात्मकता के उद्भव और विकास के लिए "धर्म पाल और ईसा के सिद्धांत को स् पष् ट था....। उनका कहना है कि कुछ अज्ञात है; त्रिमूर्ति।"

 

 

इतिहासकार आर्थर Weigall रिकार्ड में हमारे Paganism ईसाई हैं, ''ऐसी घटना है, और कहीं उल्लेख नहीं ईसा मसीह रक्षा में न्यू टेस्टामेंट' शब्द नहीं दिखाई त्रिमूर्ति इसके पीछे विचार यह था कि केवल तीन सौ साल चर्च द्वारा स्वीकृत की मृत्यु के बाद हमारा ईश्वर है।'

 

 

'एक तैयार की हैं, ''नई उदार विद्यावली ईश्वर में तीन व्यक्तियों'

स्थापित नहीं किया गया, तो निश्चित रूप से पूरी तरह समावेश नहीं ९रनाचाहिए और उसके जीवन में ईसाई धर्म के व्यवसाय के पूर्व के अंत में चौथी शताब् दी है....।

 

 

संविधान निर्माताओं ने Apostolic में तनिक भी कुछ ऐसी मानसिकता को प्रारंभकरने के परिप्रेक्ष्य में, यहां तक कि चूंकि' या कैथोलिक चर्च के सिद्धांत प्रतिपादित एक त्रिमूर्ति में तीन व्यबक्तयों को यथाशीघ्र कथित दैवी मानते हैं कि वे ईसाइयों के अनुसार (Trinitarians सच नहीं थे) हमें यह बताने के लिए कि पंथीय पंथीय भाषा का सिद्धांत एक त्रिमूर्ति को तीन दैवी व्यक्तियों में विश्वास नहीं था, और न ही पहली शताब्दी ईसा के द्वारा सिखाया जी-हजूरी करते फिरते हैं और न ही उनके उत्तराधिकारियों द्वारा दूसरी शताब्दी विद्वान मानते हैं कि कई Trinitarian का सिद्धांत एक त्रिमूर्ति को तीन दैवी व्यक्तियों में पुराने नहीं पढाया जाता है अथवा न्यू टेस्टामेंट धर्मग्रंथों

 

 

इन तथ्यों को अलार्म सभी कोमानने वाले ईसाई वहदेखता में

 

 

4. 4:Ephesians स्पष्ट रूप से सिद्ध होता है कि वहां केवल एक "आत्मा'' और ''एक लार्ड है।' 'एक निकाय है और एक भावना है, तो आप अपने व्यवसाय में कहते हैं, एक आस्था की उम्मीद है; एक भगवान, एक baptism है। एक ईश् वर और पिता की है, जो सभी के माध्यम से ऊपर है और आप सभी' में बहस करने के लिए एक औपचारिक, उस अनोखे पादरी ने मुझे बताया कि परिवार के तीन व्यबक्त त्रिमूर्ति पिता के सिर के दो अन्य सदस्य हैं। फिर भी सिखाता है कि प्रत्येक व्यक्ति को कथित दिव्य Trinitarian Athanasian संप्रदाय के दो अन्य सदस्यों के साथ coequal दैवी कथित

 

 

एक स्पष्ट करने का प्रयास करने के प्रयास व्यर्थ में दैवी आत्मा के तीन व्यक्तियों को इस उस अनोखे त्रिमूर्ति पादरी स्वयं अपने द्वारा की जाएगी स्वधर्मभ्रष्ट Trinitarian पंथ। दिव् य दो व्यक्तियों के लिए कैसे कर सकते हैं, यदि उन्हें coequal जाना दोनों के प्राधिकार से पहले ही, दैवी व्यक्ति जो कहा जाता है कि इस शीर्ष के दो अन्य है? यदि प्रत्येक व्यक्ति को

उतना ही पवित्र कथित ईश्वर तो प्रत्येक सदस्य को कथित सभी गुणों का ईश् वर जैसे अन्य के साथ कथित सदस्यों के समान अधिकार और ज्ञान यदि दो अन्य लोगों के बराबर ही दैवी कथित पिता फिर वे ईश्वर के शक् तिशाली कैसे कहा जा सकता है कि ईश्वर के प्राधिकार से पहले व्यक्ति है? को धर्मग्रंथों के अनुसार, जो ईश् वर के नेतृत्व या किसी अन्य प्राधिकरण का सही हो सकता! ईश् वर साक्षियों का मानना है कि यह एक छोटा Jehovah है जो ईश् वर की घोषणा के प्राधिकार के सच्चे ईश्वर है।


 

अत:, वास्तव में कुछ Trinitarians शिख्रण के रूप में विश्वास है कि

यह एक छोटा Arianism दृढ़तापूर्वक सीमित करने वाले कुछ नियम भी है, जो ईश् वर की घोषणा के प्राधिकार के ईश्वर पिता है। हमें विश्वास है कि यह "ईश्वर Trinitarian धर्मशास्त्र deceives व्यक्तियों की भावना से तीन तीन व्यबक्त देवता है।

 

 

अभी तक एक भी नहीं है कि ईश्वर के पद्य भी दो या तीन अलग अलग हुए शास्त्र और स् पष् ट दिव्य आत्मा है। एक ही छंद शास्त्र के न करते हुए कि ईश् वर के दो या तीन अलग अलग-सह-समान सिंहासन है। '' की गद्दी पर भगवान बाइबल बोलता है; यह कभी राज्य "ईश्वर की' सिंहासनों

मुस्लिमों के पद्य भी नहीं है और यह कहते हुए कि ईश् वर ने दो या तीन अलग अलग है और दिव्य नाम हैं। बाइबल हमेशा कहते हैं, ''भगवान का नाम "कभी' के नाम पर लार्ड' खोज और यह देखने के लिए खेंलें


 

आप कभी भी ढूंढने में बहुवचन शब्द "नाम' की कविताओं में भगवान बाइबल में है। इसलिए बाइबल

नहीं सिखाने के सिद्धांत का एक व् यक् ति के तीन त्रिमूर्ति पंथीय दैवी व्यक्तियों के प्रत्येक व्यक्ति के पास अपनी व्यक्तिगत नाम दैवी कथित यदि वास्तव में ईश् वर के तीन दैवी लोग देवता को त्रिमूर्ति तीन अलग अलग-अलग और इच्छाआंॊ, मन और पहचानों है।

 

 

यदि यह स्थिति है तो हमें ईश्वर की आत्माओं के तीन-तीन अलग अलग-अलग राजाओं और तीन सिंहासनों ऐसी धारणा अभी स्पष्ट रूप से उल्लंघन कई रास्तों से प्रेरित है। ''शब्दों का पता लगाने का प्रयास करेंगे।'', "भूत-प्रेतों सिंहासन," या "राजा' में ईश् वर का जिक्र करते हुए अपने बाईबिल पाठांशों

आप कभी भी कोई दैवी व्यक्तियों की बहुलता का समर्थन करते हुए अपनी व्यक्तिगत छोटेगिलास या सिंहासन है। साफ साफ यह यंत्रों के शिख्रण ९रायेंक्योंस धर्मशास्त्र Trinitarian हठीले है। यदि वास्तव में तीन लोग तो हमें विश्वास है कि ईश् वर से तीन राजाओं, तीन ब्रिटेन और तीन Almighties है।

 

 

यदि प्रत्येक व्यक्ति को दो अन्य व्यक्तियों के साथ coequal दैवीय आत्मा ईडवर तीन होगा तो राजा हैं। लेकिन एक ही दिव्य आत्मा का पारायण सिखाने है, जो ईश् वर के राजा के अकेले Yahweh राजाओं और लार्ड आफ लार्ड्सकी है। वास् तव में एक ईश्वर कैसे कर सकते हैं, जबकि तीन मौजूदा व्यक्तिगत राजाओं और तीन व् यक् तिगत ईश् वर लार्ड्सकी?

 

 

हो सकता है कि वह सचमुच एक Trinitarian दिव्य आत्मा के साथ संबंध तीनों व्यक्तियों की प्रार्थना करते हैं वह एक त्रिमूर्ति और प्रत्येक सदस्य ने आरोप लगाया है? दैवी आत्मा का सिद्धांत एक त्रिमूर्ति में तीन व्यबक्तयों को स्पष्ट रूप से असंगत और unbiblical है। जब वह स् वयं ईश् वर बाइबल के वर्णन स्वयं एक व्यक्ति, जो दैवी हमेशा वर्णन तीन कभी पै.गंबर के अंग ईसा की बात स्पष्ट Isaiah Yahweh Isaiah 53:1 में चला जाता है, ''हमारी रिपोर्ट है? और जिनके लिए यह रहस्योद्घाटन YAHWEH आर्म के अगुआ थे?' में स्पष्ट रूप से सिद्ध कर दिया है कि 37-41 जॉन 12:जॉन ईसा के अंग Yahweh का पता चला है। एक दूसरे दैवी व्यक्ति की घोषणा कर सकते हैं जब वह ईश् वर के अपने हाथ के रूप में वर्णित किया गया है? एक अन्य व्यबक्त से बना सकता है व्यक्ति अपनी भुजा है? चूंकि यह है कि मनुष् य के बाद की छवि पर जाएं

 

 

इस ग्रंथ के अनुसार, यह किसी व्यक्ति के सार दैवी selfsame क्राइसट ईश्वर पिता है। इस तथ्य का बैकअप Colossians सहित कई अन्य ग्रंथों द्वारा 1:15, जो कि राज्यों की घोषणा की है, ''हम कभी ईश् वर की छवि अदृश्य' है। साफ पता चलता है कि ईसा नामक व्यबक्त दिव्य बाइबल के selfsame दैवी व्यक्ति को ईश् वर के पिता

मेरे गवाह हैं, ''आप ईश्वर से कहते हैं, ''मेरे पिता और] [YAHWEH सेवक, जिनसे मैं चुना है, तो हो सकता है आप जानते हैं कि :] [मसीहा मानते हैं और उन्होंने मुझे यह बताया गया है और मेरे : मेरे सामने नहीं थी, न हो वहां जाने के बाद गठित ईश्वर मुझमें मॅँ, मॅँ भी मेरे पास कोई YAHWEH हँू: और" "सेवियर Isaiah 43:10-11

 

 

हाल ही में, मॅँ यह मांग उस अनोखे Trinitarian औपचारिक बहस पादरी, ''यह कौन है

?। 10:43 Isaiah में अध् यक्ष उन्होंने कहा, "मैं उनसे पिता।"" "लोक सेवक चुना, जो इस ग्रंथ का समर्थनकिया है? उन्होंने 7 पिता!'' के लिए असंभव नहीं है कि किसी व्यक्ति को ठीक तरह और किसी! 9:46 Isaiah में स्पष्ट रूप से कहा, ''Yahweh ईश् वर है और मैं किसी अन्य व्यक्ति से किसी तरह की कमी है और मैं अल्लाह' से मुझे बिल्कुल ऐसा ही है जैसे वे ईश्वर पिता की घोषणा की जाए कि पिता है।

 

 

यदि वे स्वर्ग में देखने गए संव र्धित Trinitarian ईसा मसीह पूछें शायद ही questionthat फिलिप पूछा कि उन्होंने कहा, "ईश्वर पिता दिखाना है।' यह जानते हैं कि यह आश्वासनदिया है उसी तरह संव र्धित हड़ताल करने की घोषणा की थी क्योंकि वे आमरण अनशन संव र्धित Trinitarian फिलिप है। "तुमने मुझे मालूम नहीं है? उन्होंने देखा कि मेरे पिता ने देखा है।" के लिए हमारे आश्चर्यजनक है कि ईश्वर की घोषणा की छवि हम कभी भी देखना अदृश्य पै.गंबर Isaiah स्पष्ट पता चलता है और संतान की पहचान में दिया गया है:

 

 

"Isaiah अध्याय 9 पद्य में छह बेटे गींतों में हमें एक बच्चे का जन्म गींतों में, हमें एक पुत्र दिया जाता है और उनके नाम नहीं किया जाएगा, ज्वालापुंज, ईश्वर, महान के काउंसलर शाघवत पिता के प्रिंस" के नाम से शांति की घोषणा की है।इसी नाम की महान और ईश् वर पिता उसे चाहिए कि ईश् वर और शक्तिशाली है वह शाश् वत शाघवत पिता ने अमेरिका को बचाने के लिए एक व् यक् ति के रूप में है।

 

 

निष्कर्ष: ईश्वर पिता और क्राइसट वही हैं जो दैवी व्यक्ति ईश्वर पिता की पुरानी प्रसंविदा में नए विश्व-व्यापी क्राइसट है

 

1. - ओल्ड टेस्टामेंट पिता की पहचान को स्वयं की घोषणा की है।

 

"... मु३ो बताया गया है कि उन्होंने (Isaiah 10,11 43:

 

1. है.'' न्यू टेस्टामेंट-मसीह उनहोंने अपने पिता के रूप में है।

 

"... अगर आप को यह विश्वास नहीं है कि वह अपने आप में मर जाएगा पापों हूं। (8:24)" जॉन

 

2. - ओल्ड टेस्टामेंट ईश्वर पिता का दावा है कि वे केवल मेंजाने जाते हैं।

'मेरे पास कोई मसीहा माना जाता है।"

 

2. 11:43 व्यवसायीईसा न्यू टेस्टामेंट-मसीह ही मेंजाने जाते हैं।

 

1. 4:14 कॉल्स क्राइसट "सेवियर जॉन ने विश्व के

 

3.'' - ओल्ड टेस्टामेंट ईश्वर पिता के मध् य में एक है।

 

'मुझे देखना होगा कि वे उन्हें Zechariah 12:103

 

3. बेध।" न्यू टेस्टामेंट-मसीह के मध् य में एक है। जॉन 19:

 

4. 34,3 - ओल्ड टेस्टामेंट ईश्वर पिता की पहचान को छुपाए रखना उनके सही

 

वास् तव में, ''आप स्वयं को छिपाए है कि ईश् वर ने इसराइल के रक्षक" Isaiah ओ, 45:15

 

 

4. न्यू टेस्टामेंट-मसीह को छिपाकर रखता था उनका सही पहचान बोलने में 16:25) (जॉन ग्राम्य कहावतों ग्रीक शब्द "शाब्दिक अर्थ है जिसके लिए ग्राम्य कहावतों Paroimia पज़ल्स या प्रहेलिकाओं है.''

 

 

ही तार्किक परिणति है कि सभी दस् ताना बाइबिल डेटा!

 

क्राइसट है जो मनुष्य ईश्वर पिता बन गया है!

 

चूंस ९ ईसामसीह बिल्कुल ऐसा ही है जैसे कि ईश्वर पिता उसे चाहिए

 

46:9 "ईश्वर पिता Isaiah हूं और मु३ो स ९सी भी है, ईश् वर जैसे मुझे किसी को ठीक करने के लिए"यह असंभव नहीं है कि किसी व्यक्ति की तरह और

 

ईश् वर के अवतार के सामने और अवतार

 

पहले --------- Rohi Yahweh अवतार के आत्म-मसीह हमारा अस्तित्व ही हमारे ShepherdAfter अवतार

पहले गड़ैरिया है ----- Tsidkenu Yahweh अवतार स्व अस्तित्व ही हमारे घूम-

 

घूम अवतार के बाद हमारा क्राइसट - (5:5:2 / 17-18 विविसंहिताएं की कॉरिनथियंस पॉलिस्टा टीमें भाग 21)

 

--------- Rapha Yahweh अवतार

 

के बाद हमारा अस्तित्व ही स्व-मसीह हमारी आरोग्यसाधक अवतार परित्राणपूर्ण (12:16) के

 

समख्र रोए अवतार -------- Shammah Yahweh स्व-स् वातंत्र्य एक

 

अवतार के बाद वर्तमान में मौजूद है - क्राइस्ट चर्च (8:9) के

 

समख्र विविसंहिताएं अवतार --------- Yirah Yahweh स्व

 

-स् वातंत्र्य एक अवतार के बाद उपलब्ध कराता है। ईसा

 

पूर्व) हमारी प्रदाता (9:16 ल्यूक अवतार -------- Maccaddesh Yahweh स्व

 

-मसीह अवतार के बाद हमारा अस्तित्व ही Sanctifies (13:12) के

 

समख्र आराध्य Hebrews स्व-अवतार अस्तित्व ही हमारे बैनर [Setup] की जीत

 

के बाद हमारी विजय की घोषणा (Isaiah अवतार - 25:15:57)

 

के पहले 8/1 की कॉरिनथियंस पॉलिस्टा टीमें भाग --------- Shalome Yahweh अवतार के अस्तित्व ही हमारे शांति

 

के अवतार ----- (6) 9:Isaiah शांति हमारे क्राइसट


 

निष्कर्ष


 

यह सच है कि

 

 

''जीवन और सनातन ईश्वर की घोषणा की है और हम जानते हैं कि ईश्वर के बेटे हैं और हम जानते हैं कि हम एक सहमति दी है कि उसे यह सच है कि हम सही है, यहां तक कि उनके पुत्र ईसा मसीह रक्षा है। यह सच है कि ईश् वर और अनंत हैं। छोटे बच्चों को अपनाओ मूर्तियों से है। (1)"" दीर्घस्थायी सुविधाएं जॉन 5:

 

 

का नाम खुदा बाप अध्याय क्राइसट

 

 

इस समय यह सब से बड़ा चमत्कार कैसे पैदा हुआ बच्चा और पुत्र को भी हो सकती है,

ईश् वर के रूप में पहचान की गई है और वह शाश् वत पिता है। ईसा ने कहा, ''मैं आने वाले 5:43) मेरे पिता का नाम जॉन (ईसा' नाम से ही है..." नाम का नाम है और हमें विश्वास है कि ईश्वर पिता शाघवत शक्तिशाली नहीं हो सकता और न ही उसके नाम के दो दो शाघवत पिता है। 2:10 के लिए प्रत्यक्ष रूप से घोषणा की है, "हमने Malachi सभी एक पिता नहीं है? अमेरिका ने एक ईश्वर का सृजन नहीं कर सकते?''


 

के नाम की घोषणा की है जिसकी Yeshua संकुचन से अनुवाद हिब्रू नाम 'महा दिवस' के नाम से एक 'स्व-स् वातंत्र्य YAHWEH HASHUA शाब्दिक अर्थ है जो बचत नहीं हो पाता है।' दूसरे दैवी व्यक्ति हैं, बल्कि स्वयं की बचत होती है, स्व-अस्तित्व ही नहीं। लौंग के गेब्रियल रहस्योद्घाटन मसीहा के सही पहचान बुलाकर उनका नाम की घोषणा की: ''... आप कॉल उनके नाम की घोषणा की कि वह अपने लोगों को बचाने के लिए] [इच्छापूर्ण Yahweh पापों से 1:21) चूंकि' (रोए का नाम खुदा के पुत्र का अर्थ है [Setup] की बचत होती है, वह स्वयं अस्तित्व ही नहीं जाना चाहिए कि स्वयं को बचाने के लिए अमेरिका के बराबर है!

 

 

पै.गंबर जर्मिया ने स्पष्ट रूप से पता चला है कि इस नाम का मसीहा होगा कि ईश्वर पिता का नाम ही Yahweh :"एक साधु शाखा है, और एक राजा के शासनकाल में होगा....। उन्होंने कहा जाता है, जिससे कि उनके नाम है और यह हमारे YAHWEH होगा।'', प्रजापति Yahweh ईश्वर ने स्पष्ट किया है कि वे एक ही नाम विडवासदर्शाया (न) : "ईश् वर और कहा कि दो या तीन नाम बनाती है और इस प्रकार होगी आप कहते हैं कि बच्चों को प्रेरित करने के लिए अपने संविधान निर्माताओं ने इसराइल के YAHWEH ईश् वर, अब्राहम के देवता और ईश् वर के Isaac जैकब से प्रेरित है, मुझे हमेशा मेरा नाम: यह आप और यह मेरे मेमोरियल बैशाली के सभी पीढ़ियों से पलायन'' 3:15 से 42:8 Isaiah ईश्वर पिता में घोषित किया कि वह अपने गौरव को किसी अन्य व्यक्ति : "मैं YAHWEH : मेरा नाम है और मैं अपने गौरव को प्रदान नहीं की है।"

 

 

गुस्से से सभी प्रकार के रहस्योद्घाटन कभी हम पाते हैं, ''यह कहते हुए एक कविता में मुस्लिमों के नाम भगवान," अथवा "ईश्वर का नाम है।" यह हमेशा का नाम (ईश् वर) - अकेले या नाम के बजाय Yahweh (अकेले) के नाम से 18:10:स्वास्थ्य कार्यकर्ता अक्सर पहले लार्ड (PLURALLY) ''के नाम की एक शक्तिशाली YAHWEH टॉवर: ईमानदार चलाने और सुरक्षित है।" हम एक आयत की Trinitarians दे सकता है कि ईश्वर ने नामों को दिखाएं Yahweh हमारे शास्त्र, क्योंकि सभी प्रकार की उत्पत्ति बहुसदस्यी पुस्तक के रहस्योद्घाटन एक आयत की आवश्यकता नहीं है। हमें ईश्वर के नाम से एक से अधिक शास्त्र न ही की जा सकती है कि वास्तव में एक ही छंद शास्त्र के लिए Trinitarians शब्दों का प्रयोग का नाम / व्यक्तियों/या ब्रिटेन' plurally वास्तव में उन सभी को देखने से पता चलता है कि इसे बाईबिल के मसीहा

 

 

के शासनकाल में सबसे बड़ तब यह जानते हैं कि एक ही है जो YAHWEH YAHWEH ईश्वर एक ही नाम है!


 

"राजा पृथ्वी पर Yahweh होगा और उस दिन में एक YAHWEH होगा, और उनके नाम 14:9 ने आपको एक!" Zechariah पकड़ने का आयात 14:9 ईश्वर के शब्दों में Zechariah? ''एक YAHWEH और उसके नाम के एक!"

 

 

शब्द का कहना है कि उनके नाम का एक ईश् वर की तो कैसे कर सकते हैं कि ईश्वर ने एक से अधिक नाम Trinitarians बताते हैं? अत:,'उपाधियां हैं-पिता, पुत्र और पवित्र आत्मा' के नाम से जाना उचित नहीं हो सकता! वर चुनौती देता हूं, जिन्होंने किसी व्याख्या प्रस्तुत करने के लिए खड़ा Trinitarian सिर्फ एक ही छंद

शास्त्र के कर दिखाना है कि ईश्वर ने एक से अधिक दैवी नाम है। पदवियों जैसे एल और ईश् वर का अर्थ केवल Elohim Aramaic है। चूंकि इन उपाधियों भी प्रयोग के लिए अलग-अलग देवताओं की मूर्ति (जैसे कि ईश् वर) इन उपाधियों dagon विषयासक्त मछलियों के नाम के एक सही सही रूप में नहीं माना जा सकता। ईश्वर का कहना है कि उसका नाम Yahweh बाइबल में कभी नहीं है, या Elohim, एल. Adonai ईश्वर का कहना है कि उनके नाम नहीं है और न ही कभी शास्त्र में पिता, पुत्र है। यहआरोप लगाना या पवित्र आत्मा जैसा Trinitarians हमें विश्वास है कि वास्तव में उनके नाम का पुत्र था और इसे एक पुत्र मैरी? कैसे कर सकते हैं कि ईश्वर ने एक पृथक नाम Trinitarians आरोप लगाया है कि हर सदस्य हैं-

 

 

पिता, पुत्र और पवित्र आत्मा त्रिमूर्ति:?


 

एक ही नाम है: इस तथ्य यह यंत्रों के कुछ ईश्वर का अर्थ है 'स्व: YAHWEH Yahweh [Setup]"

 

के नाम से एक स् वातंत्र्य: इस तथ्य का अर्थ है [इच्छापूर्ण YAHWEH क्राइसट स्व

 

: इस तथ्य की बचत होती है, एक स् वातंत्र्य] [YAHWEH ईश्वर के नाम की घोषणा के पिता] की बचत होती है!

 

 

वस्तुत: 3. 3. विभिन्न नामों से कथित दैवी व्यक्तियों नहीं हो सकता!

 

वास्तव में एक ही नाम: पानी BAPTISM किया जाना चाहिए!

 

 

प्राय: 28:19 के सबूत रोए स्थल Trinitarians पाठ का समर्थन करने के लिए त्रिमूर्ति धर्मसिद्धांत तथापि, इस आयत की जांच से पता चलता है कि वहां के नजदीक एक ही नाम हैं-पिता, पुत्र और पवित्र आत्मा हैं कि हम baptized जाने हैं। की क्रियाओं को जी-हजूरी करते फिरते साबित करने का नाम हैं-पिता, पुत्र और पवित्र आत्मा के नाम की घोषणा की है।] [Yahweh बचत

 

 

अत:, सभी देशों के "आप बताइये और उनके नाम baptizing (एकवचन में), पिता और पुत्र और पवित्र आत्मा..." 28:19 यदि ईसा ने अपने शिष् यों खातिब रोए baptize के नामों में (plurally) के पिता, पुत्र और पवित्र आत्मा मॅँ इस बात से सहमत हूं कि हमें को लागूकरने में एक से अधिक है। अभी साफ करना हमारे प्रभु ईसा के नाम पर) के नाम से एक अकेले baptize (सभी तीन स्व-दिखानेवाला उपाधियों की व्यक्तिगत ईश्वर की जा रही है। वे जानते थे कि सिद्ध जी-हजूरी करते फिरते की कार्रवाइयों का नाम हैं-पिता, पुत्र और पवित्र आत्मा की हमारे प्रभु ईसा मसीह रक्षा का नाम

 

 

पीटर ने कहा, ''तब तक रक्षक और उनको पश्चाताप, और आप के नाम की एक प्रति baptized ईसा मसीह रक्षा के लिए र९फॊगियों के पापों का उपहार प्राप्त करेगा, तथा आप पवित्र आत्मा' अधिनियमों में 2:38. यह एक तथ्य है कि हर बार यह यंत्रों और नए baptized दीक्षितों evangelists जी-हजूरी करते फिरते वे हमेशा भेषजआकस्मिकता के नाम की घोषणा की अपेक्षा पुरुष एकवचन कथित की बहुलता नाम (हैं-पिता, पुत्र और पवित्र आत्मा)।

 

 

जैसा कि पहले ही पूरा शरीर द्वारा baptized हमेशा जी-हजूरी करते फिरते हैं, वे कभी फेककर देवता) को विसर्जित (जी-हजूरी करते फिरते हमेशा नए नाम से संव र्धित baptized ईसा मसीह रक्षा में है। कभी भी भेषजआकस्मिकता शीर्षक को जी-हजूरी करते फिरते हैं-पिता, पुत्र और पवित्र आत्मा जब ईसाई baptisms वास्तव में आयोजित करना। वास्तव में, धर्मदूत पॉल देवी के चर्च से baptize एकवचन में भगवान के नाम की घोषणा की:''और किसी शब्द या में आपको विलेख, सब ९ ईसामसीह' के नाम से 3:17 Colossians

 

 

चूंकि baptism पानी में की गई है और कर्म को साफ करने में baptized खातिब चर्च के नाम ९ ईसामसीह है। इस आदेश का पालन करने में असफल हो जो सभी prepar होना

 

 

पीटर भी देवी के चर्च के अगुआ थे, ''को baptized के नाम की घोषणा की:'

'कोई व्यक्ति मिलन भगवान, जल नहीं दिया जाना चाहिए, जो कि इन पवित्र आत्मा प्राप्त baptized के साथ-साथ aswe? उसने देवी और उन्हें baptized भगवान के नाम की घोषणा की है।'' (एनआइवी) 47,48 10:अधिनियमों को सही रूप में 'यूनान के अनूसार पाठ का नाम ९ ईसामसीह है.''

 

 

क्या आप पकड़ने के आयात के धर्मदूत पीटर के शब्दों में? "उन्होंने ऐलन कर उन्हें baptized के नाम ९ ईसामसीह" से रोकने के लिए धर्म-ग्रंथों' शब्द "ईश्वर प्रेरित (ग्रीक =) दान, ईश्वर की हमें यह बताने के लिए कि यदि हम कानून का पालन करने में असफल रहे हैं तो हमें ईश्वर का पालन करने में असफल धर्मग्रंथ! ईश् वर का नाम हैं-पिता, पुत्र कहा जा सकता है कि कई उपाधियां हैं क्योंकि ये भावना या जनता के साथ-साथ, राक्षस, झूठी शैतान कर सकते हैं और यहां तक कि पवित्र देव देवताओं ईसा से कहा, ''आपने अपने पिता की Pharisees (8:44) शैतान'' अत: क्राइसट जॉन स्पष्ट रूप से शैतान का जनक कहा जाता है।

 

 

Pharisees शैतान को 'पिता और यदि वे तब भी किया जा सकता है जिसे अपने बेटों Pharisees बाइबल की बात करते हैं, "दुष्ट पुरुषों के बेटे हैं।'' 12. 2:1 (BELIAL सैम्युएल पॉल ने देवताओं की पूजा करने वाल के रूप में पूजा का गलत 10:20) की कॉरिनथियंस पॉलिस्टा टीमें भाग 1 (राक्षस हम यह भी जानते हैं कि वह देवताओं की पवित्र आत्माओं ministering (1:14) कहते हैं, ''Hebrews हैं जो 25:31) पवित्र' (रोए पुण् य देवताओं को बार-बार 'पुत्र' में ईश् वर की उत्पत्ति 6:2:1 HebrewScriptures (6) रोजगार / इसलिए त्रिविध स्व-आत्मोत्थान शीर्षक की एक सच्चे ईश् वर के लिए बुलाया नहीं किया जा सका क्योंकि इन उपाधियों उचित नामों का भी प्रयोग कर रहे हैं, वह देवताओं तथा राक्षसों के लिए भी

गलत है।

 

 

साफ पता चलता है कि ईश्वर के नाम से एक बाइबल के नाम की घोषणा की है कि ईश्वर पिता का नाम है। हाल ही में एक सार्वजनिक बहस ने कहा है कि मु३ो यह कहना है कि Trinitarians उपाधियां हैं-पिता, पुत्र और पवित्र आत्मा के लिए तीन उचित नाम त्रिमूर्ति है। 1:21, तब मैं उद्धृत किया है, "तुम रोए राज्यों में उनका नाम की घोषणा करने के लिए कॉल कबूल किया कि वह अपने लोगों से बचाने के लिए अपने पाप है।" मॅँ यह पूछा, ''पस्तोर Trinitarian मैरी ने पुत्र और उनके नाम पर कॉल करें?' शद के लिए कुछ क्षण पस्तोर पुत्र और फिर सनाउल्ला ने उत्तर दिया, "मुझे लगता है कि उनके बेटे का नाम था 'मैरी पुत्र।" मॅँ यह तथ्य है कि गृह हील को जारी रखा है कि हमें सूचित हमनें धर्मग्रंथों और ईसा मसीह नामक पुत्र का नाम है कि शैतान का पिता के पुत्र अपने पिता की और Pharisees Pharisees शैतान को, जो स्पष्ट रूप से यह बहुत दुखदायी है उस अनोखे गडरिया

 

 

पादरी Trinitarian के किसी भी तर्कसंगत स्पष्टीकरण देना नहीं था और शांत करने के लिए एक समुचित रूप में पुत्र शीर्षक नाम ईश्वर है। इस पादरी करने के अलावा कोई चारा नहीं था कि उनके बेटे का नाम भी पुत्र मैरी ने इसे बाईबिल कॉल करने के लिए अपने पुत्र के नाम की घोषणा मैरी आदेशों, ''आप कॉल उनके नाम की घोषणा की है।'

 

 

उन लोगों का मानना है कि गलत सिद्धांतों को घुमाएं अनेक ग्रंथों का प्रयास करने के क्रम में उनकी धार्मिक शिक्षाओं असत्य presupposed बनाने के लिए फिट करें! यह आवश्यक है कि हम जानते हैं, जो एक सही है और उनका नाम शामिल है, ईश्वर जानते 6:52 Isaiah स्पष्ट हैं, ''मैं जानता हूं और मेरा नाम होगा...", "वे जानते हैं कि राज्यों में 21:16 जर्मिया ने अपना नाम है।" YAHWEH ईश्वर जानते हैं कि उनके नाम जानना भी शामिल हैं। यह नहीं जानता कि किस प्रकार के लिए बहू

पति के वैध नाम है? ईसा की लड़की को सही सही पहचान जानने के लिए ईसा मसीह को स्पष्ट रूप से कहा- की जॉन 10:14, ''मैं जानता हूं, मैंने भेड़ों की अच्छी गड़ैरिया है और मैं अपनी किया जाता है।''

 

 

अत: यह स्पष्ट कहा गया है कि उनके लोग अपनी जान की घोषणा सही पहचान जानने में उनका नाम शामिल हैं। ईसा के लिए यह असंभव नहीं जानते हैं जो अपने पति को सही वधू वास्तव में है। जब हम यह रहस्योद्घाटन कि ईश्वर के नाम की घोषणा की है, तब हम अपने पिता को दूर किया जाए और हमारे पापों baptized आयेगी, धुलाई, ध्यानाकर्षण के नाम पर 22:16) अधिनियम (९ ईसामसीह यह सच है कि हमें सूचित हमनें धर्मग्रंथों ईसाइयों में होना चाहिए और ईसा है।

 

 

को धर्मग्रंथों के अनुसार, केवल एक ही रास् ता को कानूनी रूप में उनके नाम पर baptized ईसा की जानी हैं :"के लिए आप सभी बच्चों को ईश् वर के प्रति आस्था के लिए कई रूप से ईसा मसीह BAPTIZED ईसा के रूप में आप की गई हैं (चित्र 32-52) ईसा के रूप में है। न तो नहीं है और न ही यहूदी यूनानियों नहीं है और न ही बांड न मुक्त नहीं है और न ही पुरुष और न ही नारी के लिए आप सभी ईसा मसीह में से एक है। अगर आप और आप का हो, तो ईसा का बीज और उत्तराधिकारियों अब्राहम वायदे के मुताबिक

 

 

हमें यह साबित करती है कि 25-29 3:Galatians।

 

 

रोमनों अध्याय VI साबित होता है कि हम अपने जीवन में इतनी मसीह की मृत्यु , दफन , और जी उठने की है कि वैध आवेदन यीशु मसीह के नाम में बपतिस्मा किया गया है। "आप नहीं जानते हैं, हम में से कई के रूप में यीशु मसीह में बपतिस्मा कर रहे थे उनकी मृत्यु यह तो हम मृत्यु का बपतिस्मा पाने से हम उसके साथ गाड़े का बपतिस्मा लिया ;? यह मसीह मृत महिमा से उठा लिया जाता है सुनिश्चित करने के लिए है पिता, वैसे ही हम भी जीवन का एक अजीब चित्र में चलना चाहिए अगर हम उसकी मौत में एक साथ हो गए हैं, हम अच्छे और बुरे, उसके जी उठने में होगा: यह जानते हुए भी , हमारे पुराने आदमी उसे क्रूस पर चढ़ाया है कि , पाप का शरीर नष्ट कर दिया , ताकि हम आगे पाप सेवा नहीं करना चाहिए ।

 

 

उसकी मौत पाप से छुटकारा पाने के लिए है । अब अगर हम मसीह के साथ मर गया, हमें विश्वास है कि हम भी उसे रोमन "6 " के साथ जीवित रहेगा । ": 3-8 फिर परमेश्वर का वचन में यहाँ हमें बताता है कि हम यीशु मसीह के नाम में बपतिस्मा किया जाना चाहिए, हमारे जीवन में मसीह की मृत्यु , दफन , और जी उठने की शक्ति लागू करने के लिए । कोई मसीह और रोमन अध्याय VI में बपतिस्मा नहीं कर सकते हैं, तो उन्होंने कहा , वह या वह कानूनी तौर पर "पाप से छुटकारा नहीं मिल रहा था। हम एक नया जीवन नहीं है, तो नया जीवन " हम मसीह की मृत्यु , दफन , और जी उठने में बपतिस्मा नहीं किया जा सकता है, तो फिर हम एक में जाने के लिए नहीं कहा जा सकता।" " कैसे वैध कर सकते हैं नए जीवन का जन्म ?

 

 

यह महत्वपूर्ण है कि हर सच्चे ईसाई के लिए बाइबिल आज्ञा का पालन करना चाहिए
बपतिस्मा, परमेश्वर का पुत्र है । पिता, पुत्र और पवित्र आत्मा के खिताब से भगवान के लिए सही नाम नहीं हैं। वे सिर्फ शीर्षक , लोगों और स्वर्गदूतों को बनाए रखा जा सकता है। । यहाँ तक कि यीशु ने शैतान कहा जाता है " झूठ का पिता , लेकिन यह भी झूठ (यूहन्ना 8:44) यीशु ने कहा की , फरीसी ने कहा: " तुम अपने पिता शैतान (यूहन्ना 8:44) " के हैं। क्योंकि भले शैतान कहा जाता है कि हम में से पिता जानते हैं, यह सचमुच भगवान के नाम सही करने के लिए असंभव है। "मैथ्यू ," 01:21 उस नाम यीशु मसीहा [ हिब्रू -Yahweh Hashua ] बुलाया जाना चाहिए अर्थ या 'स्व -मौजूद बचाने के लिए एक रास्ता है " " एक आत्म उद्धार का अस्तित्व । "

 

 

"बाइबल " अमेरिका की एक स्पष्ट नाम देता है। यह कहना है , मरियम का बेटा है और उसका नाम है, लेकिन है कि इस तरह भिक्षुओं हास्यास्पद है! झूठी शिक्षा ट्रिनिटी के तीन दिव्य व्यक्तियों को धोखा देने ईसाई सुंदरता स्वागत छद्म रूप से संबंधित सैलून और सेवाओं में विश्वास ईसाई बपतिस्मा , बचाने यीशु नाम। बाइबल हमें बताता है कि हम बपतिस्मा में उसके पवित्र नाम को स्वीकार नहीं है और फिर हम यीशु मसीह में कानूनी व्यक्ति नहीं है। हम मसीह में वास्तव में नहीं करते हैं, तो हम इब्राहीम के वंशज नहीं कर सकते, न ही हम प्रतिज्ञा के अनुसार सच्चा वारिस हो सकता है।

 

 

देवदूत गैब्रियल हमें परमात्मा बेटा "मैथ्यू " 1:21 में दर्ज की गई है के रूप का नाम दिया है : " । तुम्हें पता है, उसका नाम यीशु फोन करेगा वह अपने पापों से अपने लोगों को बचाने के " इस प्रकार, यीशु ' माता मरियम , यीशु अपने बेटे का नाम फोन नहीं किया। सभी सच्चे मसीही का नाम बपतिस्मा लेने की आज्ञा कर रहे हैं , यह भगवान का असली नाम है हमारे उद्धारकर्ता प्रभु यीशु मसीह ! "बाइबल " के अनुसार, किसी को इस "स्पष्ट" आदेश "बाइबल " का पालन नहीं करता है, तो वह या वह परमेश्वर के राज्य के वारिस नहीं कर सकते हैं ( : 51/3 रन: 20-21 / व्यवहार 10: जॉन 3 देखें 47-48 / कुलुस्सियों 3:17 / जॉन 10: 1-9) ।

 

 

पिता, पुत्र और पवित्र आत्मा के शीर्षक के लिए पानी बपतिस्मा , "या, प्रभु यीशु के नाम ।" मत्ती 28:19 जहां ली और उन्हें पिता गवाह और पुत्र और पवित्र आत्मा के नाम में बपतिस्मा , "

 

 

यीशु के नाम में बपतिस्मा

"मन फिराओ और यीशु मसीह के नाम में सब से हर किसी को बपतिस्मा दिया जाएगा ।" अिधिनयम 2:38

"वे बपतिस्मा लिया , तो प्रभु यीशु के नाम " व्यवहार 8:16

"और वह उन्हें आज्ञा प्रभु यीशु के नाम पर बपतिस्मा लेने के लिए " व्यवहार 10:48

 

5: व्यवहार 19 "वे बपतिस्मा लिया , तो प्रभु यीशु के नाम "

" ... तो हम में से कई के रूप में यीशु मसीह में बपतिस्मा कर रहे थे उनकी मृत्यु का बपतिस्मा लिया ।" "रोमन " 6: 3

 

"। आप मसीह में बपतिस्मा दिया है के रूप में मसीह पर डाल दिया है " गैलन 3: 26,27

" और अपने शब्दों और कर्मों की अगर सब पर, प्रभु यीशु के नाम पर किसी भी ।" कुलुस्सियों 3:17


 

BAPTISM को उपाधियां हैं-पिता, पुत्र और पवित्र आत्मा

 

0 ---- शून्य

 

से 28:19 जोड़कर एक BAPTISM रोए ईसाई धर्म-ग्रंथों


 

को न्यायोचित ठहराने के लिए कोई नाम का प्रयोग तीन उपाधियां हैं-पिता, पुत्र और पवित्र आत्मा में BAPTISM है।

 

यह यंत्रों के बारे में तथ्य BAPTISM

 

 

1. जल और अमल में जी-हजूरी करते फिरते हमेशा सिखाया baptism ईसा मसीह रक्षा के नाम से ही! वे कभी भी

 

सिखाया जाता है या अभ्यास में पानी baptism; उपाधियां हैं-पिता, पुत्र और पवित्र आत्मा है।

 

2. के नाम की घोषणा की है।] [इच्छापूर्ण Yahweh उचित ईश्वर के नाम पर पिता!

3. पिता, पुत्र और पवित्र आत्मा परमात्मा के नाम से उचित नहीं है! उपाधियां हैं!

 

4. ईसा के नाम पर Baptism का नाम है और पिता, पुत्र और पवित्र आत्मा है।

 

5. बाइबिल साक्ष्य नहीं है, ''उपाधियों की सहायता के लिए baptism हैं-पिता, पुत्र और पवित्र आत्मा है।"

 

6. जिस स् थान पर पानी के रोमन कैथोलिक चर्च द्वारा baptism मग्नता के साथ, कुआललंपुर

 

में पानी की जगह baptism के रोमन कैथोलिक चर्च के नाम से ईसा मसीह रक्षा की उपाधियां हैं-पिता, पुत्र और पवित्र आत्मा है।


 

बाइबल में INTERPOLATIONS TRINITARIAN की संभावना

 

 

को धर्मग्रंथों के उदाहरणों से भरपूर है baptism के नाम ९ ईसामसीह है। को धर्मग्रंथों भी बार-बार शब्दों के प्रयोग "ईश्वर पिता'' और ''प्रभु ईसा मसीह रक्षा' (1 Thessalonians 1:1 / 2. 1:Thessalonians 1-2); परंतु सूचियों के पवित्र आत्मा परमात्मा के साथ ही बाइबल के पिता और 28:19 (केवल दो बार ९ ईसामसीह रोए 5:1 तथा जॉन 7-8)। इसके अतिरिक्त, 5:7 पूरी तरह से अनुपबस्थत जॉन 1 यूनानी एक हजार वर्ष के पहले के ईसाई पांडुलिपि इतिहास और रोए 28:19 का पूरी तरह से अनुपबस्थत हर एक यूनानी पांडुलिपि के पहले तीन शताब्दियों में ईसाई इतिहास है।


 

अगर पवित्र आत्मा का तीसरा coequal coeternal दैवी व्यक्ति और तब यह प्रतीत होता है कि यह पूरी तरह से अनुपस्थित में विचित्र पवित्र आत्मा की अधिकांश प्लेटोवाद जहां पिता और पुत्र धर्मदूत पॉल सूचियां के पवित्र आत्मा का भी पूरी तरह से अनुपबस्थत ईसा की प्रार्थना की। हम यह आशा नहीं है तो वह व्यक्ति जो दैवी coequal पवित्र आत्मा का तीसरा वर्ष १९८० ईश्वर से प्रार्थना थी जबकि आकाश में अपने पिता की घोषणा की धरती पर


 

चौथी सदी Trinitarian 5:8 से 1 जॉन बिशप अगस्टीन उद्धृत करने की कोशिश की

, लेकिन श्लोक 7 व्यक्तियों को तीन दिव्य त्रिमूर्ति साबित हुआ है उसके उद्धरण से अनुपस्थित यदि 5:7 का मूल पाठ में 1 जॉन तो निश्चित रूप से यह साबित करने के लिए एक त्रिमूर्ति होगा अगस्टीन उद्धृत है। 8. 5:1 के हवाले से ही नहीं बल्कि जॉन अगस्टीन पद्य 7 प्रयास सिद्ध Trinitarian शिख्रण है। मॅँ यह नहीं है कि आप अगस्टीन लिखा"इस पत्र में गलती की जान के अगुआ थे, जहां वे कहती हैं, "तीन हैं: साक्षियों की भावना और जल और रक्त : तथा तीन ए ९ हैं।'' (22), Arianum वैषम् Maximinum

 

 

5:1 के शब्दों में उद्धृत अगस्टीन सही साबित करने की कोशिश करने के लिए 8 जॉन त्रिमूर्ति को तीन दैवी व्यक्तियों को

छोड दिया गया है जो उन्होंने पूरी तरह अभी सात राज्यों के पद्य भी हैं, ''इसमें तीन वहन रिकार्ड स्वर्ग में, पिता और पवित्र आत्मा और इन तीनों शब्द है।" को निश्चित रूप से यह चौथी सदी के साथ-साथ इन शब्दों को उद्धृत करना होगा। बिशप Trinitarian 5:8 को बढावा देने के लिए 1 जॉन यदि यह Trinitarianism मार्ग उपलब्ध था। आज का दिन का प्रारंभ में ग्रीक पांडुलिपियों 5:7 से 1 के अभाव में पूर्ण जॉन ने एक यूनानी पांडुलिपि से पहले एक हजार वर्ष के इतिहास और चर्च की असफलता किसी ईसाई लेखकों को उद्धृत करना इस कथित पद्य में ईसाई इतिहास है कि यह एक शक् तिशाली इस बात को सिद्ध करने के लिए मजबूर करने के बाद आतंकवादियों की अध्यापन Trinitarian Trinitarian इसलिए हमें संतोषजनक साक्ष्य हैं कि 5:7 के बाद 1 जॉन साबित हो गया है कि इस शब्द को शामिल किया गया है।मजबूर नहीं किया जाना चाहिए। पुरुषों के लिए कुछ शास्त्र को जोड़ने के लिए ईश्वर को चेतावनी दी कि वह नहीं जानता था कि कुछ करेंगे : "यदि इन बातों को जोड़ते हैं, तो उस व्यक्ति को जोड़ते हैं, तो उस ईश्वर उनसे इस पुस्तक में लिखा है कि plagues के रहस्योद्घाटन 22:18.''


 

मॅँने पहले ही एक पत्र लिखा जिसमें 28:19 तर्कसम्मत व्याख्या कर मिलना

शेष रोए शास्त्र, क्योंकि इसमें baptizing एक नाम है लेकिन यह भी साबित रोए 28:19 संभवत: नुकसानदायक साक्ष्य के साथ छेडछाड की चौथी शताब् दी है। रोए 28:19 के अनेक लेखकों द्वारा उद्धृत स ९या था स य़९िश्चयन चौथी सदी से आज इस कविता का पूरी तरह से अनुपबस्थत रहने के पहले तीन शताब्दियों में पांडुलिपियों के यूनानी क्रिश्चियन इतिहास है। (325 ईस्वी पूर्व काउंसिल Nicea), Eusebius Caesarea Matth के हवाले

 

 

1995 में एक बैपटिस्ट विद्वान के नाम से एक प्रारंभिक हिब्रू गास्पेल का अनुवाद हॉवर्ड जॉर्ज रोए कि किसी predates यूनानी पांडुलिपि कभी नहीं मिला है। पहली शताब्दी हिब्रू गास्पेल का भी कोई उल्लेख नही रोए के नाम ''शब्दों के पिता और पुत्र और पवित्र आत्मा है।' इस खिताब को क्षति पहुंचाने के खिलाफ सबूत Trinitarian Baptism चूंकि कोई भी मिले पाठ के पहले तीन सौ साल के इतिहास में चर्च के शब्दों में, "हैं-पिता, पुत्र और पवित्र आत्मा' में यह भी हो सकता है कि यह अर्थ है कि बाद में चौथी शताब्दी Trinitarian मजबूर हैं।


 

नोट: सिखाता है कि मूल पांडुलिपि ईश्वर है कि ईश्वर के शब्दों में लिखा और उपदेशकों जी-हजूरी करते फिरते थे परंतु बाद में निर्दोष प्रतियां और अनुवाद सावधानीपूर्वक जांच किये जाने की आवश्यकता को ध्यान में रखते की अधिकता से साक्ष्य को शीघ्र ही वर्तमान पांडुलिपियों हम जानते हैं कि जो आयतें बाइबल के नियंत्रित scribal त्रुटियों या interpolations की जांच के लिए शीघ्र ही पांडुलिपियों एवं परिस्थितियाँ मिलकर उनके विद्वानों की आसानी से इस बात का ठीक-ठीक और जहां एक कॉपी करने में गलतियां हुई लिपिक लापरवाह भी होते हैं या जब पांडुलिपि स्वतंत्रताओं को जोड़ने या किसी detracting लिपिक लापरवाह भी होते हुए अंश है। 24,000 से भी जीवित हैं Sincethere यूनानी पांडुलिपियों की न्यू टेस्टामेंट धर्मग्रंथों के लिएअध्ययन आलोचकों के साथ तुलना कर सकते हैं।सबसे पांडुलिपियों पांडुलिपियों का पता लगाने के लिए कोई परिवर्तन का कोई अंश के ग्रंथ हैं।


 

इसके अतिरिक्त, अनेक विद्वानों ने ठीक ही कहा है कि अधिकांश न्यू टेस्टामेंट किया जा सकता है।ईसाई लेखकों ने कुल मिलाकर केवल करके उद्धरणों से कुछ पहले शताब्दियों लेखक की प्रेरणा में विश्वास करते थे, लेकिन सभी जानकार विद्वान मानते हैं कि शास्त्र में घृणा अंश के पाठ में त्रुटि मॅँ उन सभी के लिए चुनौती के दावे को विश्वास में गैर-बाईबिल के सिद्धांत की तीन अलग अलग अलग व्यक्तियों को प्रस्तुत करने और त्रिमूर्ति का केवल एक पवित्र ग्रंथ पद्य में जो साफ शब् द का उपयोग'व्यक्तियों' का वर्णन करने के लिए ईश्वर के सार तत्व है और दिव्य रहा है. ऐसा करने की कोशिश की है कि जो भी अपशिष्ट काफी समय से क्योंकि गुस्से से रहस्योद्घाटन आप शब्द "नहीं' वाले व्यक्तियों का उल्लेख किया जा रहा एक सच्चे ईश्वर है। एक बार जब भी कोई नहीं है!


 

यद्यपि "व्यक्तियों' शब्द का प्रयोग नहीं बाइबल ईश्वर का वर्णन करने के लिए प्रयोग किया जा रहा है, का सार' शब्द का वर्णन करने के लिए अपनी व्यक्तिगत सार है। अनेक यूनानी विद्वान सहमत है कि मूल ग्रीक भाषा में प्रयुक्त Galatians 3:20 सिद्ध यूनानी विद्वान व्यक्ति एक ही है कि ईश्वर:3:20, ''अब एक प्रस्तुतीकरण Brachter Gal जाने की जरूरत नहीं है, और एक व्यक्ति के बीच ईश्वर है।" शब्द चित्रों के एक व्यबक्त की Wuest Gal 3:20 यूनानी न्यू टेस्टामेंट ९नीशियन, ''अब एक मध्यस्थ नहीं है, बल्कि एक व्यक्ति के हितों का प्रतिनिधित्व करने के बीच जाते है।' एक ईश्वर के

 

 

अनूसार बाइबल में परिवर्तित रूप में 3:20, ''अब जाकर GALATIANS और अन्य बातों के साथ-साथ के बीच मध्यस्थ है और अर्थ में एक से अधिक है। सिर्फ एक व्यक्ति के साथ मध्यस्थता नहीं किया जा सकता है, लेकिन चूंकि ग्रीक देवता एक व्यक्ति' विद्वानों ने साबित कर दिया है कि मूल पाठ में Galatians 3:20 राज्यों में ग्रीक देवता है कि यदि किसी व्यक्ति को यह बताने के लिए कि हमें केवल एक पवित्र व् यक् तिगत ईश् वर की धारणा रही Trinitarian की बहुलता दैवी व्यक्तियों को सही नहीं किया जा सका. यह स्पष्ट है कि 1:3 Hebrews क्राइसट "... की चमक बांटता और एक्सप्रेस की छवि अपने पिता की व्यक्ति] [व्यक्ति ईश्वर है।" 1 पीटर 4:11 जोड़कर ईसाइयों में बोलने के साथ सामंजस् य स् थापित oracles ईश्वर को लिखा है।

 

 

ईश्वर का कहना है कि कभी बाइबल के तीन व्यक्तियों का कहना है कि ईश्वर दिव्य बाइबल एक दैवी व्यक्तिगत व्यक्ति है। यदि एक ही व्यक्ति व्यक्तिगत ईश्वर तो क्यों महसूस Trinitarians मुनासिब अन्य ईसाई heretics प्रयोग करने से इनकार करने के लिए कभी भी नहीं पाया गया है कि भाषा में लिखित बाइबल है? बाद के कुछ लिखा है या बोले कभी जी-हजूरी करते फिरते हैं जैसे शिक्षकों Trinitarian आप का पता लगाने के लिए व्यर्थ तलाश Trinitarian शब्दावली जैसे 'दिव्य तीन व्यक्तियों," "के तीन सदस्य," "ईश्वर के पुत्र त्रिमूर्ति," "ईश्वर के पवित्र आत्मा' या 'पुत्र' बाइबल में शाश्वत है।

 

 

बाइबल में साफ कहा गया है कि किसी व्यक्ति को पवित्र आत्मा के समान ही, दैवी क्राइसट ईश्वर पिता के रूप में पहचान की गई है क् योंकि ईसा'' ''पिताजी के व्यक्ति को ईश् वर की छवि एक्सप्रेस बन गया है और मनुष् य (Hebrews 1:3)। जॉन 1:1,14 राज्यों की घोषणा की है।ईश्वर पिता ने मांस का पवित्र "बाल'

 

 

ईसा के बाद फिर 1427 में समान होनी चाहिए जो दैवी आत्मा स्वर्ग Trinitarians तीन व्यबक्तयों की पूजा करते थे, ''एक ईश्वर पिता ही पॉल, जिनमें सभी बातें हैं और हम उन्हें; और एक प्रभु ईसा मसीह रक्षा करते हैं....। (i) 6.'' की कॉरिनथियंस पॉलिस्टा टीमें भाग 8:हम यहां केवल एक ईश्वर पिता) और एक व्यक्ति (मसीहा ()। इस बार-बार अपने पिता के साथ न्यू टेस्टामेंट सूचियों ईश्वर को किसी एक बार नहीं, बल्कि कभी मसीहा क्राइसट पुरोधा के शदों में, ''Trinitarian ईश्वर के पुत्र" या "ईश्वर के पवित्र आत्मा' शीर्षक से यह यंत्रों के साथ-साथ, ''खुदा बाप' तो है ही, दैवी व्यक्तियों के तीन त्रिमूर्ति ईश्वर है तो कभी 'पवित्र आत्मा परमात्मा की सूचीबद्ध जी-हजूरी करते फिरते' के साथ-साथ ईश्वर पिता और प्रभु ईसा मसीह रक्षा है। यदि वास्तव में ऐसा माना जाता है कि ईश्वर की जी-हजूरी करते फिरते त्रिमूर्ति में तीन बार-बार कहा है कि ईश्वर सदा मौजूद होना चाहिए तो उन्हें "ईश्वर के पुत्र में तीन लोग:'' और ''खुदा के पवित्र आत्मा' शीर्षक से यह यंत्रों के साथ-साथ ''खुदा बाप है.''

 

 

यदि यह विश् वास था कि तीन coequal जी-हजूरी करते फिरते और तब वे लोग जो दैवी coeternal

समान दिया जाना चाहिए और सम्मान के संबंध में तीनों कथित coequal और दिव्य coeternal सदस्यों की त्रिमूर्ति है। लेकिन यह यंत्रों का प्रमाण है कि ईसा और एक ईश्वर की बात ही जी-हजूरी करते फिरते पिता और एक प्रभु ईसा मसीह रक्षा! वे नहीं के बराबर का सम्मान की भावना के पवित्र नामक एक कथित तीसरे दैवी व्यक्ति


 

अध्याय 8

 

YAHWEH ईश्वर की भावना से एक जा

 

 

हड़ताल करने से इंकार नहीं करता कि वे ईश्वर के रूप धर्मशास् त्र हैं-पिता, पुत्र और पवित्र साधनों की भावना से परिलक्षित होता है लेकिन

हम यह कहकर इंकार जोड़ने के लिए ईश्वर के शब् दों का समावेश मिलता है कि इन तीन अलग अलग-अलग होते हैं और ईश् वर के सच्चे coequal coeternal दैवी आत्मा है। को धर्मग्रंथों का कहना है कि ईश् वर और पवित्र आत्मा परमात्मा की घोषणा है लेकिन कहीं भी नहीं है कि इन साधनों की एक सही घोषित शास्त्र के दो अन्य व्यक्तियों का हिस्सा हैं, ईश्वर अलग दिव्य सत्ता ईश्वर के साथ coequal के पिता है। को धर्मग्रंथों पर्याप्त प्रमाण है कि ईसा का ईश्वर पिता की मोड या manifestational अस्तित्व में मनुष्य और पवित्र आत्मा है, ईश् वर की भावना को एक दैवी लीला के पिता

 

 

ईश्वर से कहते हैं, ''17,28 Yahweh जोएल में और आप जानते हैं कि 2:मैं इसरायल के बीच में है और मैं

अपने Yahweh, ईश् वर और स ९सी : मेरे लोग कभी शर्म....। खोजती आ जाएगी और इसे पारित करने के लिए, मेरे आयी कि मॅँ सभी मांस की भावना है कि हमारी Yahweh..." सूचना अध्यक्ष को ईश् वर पद्य 17. तब से 28 पद्य Yahweh ईश्वर है, ''मैं अपनी आत्मा वर्षा के सभी मांस।" अब ईश्वर पिता है जो स्पष्ट रूप से कहा गया है कि "मेरी भावना पवित्र आत्मा' तो हम यह कह सकते हैं कि यह एक तिहाई दैवी व्यक्ति के पवित्र आत्मा की तीन व्यबक्त देवता है? कैथोलिक धर्म का पालन करने वाले Trinitarians को मजबूर हैं और ईश्वर से भी जोड़ उनकानैतिक पतन बताते हैं कि ईश्वर पिता की भावना का तीसरा दैवी व्यबक्त के बजाय तीन व्यबक्त देवता को स्वीकार करते हुए कि यह यंत्रों सादे और एक पवित्र आत्मा परमात्मा की भावना का पिता ''मेरा हमेशा प्रयास नहीं करेगा और कहा, Yahweh की भावना के साथ आदमी की उत्पत्ति 6:3 है....।"

 

 

बाइबल कभी का कहना है कि ईश्वर की भावना के पवित्र आत्मा या दूसरे दैवी व्यक्ति के तीन व्यबक्त

देवता और न कभी किसी सूची बाइबल के दृष्टांत कथित तीसरे दैवी व्यक्ति को कभी भी पवित्र आत्मा के साथ संवाद पिता या पुत्र। यदि सभी तीन दैवी शक्ति में coequal व्यक्तियों में से एक यह सोचते हैं कि आमतौर पर यह आरोप को हाबर्दक क्राइसट दैवी तीसरे व्यक्ति को पवित्र आत्मा के बजाय केवल प्रार्थी को पिता ही है।

 

 

एक Trinitarian पूरे बाइबल से खोज सकते गुस्से को बिना किसी कठिनाई के रहस्योद्घाटन एक कविता में, पिता और पवित्र आत्मा परमात्मा शास्त्र दर्शाने वाला एक-दूसरे के साथ संवाद न ही की जा सकती है जहां एक ही छंद शास्त्र के Trinitarian मुद्दा कभी दुआ मसीह?'', "ओ पवित्र आत्मा स्वर्ग यदि सभी व्यक्तियों को वास्तव में तीन तीन कथित दिव् coequal व्यक्तियों को क्यों है? पिता को हाबर्दक हमेशा क्राइसट ईश् वर के बेटे हैं और यदि हमेशा अलग अलग रूप में विद्यमान है और दिव्य व्यक्ति के अलावा पिता से क्यों नहीं पाते हैं तो अतीत की अनंतता पिता और पुत्र कभी आपस के पूर्व के पुत्र का जन्म होगा?

 

 

चूंकि पूरी तरह से अनुपबस्थत रहता है तो भाषा Trinitarian बाइबल और ईसाई सम्राट क्यों अधिकांश ईसाई गिरजों में विश्वास का सिद्धांत है? हमें डब्ल्यू बाइबल उपलब्ध कराता है।

 

 

"बाइबल " स्पष्ट है कि यीशु ने पवित्र आत्मा है, न कि भगवान के तीसरे आदमी की सच्चाई यह है :
"यहाँ तक कि एक ही है, यहां तक ​​सच है, जिसे दुनिया स्वीकार नहीं कर सकते , क्योंकि यह उसे नहीं देखना होगा , न तो उसे जानता है की आत्मा में हैं, परन्तु तुम उसे पता है : वह आप के लिए रहता है, और मैं अपने शरीर में छोड़ नहीं करेगा। अनाथ बच्चों : मैं तुम्हारे पास वापस आ जाएगा " जॉन 14 के बारे में 10: 17,18 । 2 कुरिन्थियों 3:17 यह भी पता चला है कि यीशु मसीह को एक ही आत्मा , प्रभु है : "प्रभु , वह आत्मा है । और प्रभु का आत्मा मुक्त हो"

 

 

रोम में 8 : "लेकिन तुम मांस में नहीं हैं, लेकिन आत्मा , भगवान आपके शरीर में रहता है अब अगर किसी भी आदमी नहीं भावना है, तो : 9 पॉल भगवान और पवित्र आत्मा का आत्मा मसीह दूसरे के स्थान पर इस्तेमाल किया जा सकता है कहा। मसीह, वह उसका है। "पॉल मसीह की आत्मा की भावना कॉल नहीं है। हम सच में विश्वास है कि भगवान की आत्मा स्वतंत्रता के पिता और पवित्र आत्मा की अद्वितीय भावना और है क्या पवित्र आत्मा मसीह ? " बाइबल" स्पष्ट रूप से हमें बताता है कि केवल एक आध्यात्मिक पिता परमेश्वर और " ऊपर के सभी , और सभी के माध्यम से जो है और तुम सब । "

 

 

केवल एक आत्मा , भगवान
 


Trinitarians जो हमारे लिए एक भी कविता प्रदान नहीं कर सकते , "बाइबल " कहते हैं, वहाँ दो या तीन अलग हैं
भगवान की आत्मा । एक भी कविता , कौन प्रदान कर सकते हैं "बाइबल ," ने कहा: " एक यहोवा, एक विश्वास है, और तीन दानव " किसी को भी एक भी कविता मिल सकता है, "बाइबल " का कहना है कि हमारे भगवान एक तीन है एक आध्यात्मिक आदमी Sany सिंहासन के तीन बराबर का हिस्सा यह स्पष्ट यीशु यूहन्ना 4:24 में कहा: " । परमेश्वर आत्मा है और वे कहते हैं कि पूजा करते हैं उसे आत्मा और सच्चाई से भजन "

 

 

क्योंकि " परमेश्वर आत्मा है " और इफिसियों 4 से : 4 " एक भावना है, " भगवान साबित हुई है, हम
हम पर विश्वास करना चाहिए भगवान, भगवान जो की आत्मा है कि भगवान की तीन तीन आदमी के बजाय। अगर भगवान भगवान , ट्रिनिटी तीन लोगों की है और प्रत्येक व्यक्ति को अपने स्वयं के व्यक्तिगत भावना है। यदि नहीं, तो भगवान के तथाकथित आदमी नहीं एक अलग और विशिष्ट व्यक्ति सब पर हो सकता है। कैसे लोग हैं, जो भावना ही नहीं है ? क्योंकि "बाइबल " भगवान की चुप्पी है , तीन देवताओं तो हम भी इस मूक तीन पवित्र आदमी की पूरी अवधारणा रखना चाहिए भगवान कहा जाता है कर सकते हैं। अगर हम परमेश्वर की आत्मा पर जोर देते हैं, तीन लोगों को तो हम भगवान के लोगों का वचन को जोड़ें। नीतिवचन 30: 6 हमें भगवान को जोड़ने के लिए नहीं , नहीं तो हम झूठ बोल मिलेगा हासिल है। रहस्योद्घाटन अध्याय 20 पद 18 हमें चेतावनी है कि सब झूठे आग की झील के पास जाना होगा।


 

जो लोग तीन देवताओं के ट्रिनिटी कॉलेज , जो परमेश्वर का वचन को जोड़ रहे हैं में विश्वास करते हैं। हम करने के लिए जोड़ते हैं
भगवान के शब्द हम कहते हैं , वास्तव में, भगवान के लिए पर्याप्त काम नहीं किया है , हम अपने पवित्र प्रेरितों और भविष्यद्वक्ताओं को अपनाया। इसलिए वे परमेश्वर का वचन, परमेश्वर का वचन उसके मुंह में होना है, वह कभी नहीं कहा , सही सिद्धांत पाने के लिए। भगवान वास्तव में हमें विश्वास है कि वह तीन बराबर और coeternal भगवान तिकड़ी भगवान तो वह स्पष्ट रूप से परिभाषित किया जाना चाहिए है, और हम अपने पवित्र प्रेरितों और "बाइबल " में नबियों के माध्यम से करना चाहता है । क्योंकि भगवान कभी नहीं कहा कि वह तीन व्यक्तियों की होली ट्रिनिटी तो हम भगवान , उसके मुंह में शब्द का वचन को जोड़ नहीं करना चाहिए था, वह कभी नहीं कहा । जब भगवान साबित करना है कि आदमी भगवान के :! "भगवान आध्यात्मिक छवि में बिल्कुल उसकी उत्पत्ति 1:27 से केवल एक ही साबित हुई अपने ही जैसे मनुष्य की आत्मा को बनाया अपनी छवि में आदमी बनाया , उसकी छवि बना पुरुषों और महिलाओं को । "


 

क्योंकि लोग भगवान स्वयं की छवि और आदमी , केवल अपने आध्यात्मिक तत्व की भावना से कर रहे हैं , यह भगवान की भावना उसकी अच्छी तरह से किया जा रहा होगा। एडम एक आध्यात्मिक एक है। इसलिए परमेश्वर आत्मा के एक व्यक्ति होना चाहिए। मनुष्य की आत्मा और परमेश्वर पवित्र आत्मा है, जो एक सीमित असीमित तक ही सीमित है की आत्मा के बीच का अंतर एक बार जीवन में ऐसे कई विभिन्न स्थानों में केवल एक ही भौगोलिक क्षेत्र भगवान सकता है कि , क्योंकि वह हर जगह मौजूद है ।

 

 

चर्च धर्मशास्त्रियों भगवान की रेटिंग भगवान का सबूत बहुवचन रूप या एक ही समय में अपने ही , विभिन्न भौगोलिक स्थानों के कई तरीके की उपस्थिति को समझते हैं। उत्पत्ति 19:24 अस्तित्व और भगवान की शक्ति को साबित करने के लिए दोनों स्वर्ग में और एक बार पृथ्वी पर काम कर सकते हैं : "तो फिर भगवान बारिश

 

 

जर्मिया ने 23:24 : "ईश्वर Yahweh कर सकता हूं कि किसी छुपने के स्थान पर उसे देखना नहीं होगा?में गुप्त कहते हैं। Yahweh मॅँ नहीं भरा आकाश और पृथ्वी? ईश्वर से कहते हैं?' Yahweh Yahweh पिता की भावना भर आकाश और पृथ् वी के रूप में एक ईश्वर की भावना से ऊपर 'सभी के माध्यम से हम सभी' में और (4) में स्पष्ट कर सकता है, वह अपने 4:Ephesians शक्ति और जब वे कहीं और इच्छाओं में उपस्थिति कई गुणा स्थानों पर है। हालांकि वह ईश् वर की भावना से एक हो सकता है जबकि एक व् यक् ति के रूप में हमारे साथ] [इमेनुअल ईश्वर को भरने के लिए जारी आकाश और पृथ् वी के रूप में है और दिव्य आत्मा की Yahweh है। अत:

 

 

, यह प्रस्ताव कर सकता है और अधिनियम में बोलने के लिए ईश्वर के साथ-साथ विभिन्न साधनों की है। पृथ्वी और हर चीज को स्पष्ट रूप से ईश्वर के सृजन और स्वयं अपने से ही सभी भावना के माध्यम से और अपने शब्द है। जिस प्रकार एक व् यक् ति की भावना और मनुष्य के शब्द नहीं किया जा सका जिससे ईश् वर में एक से अधिक व्यक्ति किसी व्यक्ति की भावना और उसके शब्द नहीं किया जा सकता है उस व्यक्ति को एक से अधिक दैवी व्यक्ति

 

 

''शून्य था और पृथ् वी के बिना, और अंधकार के चेहरे पर था, और गहरी हैं। ईश्वर की भावना के चेहरे पर उपस्थित रहते हैं। और ईश् वर कहा जाए और वहां लाइट:---- ''1:2.'' शब्द की उत्पत्ति के द्वारा किए गए Yahweh स्वर्ग: और सभी होस्ट द्वारा सांस के मुंह में''6:33 Psalm शुरू किया गया था और इस शब्द के शब्द ईश्वर के साथ और शब्द ईश्वर है।" जॉन 1:1"और मांस और विस्तार किया गया शब्द हमारे बीच..." जॉन 1:14. चूंकि वह अपने मुंह की घोषणा की है।ईश्वर एक अलग अलग नहीं किया जा सकता है और दिव्य

 

 

व्यक्ति के अलावा ईश्वर पिता है। अत:, उस शब्द ईश्वर और ईश् वर की भावना से संबंध रखता है, पिता की तरह ही शब्द की भावना और एक व्यक्ति से संबंध रखता है।

 

 

अध्याय - 9

 

भुजा का खुलासा YAHWEH

 

 

ब्रह्मविग्यानियों Trinitarian मान लेना चाहिए कि ईश्वर को विभाजित किया जा सकता है क्योंकि उनके मन में दैवी भिन्न व्यक्तियों की असीम ईश्वर को कैसे कर सकते हैं और विभिन्न भूमिकाएं औरउसने दलल साधनों की उपस्थिति में विभिन्न स्थानों पर सभी उसी समय है। ब्रह्मविग्यानियों मूल्योंके संवर्धन पर जोर नहीं बाइबिल शब्दावली का प्रयोग करने का प्रयास न बतायेगा देवता के रूप में उनकी उपस्थिति साफ कर सकते हैं-पिता, पुत्र और पवित्र आत्मा है, बल्कि हमें स्वयं को चालू करने के लिए धर्मग्रंथों

 

 

ईश्वर के उदाहरण है कि किस प्रकार की घोषणा करते हुए दो निदेश देती है, ईश् वर और

मनुष् य को पूरी तरह से पूरी तरह से दोनों में 22:16 की घोषणा करते हुए कहा कि उन्हें यह रहस्योद्घाटन दोनों 'मूल' है और संतति की स् पष् ट उदाहरण यहां हमें डेविड साबित करने की घोषणा की है कि 'मूल' दोनों डेविड [सृष्टिकर्ता के राजा डेविड], और ''संतानों" के डेविड [Setup] में एक व्यक्ति का वंशज डेविड राजा अत: यह कैसे संभवत: सबसे बडा चमत्कार का समय है। ईश्वर Yahweh कैसे हो सकता है किसी व्यक्ति से बचने के लिए हमें अपने पाप है हमारे लिए असीम के मन को पूरी तरह से आंकडा अचिंत्य हमें कभी ईश्वर मैकेनिक्स समझातें किस तरह मनुष्य की गर्भ में बने, लेकिन हमें विश्वास है कि यह तथ्य को स्वीकार करके मैरी के कारण ईश्वर का कहना है कि ऐसा है।


 

शायद, जाननी उदाहरण है कि ईश्वर ने अमेरिका के

प्रारभिंक चौतीस वर्ष गुजरे मनुष् य को समझने के लिए ईश्वर को कैसे बन गया है, ''हमारे विश्वास पै.गंबर Isaiah रिपोर्ट है? और जिनके लिए यह रहस्योद्घाटन YAHWEH का एक अंग है? .. वह कह रहा है ..." 53:1-3 Isaiah अस्वीकार कर दिया तथा पुरुषों को 53:वाले फ् यूचुरो प्रांतीय Isaiah पढ़ने वाले किसी भी व्यक्ति को जानते हैं कि एक क्राइसट समग्रता में बोली का अंग के रूप में स् वयं ईश् वर YAHWEH! मात्र एक मनुष्य के रूप में अपने हाथ में एक व्यक्ति से अलग नहीं कर सकते हैं ताकि स् वयं ईश् वर का रहस्योद्घाटन में खुद को ईसा मसीह से अलग नहीं है।

 

 

अपने दिव्य व्यक्ति क्राइसट का अंग है, क्योंकि वह Yahweh के विस्तार के अनंत स् वयं ईश् वर है। ईश्वर Yahweh शारीरिक अंग नहीं है क्योंकि शास्त्र शाब्दिक अर्थ है कि ईश्वर की भावना अदृश्य राज्य (1:15) Colossians ईश् वर के शब्द बोलता anthropomorphically (दृष्टिकोण मानवीय गुणों को ईश् वर) को समझने में हमारी मदद करे कि ईश् वर के पुत्र का विस्तार करने के लिए स्वयं को बचाने के लिए हमें एक व् यक् ति बन अत: यह ईश्वर पिता, जो कि एक व्यक्ति के रूप में से खुद को परिलक्षित आकाश धरती की अपेक्षा अलग शाश्वत दैवी व्यक्ति के पुत्र calledGod

 

 

क्राइसट साफ पता चलता है कि ''का एक अंग है.''वे Yahweh 'एक्सप्रेस की छवि अपने [Setup] व्यक्ति

(ईश् वर) 1:3 Hebrews'' ---- अपने पिता को ईश् वर की छवि एक्सप्रेस ईसा की पहचान के अगुआ थे- "भुजा का खुलासा Yahweh जॉन' में कहा, ''लेकिन उसने जॉन 12:37-41 कई चमत्कार उन्हें ऐसा करने से पहले उस पर विश् वास नहीं करते, फिर भी यह कहा जा सकता है : पैगंबर Isaiah का पूरा जहांहमें काफी

 

 

सूचना है कि डेविड भी भविष्यवाणी की सच्चा होगा क्योंकि'' में प्रवेश द्वार के Yahweh Yahweh स्वयं अपनी मुक्ति बन जाएगा। लेकिन, जो ईसा के रूप में पहचान की जा सकती है जो हमारी मुक्ति Yahweh बन गया है? ईसा से कहा कि वे केवल एक द्वार किंगडम, उसे चाहिए कि जो Yahweh द्वार या गेट में ब्रिटेन के स्वर्ग है। जब मैं नहीं बल्कि जीवित डेविड' ने लिखा, ''जाहिर है कि वे इसका अर्थ है.''वे मर नहीं होगा बल्कि जीवन के अधिकार के माध्यम से इन सभीको मृतक की ओर Yahweh ईसा मसीह रक्षा, हमारी मेंजाने जाते हैं।

 

 

ईसाई धर्मशास्त्र में विश्वासकरना हड़ताल करने में विश्वास नहीं जोड़ ईश्वर को सिद्ध करने के लिए हमारी

स्वास्थ्य कार्यकर्ता अक्सर पहले 30:6 राज्यों के सिद्धांत है क्योंकि ''नहीं है, वे आप को जोड़ने के लिए, आपको अपने शब्दों की शाबाशी लेवी पाया।" हम केवल एक झूठा ईश्वर को मान है जिसमें कहा गया है कि "ईश्वर को अपने में विश्व के संकलन और ईसा की कॉरिनथियंस पॉलिस्टा टीमें भाग 5:19) (2)" "ईश्वर है कि 16 राज्यों में 3:1 टिमोथी साफ था.'' में भी कहते हैं, ''भगवान क्राइसट इमेनुअल शाब्दिक अर्थ हमारे साथ 1:23) (रोए"एक मनुष्य के रूप में है। हमारे महान ईश्वर ने उसे नहीं बोलना अशुद्धि से संबंधित चेताया 42:7 राज्यों ने कहा, ''यह कार्य करने के लिए, "मेरा Temanite Yahweh Eliphaz के खिलाफ आक्रोश है और आप अपने दो मित्रों के खिलाफ प्रज्वलित है क्योंकि आप मुझे क्या अधिकार नहीं कहा गया है।'' के रूप में मेरी सेवक बाइबल में ९हीं भी हम पाते हैं कि वे एक दूसरे दैवी व्यक्ति प्रत्यक्ष में ईसा है। बाइबल मात्र है कि ईश्वर और मांस का विस्तार किया गया (1:14) और हममें जॉन कि ईश्वर की पवित्र आत्मा को ग्रहण करने के लिए दब मैरी अलौकिक रीति से 1:35) ईसा बाल (ल्यूक सच बोलना चाहिए जो कि सही सही है और ईसाई और उसके शब्द ईश्वर से जोड़ने या detracting शब्द से बिना लेकिन हर आदमी एक ईश्वर दीजिए और सच्चा झूठा (3:4)" विविसंहिताएं

 

 

ल्यूक 1:35 राज्यों के पवित्र आत्मा परमात्मा की कल्पना करना कि मैरी अलौकिक रीति से पवित्र बाल की घोषणा। यदि किसी दूसरे दैवी व्यक्ति की त्रिमूर्ति बन गया है तो 1:35 पवित्र बाल क्राइसट पढा जाना चाहिए कि दूसरे दैवी ल्यूक नामक व्यबक्त ने शाश्वत 'पुत्र' बनने के लिए ईसा बच्चे मैरी अस्तित्व में आया। क्राइसट कैसे किया जाए और एक दूसरे दैवी व्यक्ति पवित्र आत्मा के तीसरे व्यक्ति की कथित तीसरे व्यक्ति ने तो दिव् य दिव्य आत्मा अपने को सभी जगह वाले व्यक्ति की पवित्र गर्भाशय के बाहर मैरी? चूंकि बाइबल के पवित्र आत्मा है, ईश् वर की भावना लीला के पिता, हम जानते हैं कि वे ईश्वर के देवता के अवतार के रूप में उतना जानूं (2:12) शारीरिक Colossians


 

ईश्वर पिता ने चेरनोबिल में अवतार के माध्यम से उपलब्ध कराने के लिए Y गुणसूत्रों के पवित्र आत्मा को एकजुट मैरी के X गुणसूत्र होते हैं। अन्यथा, यह एक सही क्लोन की घोषणा की है। यह कैसे कहा जा सकता है और ईश् वर के दोनों परिशष्ट क्राइसट नोट: मैं सिर्फ सुना होगा कि कुछ भावना में थोडी फुसफुसाना शब्द "निनदा' का अवतार के उपयोग के लिए मुझे 'ईश्वर में 3:16) (1) मांस टिमोथी"" शब्द "अवतार scripturally ध्वनि.

 

 

विद्यावली Wikipedia को परिभाषित किया गया है :- "अवतार अवतार शाब्दिक अर्थ में समाविष्ट मांस या उसकी धार्मिक संदर्भ में रुचि … मांस पर शब्द का प्रयोग किया जाता है, ईश् वर के वैभव से तात्पर्य आकाश से या मानव रूप में किया जा रहा है।'' से धरती पर दिव् क्राइसट है "ईश्वर में टिमोथी 3:16)" (1) मांस और ईसा के बाद में निवास करता है, "सभी शारीरिक रूप में देवता की संपूर्णता' (2:Colossians 8-12 एनआइवी); देवता के सर्वशक्तिमान ईश्वर के शरीर में सभी जगह थी। ईसा मसीह जब तक एक शब्द का अर्थ harmonizes स्पष्ट रूप से प्रेरित

है। इसका प्रयोग में सविनय अवज्ञा का कोई शास्त्र शब्द के प्रयोग का एक अन्य उदाहरण होगा।" "ईसाई सर्किलों में

 

 

चूंकि इस शब् द का अर्थ है।" ""चलेजाएं।'' ''के साथ यह स्पष्ट harmonizes हीरास्ते बहू ईसा की पूर्ति के लिए लार्ड हवा में 'हम अब भी जीवित रह रहे हैं और उनके साथ मिलकर फंसा होगा और बादलों को पूरा करने में भगवान हवा में इसलिए हम हमेशा से होगा।'' 17. 4:1 Thessalonians भगवान इस शब्द का अर्थ है ''भावातिरेक Wikipedia विश्वकोश का कहना है कि यह' का उल्लेख कर लेगे Thessalonians 4:1 17. वे कहते हैं, ''राज्य परिवहन के अन्य परिभाषा एक व्यक्ति से दूसरे स्थान पर, विशेषकर स्वर्ग है.''


 

अत:, उस शब्द है परंतु ध्वनि scripturally त्रिमूर्ति अवतार के तीन coequal और दिव्य coeternal व्यक्तियों की नहीं। मात्र एक मनुष्य के रूप में किसी अन्य व्यक्ति के अलावा अपने हाथ नहीं कहा जा सकता.

 

 

बाइबल स्पष्ट रूप से सिद्ध होता है कि पिता और पुत्र रिश्ता नहीं अलापते मौजूद थी लेकिन "द्वारा" "ईश्वर अतीत की अनंतता में आने के पास पर नामंजूर कर दी गयी है:"के भविष्य के समय तक, जो देवताओं का कहना था कि वह किसी भी समय, आप मेरे बेटे, मॅँने इस दिन पूर्वजनित? और फिर, मॅँ उनके पिता होगा और वह मेरे पुत्र होगा?'' 1:5 Yahweh Hebrews ईश्वर पिता राज्यों को स्पष्ट रूप से कहा, ''मैं उनसे होगा [ईसा मसीह] [एक पिता और पुत्र मेरे लिए [होगी। ऐक् य सदा एक पुत्र को कैसे कर सकते हैं जब पुत्र पिता और पुत्र रिश्ता नहीं हो सकता जब तक कि 07 के बाद 'पुत्र' (स् त्री की गई। Gal 4:4)? 1:5 के अनुपात में स्पष्ट रूप से सिद्ध होता है कि व्यक्ति को 'Hebrews का पुत्र था और अलग अलग व्यक्ति दैवी विद्यमान सदा से ईश् वर पिता के पूर्व के अवतार माना जाता है। चूंकि पिता और पुत्र संबंधों को कभी भी स्पष्ट रूप से ईश्वर के बेटे ने शाश्वत है, ने एक शुरूआत है।

 

 

चूंकि इस खिताब को पुत्र ही अर्थ'', ईश् वर के पुत्र की संतान या उत्तराधिकारी शाश्वत नहीं किया जा सका!

यही वजह है कि राज्यों में 1:2 Hebrews नियुक्त किया गया है। इन सभी बातों के वारिस पुत्र'' और ''1:4 राज्यों में फिर Hebrews कि इतनी अधिक बेहतर है क्योंकि वह देवताओं के नाम से एक बेहतर प्राप्त करके उत्तराधिकार" यदि यह सच है तो कैसे क्राइसट ऐसासन्दर्भ त्रिमूर्ति सिद्धांत थे कि कुछ भी नहीं किया गया है, पहले से ही अपना पहला स्थान है? मात्र एक आम आदमी की घोषणा नहीं की जा सकती या पैदा की जा रही है क्योंकि सभी चीजें ऐसासन्दर्भ angelic जो ईश्वर ने कहा कि वह 8:42 Isaiah अपने "गौरव प्रदान नहीं की जा सकती।" को "आकाश में बिजली की घोषणा की गई है और पृथ् वी के सभी 28:18) के रूप में'' (रोए बनने का मनुष्य ईश्वर अत:, केवल संतोषजनक कैफियत है कि सभी सौहार्द लाता है धर्मग्रंथों का विश्वास है कि यह एक सही ईश्वर से हमें ईसा मसीह रक्षा, व् यक् ति के रूप में, जो मानवता के सभी चीजें हिस्साबच्चों

 

 

यह सब बातें करेंगे जो ऐसासन्दर्भ मानवता ईसा की एक व् यक् ति के रूप में है। ईश् वर के देवता की जा सकती है क्योंकि हर चीज पहले अपने Yahweh inheritanything में पहले स्थान पर है। ईश् वर ने कहा है कि वह अपने "गौरव प्रदान नहीं की 42:8) अन्य (Isaiah ईश्वर से नहीं किया जाना चाहिए कि देवता की घोषणा के देवता, झूठ ईश्वर पिता है। ईसा के लिए कैसे कहा जा सकता है''''''' की नियुक्ति की जाएगी जो सभी बातें वारिस ऐसासन्दर्भ'' था तो दूसरे व्यक्ति पहले से ही दैवी coeternal coequal और सभी बातों से पहले अवतार हावी रही है? यदि इस सिद्धांत को ठीक करने के लिए एक दूसरे के मसीह, त्रिमूर्ति शाश्वत दैवी व्यक्ति के पास पहले से ही इन सभी बातों पर सत्ता ईश्वर पिता के पास पहले से अनंतता अत:, केवल कुछ भी नहीं हो सकता! मानवता ऐसासन्दर्भ देवता


 

यदि पूरी तरह नहीं थी, [ईश्वर से हमें क्राइसट इमेनुअल मानव में अस् तित् व नहीं हो सकता, तो वह ईश् वर की गद्दी पर ऐसासन्दर्भ]. ईश्वर के बारे में अपने गौरव को कैसे ईश् वर नहीं है? यही कारण है कि ईश्वर पिता से कहा, ''तेरा सपूत सिंहासन ओ देवता है, हमेशा....।

 

 

(8) 1:Hebrews' की घोषणा की है, जो ईश् वर के स्पष्ट करते हुए अपने सभी मनुष् य बन गये दैवी सार में शारीरिक रूप है। .खुदा के नाम की घोषणा के पास अपने पिता के रूप में अपना नाम (5:43) है, क्योंकि वह ईश्वर के साथ जॉन ने हमें एक व् यक् ति के रूप में है। यही वजह है कि राज्य को धर्मग्रंथों की घोषणा की है।बेहतर नाम से प्राप्त 1:4) (देवताओं Hebrews! 4:4 है और यह यंत्रों Galatians प्रमाण है कि ईश्वर के बेटे ने कभी ईश्वर के साथ संबंधों में शाश्वत पिता है। अब समय आ गया है, ईश् वर की संपूर्णता में ''जब उनके पुत्र ने एक महिला के बाहर भेजा जाता है, कानून के तहत किया गया है।'' के बाद उन्होंने स्पष्ट रूप से ईश्वर के पुत्र भेजी गई एक महिला की है। चूंकि 'पुत्र' में एक महिला ने शाश्वत नहीं किया जा सका! ईश् वर के पुत्र Wherefore संसार में भेजा गया था जैसे कि उनके शिष्य थे। 17:18 "क्राइसट स्वयं केस्वास्थ्य के लिए जेसिन जॉन ने मुझे आप दुनिया में, यहां तक कि मैंने उनको संसार में भी भेजा।" के शिष्यों को भेजे गये थे ताकि विडव में भेजा गया है।विश्व क्राइसट आकाश से नहीं बल्कि पृथ्वी से पृथ्वी से पृथ्वी से है।

 

 

देवता के पुत्र अपने पिता के रूप में वह ईश्वर ने आकाश से आए पृथ्वी के रास्ते पवित्र आत्मा के माध्यम से ईश्वर के अवतार के पिता है। केवल साधनों से भेजे गये थे कि ईश्वर या साधनों की Yahweh आकाश धरती को ईश् वर की भावना और उसके शब्द स्पष्ट हैं जो केवल एक दैवी व्यक्तिगत साधनों की जा रही है। यह कहना गलत है कि एक शाश्वत पुत्र scripturally आकाश से भेजा गया था लेकिन यह कहना सही है कि Yahweh scripturally साधनों की भावना और आकाश से भेजे गए शब्द ईश्वर के पृथ्वी से है। 1 Psalm

 

 

उनका समर्थन कर सकते हैं Trinitarians सभी Trinitarian सिद्धांत यह है कि मनुष् य के साथ संवाद दिखाएं ईसा मसीह ईश्वर पिता और ईश् वर के पिता के साथ संवाद आदमी ईसा मसीह के अवतार माना जाता है। लेकिन इस बात को हमें यह आशा है तो हमें विश्वास है कि सचमुच एक आदमी की घोषणा क्राइसट नहीं ईश्वर में वह एक बाह्य कवच है, न केवल मानव शरीर बहुत सावधान रहिए दुआ उन्होंने समिति को प्रलोभन शैतान पर है। वास्तव में वे ईश् वर के रूप में नहीं, बल्कि यह प्रार्थना करते थे; एक मनुष्य के रूप में है। वास्तव में वे ईश् वर के रूप में नहीं था, बल् कि एक व् यक् ति; फ़र्क है। इसलिए हमें यह भी विश्वास में मानवता के वास्तविक और ईसा की हमारी मसीहा शाब्दिक अर्थ है। यह बताने के लिए कि ईश् वर और मनुष् य से संव र्धित मूल्योंके संवर्धन बन सके। यह प्रार्थना करते थे सभी मनुष्यों को मंगल क्राइसट लेकिन यह प्रार्थना करते हैं या यदि वह केवल तभी क्राइसट तो समिति को फ़र्क नहीं जा सकता, तो वह एक असली मनुष्य। तब वह आदमी सचमुच नहीं थे और यदि की घोषणा नहीं कर सकते हैं. अपने लिए सचमुच atoned गुनाहों


 

यह सच है कि यह यंत्रों के सिद्धांत केवल जोभारत के आंकडों के अनुसार धर्मशास्त्र मूल्योंके संवर्धन ईश् वर के आदेश में आए और उन्होंने हमें बचा भी बन जाने की भावना के साथ (एक मानव मस्तिष्क मनुष्य और मनुष्य की जाएगी। यदि नहीं, तो वास्तविक व्यक्ति पर नहीं क्राइसट और यदि क्राइसट नहीं था, तब वह व् यक् ति नहीं सहेजे गए वास्तविक से हमें अपने पाप है। इससे सिद्ध होता है कि यह यंत्रों के आंकडों की घोषणा नहीं की जा सकी हैं बल् कि ईश् वर में वह एक बाह्य कवच मानव देह जबकि ministering पृथ्वी पर है। उन्होंने कहा, ''हमारे साथ" के रूप में यह Emanuel ईश्वर के साथ एक व्यक्ति, एक मानव मस्तिष्क मनुष्य और मनुष्य की आत्मा मनुष्य होगा।

 

 

किंतु ईसा के रूप में किसी व्यक्ति को एक अलग नहीं है, जो ईश् वर से विमुख पिता दैवीय को धर्मग्रंथों के लिए राज्य कि ''एक्सप्रेस की छवि अपने [Setup] ईश् वरीय व्यक्ति जो मनुष् य बन गया है.'' यही कारण है कि धर्म-ग्रंथों' की बात ही नहीं बल्कि "ईश्वर पिता से पुत्र को ईश् वर के एक कथित या ईश्वर के पवित्र आत्मा है। 1 की कॉरिनथियंस पॉलिस्टा टीमें भाग 8:6 राज्यों में से एक है, ''हमारे लिए ईश्वर पिता'

 

 

नहीं है, जो एक आयत बाइबल में कहते हैं, ''भगवान के पुत्र" या "ईश्वर के पवित्र आत्मा'', 'है लेकिन एक ईश्वर पिता है।' 'मगर है क्योंकि एक ईश्वर पिता' देवता की पवित्र आत्मा के देवता और ईसा की जानी चाहिए कि एक ईश्वर पिता साधनों की 3:16) (1 टिमोथी यद्यपि कभी ईश्वर के पुत्र शाश्वत पुत्र हम यहजानते हैं कि दोनों के शब्दों में, पिता और ईश् वर के पिता की भावना है अनंत। जॉन 1:1:14 राज्यों में है, जो ईश्वर सदा ही ईश्वर के साथ [Setup] "ईश्वर से संबंधित = Theon पेशवरों टन मांस का विस्तार किया गया है।'' शब्दों के बीच और हमें केवल एक मनुष्य के मन की अभिव्यक्ति और विचारों को ईश् वर के शब् दों में, पिता की आधारशिला है।" शब्द का उपयोग करने के लिए प्रेरित किया क्योंकि शास्त्र," "नामंजूर कर दी गयी और उन् हें बाइबल स्पष्ट रूप से सिद्ध होता है कि अभी तक नहीं हुआ है, अस्तित्व शाब्दिक अर्थ ईसा पूर्व के बेटे हैं। नामंजूर कर दी गयी

 

 

हम किस तरह से सही साबित करने की घोषणा की थी कि शास्त्र के टुकडे इबण्डयन गौरव को नामंजूर कर दी गयी थी? प्रारंभ करने से पहले व्यक्ति शाब्दिक अर्थ ईश्वर की मंशा है कि ईश्वर ने आवश्यक योजना और निर्माण के प्रारंभ से ही है। इसलिए मस् तिष् क और योजना की घोषणा पहले ही "ईश्वर को दुनिया के सामने था।" शाब्दिक बनाया जाए। हालांकि भविष्य के गौरव का पुत्र नहीं किए गए 'पुत्र के बाद तक अक्षरश: सुस्पष्ट' एक महिला के गौरव को पूर्व ज्ञात हो चुका था और प्री-पुत्र द्वारा निर्धारित समय में ईश् वर में संसार के समक्ष किया गया था। 1 के अनुसार 1:20, ईसा''नामंजूर कर दी गयी थी जो पीटर में संसार के समक्ष बनाया गया है।' इस अर्थ में बोल सकते हैं, ''अपने जीवन की घोषणा के साथ जो कि गौरव काअस्थिकलश [Setup] संसार के समक्ष किया गया है।' इस व् याख् या पिता है। शास्त्र के सभी सौहार्द लाता

 

 

पै.गंबर के सपनों को ईश् वर का गौरव Isaiah जिस तरह हीजी जॉन पुरोधा के भविष्य के उत्कर्ष के पुत्र ने पहले ही इस बात की पुष्टि करता है कि ईसा पूर्व-निर्धारित योजना और मन में गौरव ईश्वर के समक्ष संसार की सृष्टि।"लेकिन उन्होंने ऐसा नहीं किया, उन्हें अभी तक कई चमत् कारों से पूर्व उनका विश्वास था कि यह कहने पर उसे पूरा किया जा सकता है जो उन्होंने spake पैगंबर Isaiah का, जिसने अपनी रिपोर्ट "भगवान मानते हैं? पता चला है जिनके लिए और अंग YAHWEH?' कर सकी अत: उन पर विश्वास नहीं है, क्योंकि यह Isaiah ने कहा, "फिर उसने अपनी आंखें और उनके ह्रदय पुष्षों मिनटों: वे अपनी आंखों से नहीं देखना चाहिए और न ही उनके ह्रदय को समझना चाहिए और मॅँ परिवर्तित किया जाए और उन्हें भरना इन सब बातों ने ISAIAH, जब उन्होंने देखा कि उसकी प्रतिष्ठा और SPAKE।"जॉन

 

 

सभी यह यंत्रों के लिए संदर्भ-पूर्व ईसा के गौरव incarnational नहीं हैं, वे भविष्यसूचक पुत्र के

भविष्य के गौरव का उल्लेख ईसा के पवित्र आत्मा परमात्मा का पिता इस संबंध में 'मुक्ति, पैगंबरों, जो कि आपका कृपा के बारे में भविष्यवाणी की थी और यह जांच की तलाशी ली, जांच और ईसा की भावना है कि हालात उनके भीतर दर्शाया गया है जब वह एक अग्रिम रूप से ईसा के आराधनागृहों कष्टों और गौरव कि (1)" यहां पुरोधा पीटर 1:10,11 मसीहा के रूप में पहचानी पीटर क्राइसट पवित्र आत्मा परमात्मा के सर्वशक्तिमान क्योंकि हम जानते हैं कि यह पवित्र आत्मा उपस्थित हैं जो कि : "उपदेशकों के लिए पुण् य की भविष्यवाणी नहीं आये ाा : मनुष् य द्वारा समय-समय पर पुराने लेकिन धर्मप्राणों spake द्वारा उपस्थित थे क्योंकि वे ईश् वर के पवित्र आत्मा (2. 1:21)" पीटर यहां फिर हम देखते हैं कि की भावना ईसा के रूप में दैवी व्यक्ति पवित्र आत्मा है।

 

 

ईश्वर की भावना के धर्मदूत पॉल की पहचान भी की कॉरिनथियंस पॉलिस्टा टीमें भाग 2 में से 3:17, ''९ ईसामसीह अब

भगवान की भावना (ईसा की भावना और जहां भगवान) लार्ड है।" अत: पवित्र आत्मा की स्वतंत्रता है कि ईश्वर की थी जो बाद में इसी भावना को उपदेशकों की पवित्र मां कल् पना ईसा मसीह रक्षा में आया है। "तुम पर आ ो पवित्र आत्मा और सर्वोच्च होगा; और यही कारण है कि आप के बच्चे की पवित्र ढांकना होगा जिसे ईश् वर के पुत्र (1:35)।"

 

 

अत: ल्यूक शीर्षक 'पुत्र'' का उल्लेख किया है वह ईश्वर के अवतार की भावना को ईश् वर के आदमी और ईसा मसीह है। अत:, यह गौरव की घोषणा के पुत्र अपने पिता के पहले अवतार ने ईश् वर के साथ ईश्वर के साथ एक व् यक् ति के रूप में हमारे पास पहले से ही जाना था कि ईसा के गौरव और दिमाग में ईश्वर की भावना की योजना को दुनिया के सामने से बनाया गया था। यह महत्वपूर्ण है कि यूनानी शब्द "गौरव 12:41 के समान है।" में जॉन'' के लिए ग्रीक शब्द का प्रयोग किया जाता है।' गौरव 17:5 जब कुंती जॉन मसीह को ईश्वर पिता ने कहा, "...।मॅँने जो आप के साथ DOXA (बीजापुर) को दुनिया के सामने था।'


 

'ये बातें कहना Isaiah (तथा अन्य हिब्रू उपदेशकोंसंबंदर, जब उन्होंने देखा कि उसके यशस्वी (DOXA) और उनके spake [ईसा के मसीहा]।" के रूप में देखा कि एक ईसा का गौरव पैगंबर Isaiah होगा, जो उनके चमत् कार करने के बारे में मंत्रालय ने इन घटनाओं में वास्तव में एक हजार वर्ष पूर्व भी सांसारिक हुई। यह गौरव की बात है कि ईसा' पूर्व विश्व था।" Isaiah हो जाता है कि कई राज्य नहीं है, ''अंग मानते हैं कि ईसा' चला YAHWEH Wherefore Isaiah नहीं देखते हैं, जैसा कि ईश्वर के अतिरिक्त किसी दूसरे व्यक्ति को दिव् यश' की घोषणा की है, लेकिन उसने देखा कि उनके पिता की अनंतता में विगत ख्याति के अंग के रूप में अपने मसीहा YAHWEH दिखानेवाला भविष्य है। भविष्य में भी देखा Isaiah ईसा''बच्चे को जन्म दिया जाएगा कि भविष्य के पुत्र के रूप में तथा बाद की तारीख में हैं।

 

 

पुराना गौरव का शीर्षक "ईश्वर को लागू किया है।' विश्व-व्यापी ईसा की कॉरिनथियंस पॉलिस्टा टीमें भाग 1 में 2:8 के ''भगवान का गौरव है।'

' ''नामक है और ईसा की 'ईश् वर की चमक एक्सप्रेस' और 'गौरव की छवि अपने व्यक्ति (1:3:1 Colossians Hebrews)" "17 में साफ कहा गया है कि ईसा की छवि को अदृश्य ईश्वर है।" अत: की घोषणा की है।हाव (ईश् वर) ठोस रूप में देखना होगा कि हम हमेशा अदृश्य क्राइसट स्पष्ट रूप से 'अंग YAHWEH'' को उदघाटित Yahweh लीला के समन्वियित केवल स् वयं ईश् वर है।


 

ईसा के लिए असंभव है कि वस्तुत: एक शाश्वत पुत्र अपने पिता के कारण ईश्वर के साथ 07 1 पीटर 1:20 में साफ कहा गया है कि विश्व के समख्र मसीह को नामंजूर कर दी गयी थी।"जो सचमुच] [ईसा पूर्व नामंजूर कर दी गयी थी, लेकिन दुनिया की नींव पिछले बार आप इन सुन्दर।' है जिसका अर्थ है, ग्रीक शब्द का अनुवाद नामंजूर कर दी गयी PROGINOSKO जानना "ईश्वर जानते हैं, या यदि आप उन बिन्दुओं" FOREKNOW पूर्वनहीं भेजे या FOREKNEW अपने पुत्र के अस्तित्व के बारे में कहा जा सकता है कि उनके पुत्र को ईश्वर के समय मौजूद धरने का अगला नामंजूर कर दी गयी है? यदि कुछ शब्दों का अर्थ है,

ईश् वर का पुत्र नहीं हो सकता था जो दैवी के रूप में 07 व्यक्ति शाब्दिक पहले नामंजूर कर दी गयी है।


 

अन्यथा, भाषा की जा रही है।' 'नामंजूर कर दी गयी है। यह तथ्य कि एक शाश्वत पुत्र नहीं अलापते पथरीली ईसा ने स्पष्ट किया जाता है कि पूरे देश में बाइबल के कई अन्य धर्मग्रंथों 1:15 का कहना है कि ''क्राइसट Colossians की छवि को अदृश्य ईश्वर के सृजन के सभी FIRSTBORN" यूनानी शब्द का अर्थ है जिसके लिए 'FIRSTBORN"" या "पहली संतान prototokos 'पहली संतान है।' 'fi कहा जा सकता है कि कैसे क्राइसट

 

 

धर्मविग्यान Trinitarian नहीं मिलना बहुत ही शास् त्र साबित हो रहा है कि एक शाश्वत पुत्र के पुत्र नहीं थी। न ही की जा सकती है और साक्षियों की Jehovah Trinitarians मिलना दिव् य शास् त्र साबित करने की घोषणा की है कि किसी व्यक्ति के रूप में ही पवित्र आत्मा परमात्मा का पिता अत: यह स्वाभाविक ही है कि इससे सौहार्द धर्मशास्त्र हड़ताल करने के सभी शास् त्र है। व् याख् या कोई अन्य ग्रंथों से निपटने के लिए सभी बता सकते ईसा मसीह रक्षा की पहचान करने के लिए प्रयोग किए बिना भावनात्मक झुकाव मात्राओं है।

 

 

यदि यह सच था कि राज्य को धर्मग्रंथों के बाद Trinitarianism पुत्र और पवित्र आत्मा हैं

और दो अलग अलग व्यक्तियों, दैवी हमेशा संचार के क्षेत्र में एक-दूसरे के साथ साथ ईश्वर पिता से उतने बरस पहले पिता को हमेशा एक पिता से पुत्र और भावना और पुत्र पिता और पुत्र को हमेशा की भावना है। अभी तक इस शास् त्र साबित करने के लिए ईश्वर के पुत्र अपने पिता के साथ रिश्ते इस कथित कभी ईश् वर की पवित्र आत्मा और पूरे अनंतकाल

 

 

बैशाली के लिए "जो देवताओं का कहना था कि वह किसी भी समय, आप मेरे बेटे, मॅँने इस दिन पूर्वजनित? और फिर, मॅँ उनके पिता होगा और वह मेरे पुत्र होगा।'' शब्दों को ''1:5 सूचना HEBREWS होगा और वह एक पिता से पुत्र को की जाएगी।" हम यहाँ मुझे स्पष्ट है कि वह यह देखें कि पिता और पुत्र संबंधों में उत्पन्न नहीं हुई, न होने पर उस पितृसत्तात्मक ओल्ड टेस्टामेंट-deluvian बार सिर्फ 'पुत्र के बाद का बना एक महिला (4:4)" के माध्यम से उनकी मां Galatians है। यही कारण है कि हमें नहीं पता किसी व्यक्ति के बीच कथित दिव्य संचार ओल्ड टेस्टामेंट है। पिता और पुत्र के संबंध में ही हो सकता है, लेकिन कभी न्यू टेस्टामेंट पुरानी है।

 

 

एक उद्धरण लेखक Hebrews Messianic Psalm 2:7 "ईश् वर में भविष्यवाणी YAHWEH] [ने

कहा है कि मु३ो अपने बेटे को प्रेरित करते हैं, तो आपको इस दिन मैं आपको क्या था? पूर्वजनित क्राइसट पूर्वजनित।" उन्होंने लिखा था जब इस Psalm एक हजार वर्ष पूर्व पूर्वजनित डेविड का जन्म हुआ था वह वास्तव में पूर्वजनित या अपनी मां से एक हजार वर्षो बाद मैरी? यहां हम देखते हैं कि "ईश्वर का आह्वान किया है जो उन बातों की स्पष्ट नहीं है कि वे (4:17)" Yahweh विविसंहिताएं, ईश् वर की बात तो यह है कि पुत्र अपनी पवित्र उपदेशकों के माध्यम से पहले से ही अस्तित्व में पहले वह वास्तव में पूर्वजनित है। यदि ठीक है तो हमें सत्य के शब् द को विभाजित करने मेंसख्रम होना चाहिए, अन्यथा हम समझते हैं और ईश् वर के बारे में सोचता है - जैसे अदूरदर्शी Yahweh होगा।' शब्द का अर्थ समझने में आवश्यक ईश्वर

 

 

अध्याय 11

 

में हड़ताल करने के देवता बाईबल

 

लेकिन तीन व्यक्तियों को नहीं है।

 

 

जॉन 14:23 की छाया से स्पष्ट रूप से सिद्ध होता है कि यह शंका नहीं हैं बल्कि अपने शब्दों के शब्दों की घोषणा के शब्दों में : "मैं अपने पिता को ईश्वर शब्द बोलने नहीं हैं, लेकिन मेरे पिता की।" यहां हमें स्पष्ट प्रमाण है कि शब्द था जिसे ईश् वर के साथ और मांस और विस्तार किया गया है।हमारे बीच ईश्वर को अपने पिता के एक शब्द नहीं है और दिव्य व्यक्ति के आरोप में तीन व्यबक्त देवता! यदि एक दूसरे दैवी सर्वशक्तिमान व्यक्ति जो coequal ईसा के बाद उन्होंने यह दावा नहीं है कि शब्दों के पिता क्यों बोले को अपने? एक व्यक्ति को दैवी ईडवर नहीं किया जा सकता तो वह सर्वशक्तिमान ही बात नहीं कर लिया| अत:, ईसा ने पास किया गया था कि देवता के देवता भगवान का पिता के शब्दों की घोषणा की थी।वास्तव में, शब्द ईश्वर की बात कही।


 

आरोप है कि प्रत्येक व्यक्ति को बराबर शेयर Trinitarianism दैवी शक्ति है। यदि वास्तव में एक दूसरे

से अलग अलग है और दिव्य coequal क्राइसट व्यक्ति ने अपने पिता से भिन्न है और दिव्य prerogatives अलग क्यों कि उन्होंने अपने लिए बोलने के लिए नहीं कर पाएंगे? यदि किसी दूसरे व्यक्ति, जो दैवी coequal मसीह को उसी राशि के बराबर शक्ति के पिता तो वह सर्वशक्तिमान क्यों? पिता की आवश्यकता परनिर्भर वर अपने मानवता को प्रस्तुत किया जा सकता है और दिव्य सत्ता और शब्दों के कथित coequal ईश्वर के पुत्र हैं।'' नामक व्यबक्त भगवानराम लेकिन यदि शब्द ईसा की वास्तव में शब्दों को ईश् वर के पिता (धर्मग्रंथों साफ किया जाना चाहिए तो वह ईश् वर के पिता)! इस आलोक में हम समझ सकते हैं कि उन्होंने कहा, "मुझे देखा है क्यों जिसस ने अपने पिता के 14:9) (जॉन देखा'' और ''मैं और मेरे पिताजी हैं (जॉन 10:30)!"


 

हड़ताल करने तथा अपने अनुयायीवर्ग Trinitarian धर्मग्रंथों का मानना है कि दोनों ही साबित करने के लिए पूरी मानवता और

ईसा की पूर्ण देवता बल्कि हमें विश्वास है कि Trinitarians जोड़ने के लिए ईश्वर को ठीक ढंग से समझ बाईबल धर्मशास्त्र है। अपने धर्मशास्त्र बनाने के लिए किसी तरह का मानना है कि उन्हें एक कथित coequal coeternal और अलग अलग और ईश् वर के पुत्र'' और ''नामक एक दैवी स्वयं मनुष्य का बदला करेंः। लेकिन इस सिद्धांत का विरोध करता ईश्वर के शब्दों में Malachi दृष् टिकोणों पर 3:6 राज्यों में जो परिवर्तन नहीं है, "मैं YAHWEH, मॅँ अपने गुणों की विधवा जो ईश् वर' और Omnipresence Almightiness ईश्वर का सही नहीं किया जा सकता।


 

धर्मविग्यान नहीं सिखाएंगे कि ईश्वर पिता खो मूल्योंके संवर्धन अपने गुणों की

जा रही वर्तमान] [omnipresence omnipresence साधन बनने के लिए मनुष् य और almightiness सर्वत्र मेरा यह मानना है कि खुदा के अनुयायी मूल्योंके संवर्धन शास् त्र साबित होगा [शब्द अपने पितरों के शब्द] [संविधान निर्माताओं की भावना और उनकी आत्मा एकाकार हो गये थे, जो पूरी तरह से ग्रहण करने के लिए [ईसा बच्चे के गुणों की सभी लिएजुर्माना (ईश् वर पिता से पूरी तरह मनुष्य ईश्वर शब्द और भावना के पिता) और अपनी मां से मैरी (जैसे एडम, सभी शख् के गुणों की मानवता)। क्राइसट कहा जाता है, ''पिछले एडम' (1:45) की कॉरिनथियंस पॉलिस्टा टीमें भाग 15, जैसे एडम गार्डन में वह ईश्वर द्वारा पैदा की ईडन गार्डन्स पर बिना किसी विशेष मोह अलौकिक रीति से जुड़े हैं।

 

 

ईश् वर के अवतार के पिता अपने शासनकाल शासन और सिंहासन स्वर्ग में हुए हमेंअर्थव्यवस्था स् वयं मनुष् य के रूप में पृथ्वी पर ईसा मसीह है। अत:, सभी के पास उनके पिता ईश्वर के सभी गुणों का दैवी prerogatives और संपूर्णता मुझमें अपने देवता भी विस्तार में ईसा (2:Colossians 8-12)। देवताओं के विपरीत, राक्षस, और मानवता की भावना भरने की भावना ही है, जो ईश् वर के पिता आकाश और पृथ्वी के साथ-साथ कई स्थानों पर बोलते और अधिनियम में सभी ईश्वर पिता की घोषणा की: ''24:23 जर्मिया नहीं हूँ।' इस पृथ्वी और आकाश भर के शदों में, ''मैंने कभी नहीं हैं....।'' ''हम न भरें देवता स्वर्ग' और पृथ्वी को भरने और न कभी ईश्वर का कहना है कि उसने तीन दैवीय आत्मा है। गुस्से में हमने पढ़ा है कि 2-3 1:"... ईश्वर की भावना के चेहरे पर उपस्थित रहते हैं। ईश् वर और कहा, "हमें

 

 

यहां हमें ईश्वर की भावना प्रकाश..." के चेहरे पर बढ रही है और तब अपने शब्द कहे परमात्मा ग्रह के अंतर्गत पानी कहते हैं, ''हमने यहां प्रकाश होना चाहिए।'' शब्द की भावना और ईश् वर के साथ-साथ उनकी आत्मा के कार्यवाहक बढ रहा है और धरती के स्वर्ग भरने के लिए "(23:24)" नीतिशास्त्र Trinitarian जर्मिया ने हमें विश्वास है कि ईश्वर की भावना होगी (ईश्वर के अतिरिक्त किसी व्यक्ति के एक कथित पिता दैवी तीसरे) और (ईश्वर के एक कथित दूसरी

 

 

''10:52 होगी Yahweh Isaiah खोलकर अपने पवित्र भुजा में सभी राष्ट्रों के दर्शन के अनुसार 53:1 Isaiah..." का एक अंग है, ''चला Yahweh मसीह, जिसने अपनी रिपोर्ट माना जाता है? और जिनके लिए यह पता चला है कि यदि मसीह?'' का एक अंग YAHWEH Yahweh कैसे वह एक अंग है? 38:18 "... Ezekiel Yahweh ईश्वर में कहते हैं, जब मैं भूमि के विरुद्ध आ Gog …इसराइल के प्रकोप का सामना करना होगा।' में मेरे सामने आयेगा।

 

 

यदि ईश्वर के तीन अलग-अलग अलग व्यक्तियों की तीन व्यबक्त त्रिमूर्ति और दिव्य तब यह कैसे हो

कि ईश् वर का केवल एक पवित्र व् यक् ति के रूप में अपने ही बोलता है और मोक्ष के सृजन में निर्णय है? केवल एक ही सामना कैसे कर सकते हैं और ईश् वर को मान रहे हैं जब दो अन्य लोगों के चेहरे पर दो अन्य पवित्र है? जहां दूसरे दैवी चेहरों की कथित तीन दैवी व्यक्तियों की त्रिमूर्ति में शास्त्र हैं? कोई भी एक ही छंद बाइबल Trinitarian पता कर दिखाना है कि ईश्वर के तीन तीन व्यक्तियों के चेहरे, दैवी? यदि नहीं, तो हमें चुप हो जहां धर्मग्रंथों खामोश हैं। एक व् यक् ति और ईश् वर को तीन दैवी!

 

 

चूंकि यह स्पष्ट है कि "ईश्वर है धर्मग्रंथों की भावना' (4:24) और चूंकि यह भावना जॉन केवल एक

भावना (6) नहीं किया जा सकता:4 Ephesians एक से अधिक की भावना Yahweh ईश्वर है। यदि ईश्वर पिता की भावना है फिर पवित्र आत्मा परमात्मा की भावना होनी चाहिए। एक कविता में संपूर्ण नहीं है बाइबल के प्रयोग के लिए" "शब्दों में बहुवचन छोटेगिलास या व्यक्तियों के देवता भगवान ईश्वर है। अभी Trinitarians आग्रह है कि ईश्वर की बात अवश्य कट्टर ईसाई सभी की बहुलता दिव्य आत्मा है। अगर किसी भाषा का प्रयोग करने के लिए नहीं dares पंथीय Trinitarian के रोमन कैथोलिक चर्च वह ढाली रूप है. विधमीऩ

 

 

जाने वाले ईसाई गिरजाघरों Trinitarian क्यों नहीं होना चाहिए।उनकी पहली

शताब्दी के लिए जी-हजूरी करते फिरते heretics Pastors दिलाने के बाद का उपयोग नहीं है। शब्दावली Trinitarian प्रथम शताब्दी से ईसाई साफ नहीं थे heretical Trinitarian शब्दावली का प्रयोग न करने के बाद यह कैसे कहा कि आधुनिक शब्दावली का प्रयोग न करने वाले ईसाई दिन अब heretics Trinitarians? जब किसी व्यक्ति की स्थिति के बारे में सोच Trinitarian युक्तिसंगत और खुले मन (आदमी या फिर औरत) को इस निष्कर्ष पर पहुंची है कि बहुत कुछ गड़ेबड़ी का संपूर्ण इतिहास में नस्लीय संहारकों ईसाई


 

Trinitarians आग्रह है कि प्रत्येक ईसाई और प्रत्येक शब्द का प्रयोग करना चाहिए.'' त्रिमूर्ति ईसाई चर्च के साथ-साथ ''तीन अलग अलग अलग शब्दावली Trinitarian दिलाने के देवता और दिव्य व्यक्तियों को

इस प्रकार की तो अभी' unscriptural पंथीय भाषा है ताकि आवश्यक है तो इस प्रकार का उपयोग क्यों नहीं की मूल भाषा का वर्णन करने के लिए जी-हजूरी करते फिरते कभी ईश्वर का सार की जा रही है? और यदि आवश्यक हो तो क्यों Trinitarian पंथीय भाषा में इसे पूर्णत: विकसित करने के लिए इस सिद्धांत पर चार शताब्दियों के रोमन कैथोलिक चर्च द्वारा राज्य हैं? प् लान के मूल्योंके संवर्धन, ईसाई धर्म-ग्रंथों के प्रयोग में विश्वास Trinitarianism स्वयं को परिभाषित करने की इच् छा के सिद्धांत की बजाय पंथीय सिद्धांत के कैथोलिक चर्च पर है।

 

 

इसके विपरीत, Trinitarianism को जोड़ने के लिए, शब्द नहीं संव र्धित हड़ताल करने में ईश् वर की हमारे विश्वास

है कि ईश् वर में उनकी दैवी का सार है। यह स्पष्ट है कि ईश्वर की घोषणा की है, ईश् वर की छवि को अदृश्य एक्सप्रेस Hebrews व्यक्ति (1:15) 1:3 / Colossians 3:20 Galatians स्पष्ट है कि "ईश्वर है।'' शब्द "व्यक्तियों ने एक व्यबक्त का प्रयोग कभी PLURALLY बाइबल में है।

 

 

अत: इसका पुरजोर विरोध श्रवणों हड़ताल करने के प्रयोग का वर्णन करने वाले व्यक्तियों का सार वह ईश् वर के शब्द परिलक्षित होता जा रहा है। यदि वे ईसाइयों ९ो विश्वास है कि ईश्वर के तीन लोगों के लिए एक त्रिमूर्ति दिव् य जीवन के शाघवत तब क्यों नहीं? शब्दावली का प्रयोग इस प्रकार का ही बाइबल यदि यह यंत्रों के तीन अलग-अलग दैवी लोगों त्रिमूर्ति बाइबल तो हमें यह बताना चाहिए कि 'तीन coequal बुराइयां और दिव्य' coeternal व्यबक्तयोन के तीन अलग-अलग और स् पष् ट आत् माओं के मन में नाम और सिंहासन!

 

 

संव र्धित मूल्योंके संवर्धन" "एक शब्द का प्रयोग किया जा रहा है क्योंकि वे ईश्वर के सार तत्व का वर्णन करने के लिए बार-बार 'एक' शब्द का उपयोग बाइबल के सैकडों बार का वर्णन करने के लिए अपनी दिव् य का सार मेरा विश्वास है कि ''में हड़ताल करने के लिए ईश्वर को मानते हैं कि ईश्वर और अविभाज्य रूप में एक अत्यंत यहां तक कि ईश् वर का नाम का प्रयोग किया जाता है जो Yahweh 6,800 से अधिक बार बाइबल में 'स्व' Yahweh शाब्दिक अर्थ अस्तित्व ही नहीं चुनते हैं, जिसका अर्थ यह है कि स् वयं ईश् वर के लिए एक नाम 'स्व' ख तीन स् वातंत्र्य

6:4 Deuteronomy सच का पता चलता है: "ओ सुनने की संख्या में ईश्वर की जा रही है, अपने देवता है

।"

 

 

Yahweh इसराइल Yahweh अनुवाद तो हम इस आयत को अंग्रेजी में ईश् वर के नाम पर हम 6:4 Deuteronomy पढ़ सकते हैं :- "इसरायल, स्व-अस्तित्व ही आपके सुनने ओ देवता एक स्व-स् वातंत्र्य" ईश्वर का कोई गूढ़ार्थ नहीं चुना है और अपनी भाषा का वर्णन करने का सार यही कारण है कि धर्म के ईसाई धर्मशास्त्र हड़ताल करने में विश्वास रखने वाले Apostolic अपील का विश्वास और उपदेशकों के लिए जी-हजूरी करते फिरते हिब्रू मूल शब्द "ए" पर जोर दिया गया है कि ईश्वर की बजाए दिव् य का सार 3.''शब्द की घोषणा के नाम से हिब्रू में 'स्व-स् वातंत्र्य Hashua (Yahweh) शाब्दिक अर्थ है.''वे अवश्य है कि आत् मा की बचत होती है एक बराबर है। हमें बचाने

 

 

अध्याय 12

समझने

के बीच भेद पिता और पुत्र

हम यह सम३ा सकते तो कैसे ईश् वर के बीच भेद स्पष्ट और पिता

और पुत्र तो उसका विश्वास है कि ईश्वर की घोषणा की है, ईश् वर की छवि एक्सप्रेस के पिता के

व्यक्ति (Hebrews 1:3)? ईश्वर की बात स्पष्ट रूप से न्यू टेस्टामेंट के लेखकों के पिता है।

 

 

व्याकरण, ईसा की पहचान नहीं है, जो ईश् वर के साथ अधिकतर पाठांशों का

ईश् वर और ईसा की बात है शास्त्र फिर भी जैसा कि हमने पहले देखा गया है,

''के रूप में पहचान की स्पष्ट और उपदेशकों जी-हजूरी करते फिरते ईसा'' और ''खुदा बाप' (देखिए शाघवत शक्तिशाली Isaiah 14:9:6:27 से 21 जान का पंजीयन नहीं कराए; जॉन-

28; 1:20, 1:8) प्रकटीकरण जॉन 5.

 

 

चूंकि ग्रंथों ईश् वर और एक व्यक्ति, एक बात दो ईसाई अवश्य मानना

है कि इन दो तरीकों से ईश् वर का अस् तित् व नहीं हैं, न देवी-देवताओं के दो अलग-अलग है और

दिव्य व्यक्तियों में से एक है, जो ईश् वर कहलाता है; बल्कि भावना और एक व्यक्ति को जो ईश्वर का केवल

एक मनुष्य के रूप में अवतार मांस उनके लिए 'में निवास करता है, सभी शारीरिक रूप में देवता की संपूर्णता

Colossians (2:8)" दिव् य का सार ईश्वर की जा रही

है वह भी एक अत्यंत रहता है या किसी व्यक्ति को अपने फूलने में पूर्णतया अलग अस्तित्व

को बचाने के उद्देश्य से हम अपने पाप है। चूंकि प्रत्येक व्यक्ति बन गया, ईश् वर के अर्थ में नहीं है

और न ही उन्होंने इस बहाने को शह कौड़ियों के लिए प्रार्थना करते हैं लेकिन वह वास्तव में एक मनुष्य के रूप में किया गया था

और उसे वास्तव में एक व्यक्ति के रूप में फ़र्क ने सभी मनुष्यों के रूप में काम करने के लिए प्रार्थना की आवश्यकता तथापि, इन मानव अनुभव

नहीं करते, ईश् वर के रूप में उनकी सही पहचान इमेन्युअल उनकानैतिक पतन से हमें एक व् यक् ति के रूप में है।

 

 

अगर भगवान ने मात्र 4.5 में वह एक बाह्य कवच मानव देह में वास्तविक निकाय है

तो यह नहीं कहा जा सकता है कि ईसा मसीह रक्षा की घोषणा की थी। यहां तक

कि ईश् वर मनुष् य को धर्मशास्त्र Trinitarian बन गया, हर अर्थ में और प्रार्थना के लिए कौड़ियों

के शैतान है।

 

 

Trinitarian धर्मशास्त्र का भी मानना है कि एक दूसरे दैवी आत्मा व्यक्ति

अपने अकायद नहीं किया जा सका, omnipotence omniscience omnipresence और मनुष् य के

बिना उल्लंघन Malachi 3:6 हो गई जिससे राज्यों में, ''मैं YAHWEH, मॅँ

एक दूसरे दैवी परिवर्तन नहीं।" यदि क्राइसट थीं, जो ईश् वर के साथ coequal व्यक्ति वर पिता फिर उनकी आवश् यक

लक्षणों के देवता यथावत रहेगा। (स्वर्गीय) जैसे दैवी व्यक्ति अपनी

जगह की जा रही वर्तमान) और धमार्थप्रयोजनार्थ omnipresence (शक्ति है।

 

 

 

ईश् वर के रूप में दैवी गुण, जो अपने हाथों का सही कहा जा सकता ईश् वर

एक ही रास्ता है कि देवता की जा सकती है।" "पृथ्वी और आकाश भर ईसा की पवित्र आत्मा को ईश् वर के

पिता है। हालांकि उन्होंने कभी अपने अकायद को ईश् वर मनुष् य बन गया।देवता के

रूप में आवश्यक गुण ईश्वर पिता है।

 

 

अभी तक एक दूसरे का आरोप है कि जो व्यक्ति के समान ही, दैवी Trinitarians सर्वशक्तिमान

ईश्वर पिता और शक्तिशाली परित्याग करना पड़ा उनका आवश्यक गुण देवता के लिए

एक व् यक् ति है। लेकिन यदि कोई व्यक्ति जिसे "ईश्वर के पुत्र' दैवी कथित दूसरी उनकी खो सकता

[omnipresence सर्वत्र आवश्यक दिव्य गुण जैसे वर्तमान] [omniscience और

फिर 3:6] knowingness सभी कैसे Malachi सच है जो राज्यों को "मैं YAHWEH, मॅँ परिवर्तन

नहीं है?''

 

 

यह पूछना चाहिए कि किस प्रकार एक कथित दूसरी Trinitarians दैवी व्यक्ति जिसे ईश्

वर तो उनकी सही हो सकता है या किसी व्यक्ति की जा रही हैं और उनकी अपनी शक्ति, भगवान All-Knowingness उनकी योग्यता

को सर्वत्र मौजूद है. लेकिन अगर हम अपने पिता की घोषणा की है, ईश् वर एक व् यक् ति के रूप में परिलक्षित है

तब हम देख सकता हूं कि ईश् वर के रूप में अपने पिता की धारणा, जो

पृथ् वी और आकाश भर अमर गुण हैं, जबकि इस पृथ्वी पर मसीहा के रूप में अपने अपययपूर्ण क्राइसट मानवता के विपरीत, ईश् वर से

अनंत भावना भर देती है और धरती के स्वर्ग मानवता के विपरीत, ईश् वर और साफ कर सकते हैं

और उनकी उपस्थिति सपा

ईश्वर के बारे में कुछ बातें पहले पता चल रहे हैं।

 

 

इस स्थिति में कुछ कठिनाइयां सम३ाने के साथ ही Trinitarian

अवतार के रूप में हड़ताल करने की स्थिति है। हाबर्दक रूप में ईश् वर से प्रार्थना की घोषणा नहीं कर सकते थे, उन्होंने

एक व् यक् ति के रूप में यह प्रार्थना करते हैं। क्राइस् ट प्रलोभन न था कि ईश् वर का कहना है कि

''नहीं किया जा सकता क्योंकि बाइबल (1:13) के अध्यक्ष जेम्स प्रलोभन बुराई" अत: हम जानते हैं कि ईसा ने

मानव पूरी करने के लिए प्रार्थना और कौड़ियों के शैतान है। रहस्यमय है ताकि यह कितना

कठिन है और हमारे लिए असीम के मन को समझना है। यही कारण है कि 16 राज्यों में 3:1 टिमोथी

बड़े रहस् य है, ईश् वर में मांस godliness..."

 

 

अर्थात् सर्वशक्तिमान ईश्वर को कैसे किया जा सकता है कि एक व्यक्ति के रूप में मानव शरीर में शायद सबसे

चमत्कारिक रहस्य के समय। सभी जानते हैं कि मनुष् य का स् पंदन कैसे कर सकते हैं और आश्चर्य

की असीम ईश्वर के तरीके हैं? हमें लोगों को असीम विनम्र मानता हूं कि

ईश् वर के बारे में कुछ ऐसी बातें हैं कि केवल 'unsearchable' अनंत हमारे लिए पूरी तरह से परिचित है। की

असमर्थता का वर्णन समानक पॉल पुरोधा असीम ईश्वर को पूरी तरह से समझ में असीम दिमाग

में लिखा,

''जब विविसंहिताएं 11:33 बजे तक की गहराई से धन दोनों को ईश् वर के ज्ञान!

 

 

अपने और अपने निर्णयों unsearchable कैसे हैं।' हालांकि दोनों Trinitarian तरीके ढूंढने अतीत का मानना है कि राज्य को धर्मग्रंथों और हड़ताल करने धर्मवेत्ताओं कि ईश् वर और मनुष् य को पूरी तरह से पूरा नहीं कर पा रहे हैं, अत्यंत Trinitarian मूल्योंके संवर्धन और शिख्रकों को समझाने के लिए पर्याप्त रूप से अपने दर्शकों को ठीक किया जा सकता है कि इस विरोधाभास है। हम सभी का विवरण देता है। कभी बाइबल बाइबल और न कभी हमें मैकेनिक्स जिसके द्वारा देवता बना है। हमें विश्वास है कि ईश् वर और उसके चमत्कारी योग्यता में केवल ''

 

 

व् यक् ति के रूप में हमारी उद्धारक ईसा मसीह' और सीढियां उतरकर

यह भी मानते हैं कि दोनों मूल्योंके संवर्धन और ईसाई Trinitarian कई सवाल

उठता है कि ईसा मसीह अवतार के बारे में ईश् वर की व्याख्या करना बहुत कठिन है।

 

 

हाल ही में कुछ बातें हैं कि ईश्वर के बारे में बहुत गहरी जाना ही पूरी तरह ु९छहो पुरुषों द्वारा स् पंदन

सावधान होना चाहिए कि वे ईसाइयों के सभी अभी ईश्वर के प्रति वफादार नहीं जोड़ या

ईश् वर से detracting शब्दों में व्यक्त किया। अधिकांश Apostolic आस्था Pentecostals बहुत सावधान नहीं हैं

जब वे शब्द जोड़ना ईश् वर का स्पष्ट करने का प्रयास किया जा रहा है उसके रहस्योद्घाटन स्व-बहुवचन प् लान, अधिकांश

Trinitarians डर नहीं हे कि शब्दावली का प्रयोग करने के लिए गैर-बाईबल

कई शताब्दियों के रोमन कैथोलिक चर्च द्वारा विकसित किया गया है।

 

 

अध्याय 13

यह आपके चर्च का स्वागत जी-हजूरी करते फिरते हैं?

स्वीकार करना चाहिए कि पहली शताब्दी Trinitarians जी-हजूरी करते फिरते थे

कि ईश्वर से परिचित कराने के बाद Trinitarian शब्दावली बताते हुए तीन अलग अलग

व्यक्तियों और दिव्य coequal, coeternal कुछ समय से विचार करना चाहिए कि क्या त्रिमूर्ति विश्वासकरना ईसाई या

ईसाई बेहत्तरबनाने Trinitarian नहीं होगा कि वह आज की पहली शताब् दी ईसा की जी-हजूरी करते फिरते अस्वीकार

इक्कीसवीं सदी में रह रहे थे तो वे हैं। कॉल के अगुआ थे

या नहीं Trinitarians भी "cultic heretics पॉल पुरोधा पीटर' के नाम की घोषणा में baptizing क्राइसट केवल? वेन तो भी पहली शताब्दी के लिए जी-हजूरी करते फिरते ब्रांड के बाद Trinitarian heretics स्वीकरण नहीं?

 

 

शब्दावली वे न तो 'अस्वीकृत' बोल दूसरों से ज्यादा पॉल जिह्ववा

14:18) की कॉरिनथियंस पॉलिस्टा टीमें भाग 1 (है?

यदि मूल जी-हजूरी करते फिरते रह रहे थे कि वे संप्रदाय

का स्वागत में आज क्या है? अपने आप से पूछना चाहिए कि किस प्रकार एक गैर-ईसाई Trinitarian बाईबिल के सिद्धांत को स्वीकार करने की आवश्यकता है जो ईसाई unscriptural भाषा को सहेजा जाना स्वीकार किया जाना चाहिए जबकि मूल शिख्रण की पहली शताब्दी जी-हजूरी करते फिरते अस्वीकृत कर दिया जाए। Trinitarians क्यों नहीं

baptized द्वारा पूर्ण शारीरिक प्रतिमाओं को नाम की

पुस्तक में ईसाई जैसे प्रथम ईसा मसीह रक्षा के अधिनियमों? यदि यह सच है और दिव्य coeternal coequal त्रिमूर्ति तीन व्यक्तियों, तब

क्यों नहीं की पहली शताब्दी के प्रथम संव र्धित जी-हजूरी करते फिरते और शीघ्र ईसाई तीन

शताब्दियों तक कभी ऐसी भाषा का प्रयोग करें?

 

 

यदि उनके साथियों का पालन करेंगे, ईसाई मूल्योंके संवर्धन खुशियां Trinitarian

प्रयोग रोकने के लिए यह था कि गैर-बाईबल' कीशब्दावली Trinitarian विकसित कुछ सदियों के बाद

न्यू टेस्टामेंट लिखा गया था। यदि इस शताब्दी के प्रथम युग में जी-हजूरी करते फिरते ईसाई नहीं

करना आवश्यक है तो बाद में रहने वाले ईसाई क्यों शब्दावली पंथीय Trinitarian शताब् दियों महसूस करने को मजबूर कर सकते हैं? यदि हम यह कह सकते हैं कि हम प्रयोग करने के लिए मजबूर हैं कठोपनिषद स्वास्थ्य कार्यकर्ता अक्सर पहले 30:6 "ईश्वर के शब्दों को जोड़ नहीं है [शब् दों का झूठा पाया जाए तो आप लेवी] " की शाबाशी और 1:Galatians 8-9 "...।

 

 

लेकिन आप परेशान है कि कुछ हो जाएगी और ईसा की गास्पेल का pervert है। लेकिन, हमें उपदेश के माध्यम से एक या किसी अन्य गास्पेल एंजेल आकाश से अधिक है तो आप को आप के पास whichwe प्रवचन आमरण अनशन किया जाना चाहिए।" accursed उसे सरासर सच लाखों ईसाई यातनाएँ दी गई और मौत के बाद से इनकार करने और कैथोलिकों दोनों प्रोटेस्टेंट अपनाने की

धारणा है कि ईश् वर में निवास करता है, जो कि शब्दावली unscriptural दृढ़तापूर्वक सीमित करने वाले कुछ नियम भी स् पष् ट है और दिव्य आत्मा की तीन अलग अलग व्यक्तियों की त्रिमूर्ति है।

 

 

प् लान, एक ऐतिहासिक अभिलेख नहीं है जो

लोगों को मौत के लिए धनराशिप्रदान मूल्योंके संवर्धन ईसाई धर्मशास्त्र मूल्योंके संवर्धन को अस्वीकार कर कभी इस ऐतिहासिक तथ् य के

कारण केवल उन महान अलार्म के बीच हे Trinitarian धर्मशास्त्र अपनाया।

 

 

आप जानते हैं कि उनके द्वारा उन्हें जिसस ने कहा है कि "फल"

नोट: के रोमन कैथोलिक चर्च पहले शुरू

होने के बाद 1398 में कथित तौर पर 385 सार्वजनिक executions heretics Trinitarianism परिषद के Constantinople को अंगीकार किया जा सकता इसलिए 1398 381 में स्पष्ट रूप से यह सुनिश्चित

करने में सहायक थे जिन्होंने कैथलिक विशप्स Trinitarian Trinitarian धर्मशास्त्र के साथ

कथित हत्या के लिए प्राधिकृत किया है जो बिशप्स heretics हड़ताल करने में विश्वास रखते थे जिन्होंने धर्मशास्त्र है।

 

 

मेरे ई देख रहे हैं?'' नामक पुस्तक में विश्व धर्मो के अंतर्गत उदार Popes निर्दोष है

truegospelofjesus.org | हमें बताएं कि ''शैतान' ग्रंथों में 'जो पूरे विश्व deceives' (इसराइल के यहूदियों - दोनों गौहत्या करते प्राकृतिक रहस्योद्घाटन 12:13) और सच्चा आध्यात्मिक "इसरायल के देवता' (6:16) - Galatians चर्च केथोलिकों और प्रोटेस्टेंट हैं। Trinitarians दोनों केथोलिकों

एथलीटों की बहुत बड़ी संख् या में दोषी पाया गया है, जो यहूदी और त्रिमूर्ति को अस्वीकार लाखों

Anabaptists (Anabaptist साधन पुन: अस्वीकार कर रही है जो) baptized trinitarianism

baptized बाहर के नाम की घोषणा (त्रिमूर्ति)। इसके बाद प्रोटेस्टेंट के विरोध में

कुछ unscriptural व्यवहार के बाद, वे उसी अपराध

की कैथोलिक चर्च द्वारा यातना और वे सामान्य मादा समझा जाता है। heretics

मांस के लिए ये हैं कि ''जन्म के बाद उन जबराजनीतिक परिवर्तन होते हैं (4:29) की भावना Galatians'

की भावना कभी जबराजनीतिक परिवर्तन होते हैं, लेकिन उन लोगों का मांस

Please reload

C O N T A C T

© 2016 | GLOBAL IMPACT MINISTRIES